पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023 | हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana ऑनलाइन आवेदन, कार्ड डाउनलोड | पंडित दीनदयाल उपाध्याय कैशलेस चिकित्सा हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन, हॉस्पिटल लिस्ट – उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों के लिए राज्य सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023 की शुरुआत की है। इसके माध्यम से उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले सभी सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को कैशलेस इलाज की सुविधा मुहैया करवाई जाएगी। इस सुविधा के अंतर्गत वह सामान्य एवं गंभीर बीमारी के लिए प्रतिवर्ष पांच लाख रूपये तक का कैशलेस इलाज करवा पाएंगे। Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana के तहत राज्य की सरकार सभी पात्र नागरिकों के लिए स्वास्थ्य कार्ड जारी करेगी, जिसका उपयोग करके वह एम्पैनलड अस्पतालों में अपना इलाज निशुल्क ही करवा सकेंगे। [यह भी पढ़ें- एंटी-करप्शन पोर्टल उत्तर प्रदेश: शिकायत पंजीकरण (Anti Corruption Portal UP)]

Table of Contents

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023

राज्य में रहने वाले सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनरों के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का शुभारंभ किया है, जिसके अंतर्गत सभी पात्र नागरिक अपना इलाज राज्य सरकार द्वारा निशुल्क ही करवा पाएंगे। इस निशुल्क इलाज सुविधा में होने वाला पांच लाख तक का खर्च राज्य सरकार द्वारा देय होगा। राज्य की सरकार सभी आवेदनकर्ताओं को ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड मुहैया कराएगी, जिसका इस्तेमाल करके पात्र नागरिक Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana का लाभ ले पाएंगे। 7 जनवरी 2023 को मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद जी द्वारा इस योजना को पुरे राज्य भर में लागु कर दिया गया है। [यह भी पढ़ें- Meebhoomi AP: Search ROR-IB Land Records (meebhoomi.ap.gov.in)]

इसके साथ ही उन्होंने यह भी स्पष्ट किया है कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस हेल्थ कार्ड योजना का लाभ सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों के साथ-साथ उनके परिवार के अन्य सदस्यों को भी उपलब्ध कराया जाएगा। उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा जारी इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वित होने से राज्य में रहने वाले लगभग तीस लाख नागरिकों को लाभान्वित किया जाएगा। [यह भी पढ़ें- यूपी कृषि उपकरण सब्सिडी योजना 2023: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, Krishi Yantra Subsidy स्टेटस]

30 लाख से अधिक नागरिकों को प्राप्त होगा लाभ

राज्य सरकार द्वारा निजी अस्पताल, मेडिकल कॉलेज, सरकारी चिकित्सा संस्थानों के माध्यम से इस योजना का लाभ प्रदान किया जायेगा। चिकत्सा संस्थानों व मेडिकल कॉलेज हेतु चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा 200 करोड़ रुपए का कॉपर्स बनाया गया है और जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ रुपए का कॉपर्स सरकार द्वारा बनाया गया है। इसके अंतर्गत सरकारी चिकित्सालय को इलाज पर खर्च होने वाली 50% धनराशि कॉपर्स फंड के माध्यम से देनी होगी, शेष 50% की धनराशि वित्त विभाग द्वारा उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने की स्थिति में प्रदान की जाएगी। इसके अलावा इलाज की सुविधा के साथ-साथ वर्तमान व्यवस्था के अनुरूप इलाज होने के पश्चात चिकित्सा प्रतिपूर्ति विकल्प भी लाभार्थी को दिया जाता है। इस योजना के अंतर्गत सरकार ने 30 लाख नागरिको को लाभ प्रदान करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। [यह भी पढ़ें- (रजिस्ट्रेशन) विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन स्टेटस]

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana

Narendra Modi Schemes List

Overview of Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana

योजना का नामपंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
आरम्भ की गईउत्तर प्रदेश रही की सरकार द्वारा 
वर्ष2023 में
लाभार्थीराज्य में रहने वाले पात्र सरकार कर्मचारी एवं पेंशनर
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यनिशुल्क इलाज सुविधा
लाभपांच लाख तक का निशुल्क इलाज कार्ड 
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटhttps://sects.up.gov.in/

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023 का उद्देश्य 

सभी सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनरों को परिवार सहित निशुल्क इलाज सुविधा का लाभ प्रदान करने के प्रयोजन से ही Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana को शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत राज्य की सरकार सभी लाभार्थिओं को स्वास्थ्य कार्ड बनाकर देगी, जिसका उपयोग करके वह अपना समान्य एम गंभीर इलाज करा पाएंगे। राज्य भर में बहुत से ऐसे नागरिक है जो आयुष्मान कार्ड का लाभ लेने के पात्र नहीं होते, और आर्थिक रूप से सशक्त न होने के कारण अपना इलाज नहीं करवा पाते है। ऐसे नागरिकों की मदद करने के उद्देश्य से ही पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023 को लागु किया गया है। जिसके माध्यम से सभी पात्र लाभार्थी अपना इलाज राज्य सरकार द्वारा निशुल्क ही करवा पाएंगे।, और उनके इलाज में होने वाला सारा खर्च राज्य सरकार द्वारा दिया जाएगा। [यह भी पढ़ें- |upssb.in| यूपी असंगठित कामगार रजिस्ट्रेशन 2023: ऑनलाइन आवेदन, स्टेटस चेक]

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कौशल चिकित्सा योजना का कार्यान्वयन

  • उत्तर प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों और उनके परिवारो के आश्रित सदस्य को कैशलेस चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने हेतु, इस योजना के अंतर्गत कॉपर्स फंड का प्रावधान किया जायेगा। 
  • वित्त विभाग से उपयोगी प्रमाण पत्र प्रस्तुत करके उपचार के समय होने वाली अग्रिम कॉपर्स फंड की आवंटित धनराशि 50% बाकि रह जाने पर अतिरिक्त रकम की मांग की जा सकेगी। 
  • कोई भी अधिकतम सीमा, कैशलेस सुविधा हेतु निर्धारित नहीं की गई है, और स्टेट हेल्थ कार्ड के ज़रिये से लाभार्थी की पहचान की जाएगी। 
  • लाभार्थी की पहचान करने के बाद इस योजना के अंतर्गत चिकित्सालयों में भर्ती करवा कर निशुल्क चिकित्सा प्रदान की जाएगी। 
  • बिल का समायोजन चिकित्सालयों को दिए गए फंड के माध्यम से किया जायेगा, और वह दवाई जो खाद्य वस्तु, टॉनिक अथवा प्रसाधन के रूप में प्रयुक्त की जा रही है, उन दवाओं की बिलिंग अनुमान्य नहीं होगी। इन दवाओं का भुगतान लाभार्थी स्वंय करेंगे। 
  • कैशलेस सुविधा का कार्ड बनने तक उपरोक्त राजकीय चिकित्सा संस्थानों व अस्पतालों में अंत रोगी के रूप में कार्यवाही की गई चिकित्सा के हॉस्पिटल चिकित्सा अधीक्षक द्वारा सत्यापित बीजक के आधार पर प्रशासनिक विभाग के माध्यम से पूर्ण प्रतिपूर्ति कराई जाएगी। ऐसे बीजक का परीक्षण मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कराना ज़रूरी नहीं होगा। 

स्टेट हेल्थ कार्ड

  • वह सभी नागरिक जो इस योजना के अंतर्गत पात्र है, उन सभी के लिए स्टेट हेल्थ कार्ड बनवाया जायेगा। 
  • इन कार्डो के ज़रिये से हितग्राहियो की पहचान की जाएगी। पहचान करने के बाद उनको कैशलेस चिकित्सा उपलब्ध कराई जाएगी। 
  • लाभार्थियों हेतु बनवाये जाने वाले इन कार्डो में हितग्राहियो के विवरण के साथ उनके परिवार के आश्रित सदस्यों का विवरण भी दर्ज होगा। 
  • चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधीन कार्यरत सचिव की ऑनलाइन हेल्थ कार्ड बनाने की ज़िम्मेदारी होगी, जोकि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की स्टेट नोडल एजेंसी है। 
  • इसके अतिरिक्त एक संयुक्त निर्देशक के अधीन एक पृथक सेल की स्थापना इस योजना के कार्यान्वयन के लिए की जाएगी। जिसमें 2 चिकित्सक, 2 डाटा एनालिस्ट, 1 सॉफ्टवेयर डेवलपर, 2 कंप्यूटर ऑपरेटर, 2लेख कार एवं 1 सहायक स्टाफ शामिल होंगे। 

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई पंडित दीनदयाल उपाध्याय कैशलेस चिकित्सा हेल्थ कार्ड योजना के माध्यम से सभी आवेदनकर्ताओं को बहुत से लाभ होंगे, जिनमे से कुछ इस प्रकार है: –

  • Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana का शुभारंभ भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में किया गया है। 
  • इस योजना के अंतर्गत राज्य में रहने वाले सभी पात्र सरकारी कर्मचारियों एवं पैंशनरों को निशुल्क इलाज से लाभान्वित किया जाएगा। 
  • सभी लाभार्थी नागरिक इस योजना के माध्यम से अपना पांच लाख तक का कैशलेस इलाज करा सकते है।
  • राज्य की सरकार ने 7 जनवरी 2023 को पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023 की शुरुआत की है, जिसे शासन के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद जी दूर जारी किया गया है।
  • सभी सरकारी कर्मचारियों एवं पेंशनरो के साथ-साथ उनके परिवार के सभी सदस्य भी इस योजना का हिस्सा होंगे, और अपना इलाज करा पाएंगे। 
  • उत्तर प्रदेश राज्य की सरकार सभी पात्र आवेदनकर्ताओं को ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड जारी करेगी। 
  • जिन नागरिको के पास यह ऑनलाइन स्टेट हेल्थ कार्ड होगा केवल वही इस योजना के माध्यम से अपना निशुल्क इलाज करा पाएगा। 
  • आवेदकों को यह कार्ड स्टेट एजेंसी फॉर हेल्थ इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा प्रदान किया जाएगा, जिसका उपयोग करके पात्र लाभार्थी अपना इलाज करा पाएगा। 
  • विभाग अध्यक्षों को राज्य सरकार द्वारा यह निर्देश दिए गए है कि उनके विभाग के सभी कर्मियों एवं पेंशनर्स के स्टेट हेल्थ कार्ड बने होने चाहिए।
  • इसके साथ ही जो नागरिक निजी अस्पताल में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत बीमारों का उपचार कर रहें है, वह भी इस सुविधा का लाभ ले पाएंगे।
  • इस योजना का लाभ राज्य के सरकारी चिकित्सा संस्थान, निजी अस्पताल, एवं मेडिकल कॉलेजो द्वारा भी प्रदान किया जाएगा।
  • चिकित्सा शिक्षा विभाग ने चिकित्सा संस्थानों एवं मेडिकल कॉलेजों के लिए 200 करोड़ रुपए एवं जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ रुपए का कलेक्शन तैयार किया है। 
  • इसी कलेक्शन फंड की मदद से ही सरकारी चिकित्सालय को इलाज पर होने वाली खर्चा धनराशि का 50% प्रदान किया जाएगा। 
  • इसके इलावा बाकी बची 50% खर्चा धनराशि उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा करने पर वित्त विभाग द्वारा प्रदान की जाएगी।
  • Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojana 2023 के सफलतापूर्वक जारी हो जाने से 30 लाख से अधिक नागरिकों को लाभ पहुंचेगा।

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Chikitsa Yojna पात्रता मापदंड

उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले नागरिकों को कैशलेस चिकित्सा योजना का लाभ लेने के लिए निम्न बताई पात्रता मानदंडों का पालन करना अनिवार्य होगा। 

  • जो आवेदनकर्ता उत्तर प्रदेश राज्य का स्थाई नागरिक होगा केवल वही इस लाभ का योग्य पात्र माना जाएगा। 
  • केवल सरकारी कर्मचारी एवं पेंशन होल्डर ही इस पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023 का लाभ प्राप्त करने के उचित पात्र है।
  • आवेदक के पास योजना के अंतर्गत अपना आवेदन करते समय सभी आवश्यक दस्तावेजों का होना लाजमी है। 

आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  • पारिवारिक आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • राशन कार्ड 

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना आवेदन प्रक्रिया 

इच्छुक आवेदक दिए गए आसान से चरणों को फॉलो करके पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के तहत ऑनलाइन मोड में आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा। 
पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “Apply for State Health Card” के बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल जायेगा। 
पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
  • यहां इस नए पेज पर आपको दिए गए स्थान में अपना मोबाइल नंबर और कॅप्टचा कोड भरकर Generate OTP पर क्लिक करना है। 
  • अब आपके मोबाइल पर एक OTP आएगा जिसे निर्धारित स्थान पर दर्ज करने पर आपके सामने एक फॉर्म खुल जायेगा। इस फॉर्म में आपको निम्न जानकारियों को दर्ज करना होगा : –
    • कर्मचारी या पेंशनर
    • आवेदक का नाम
    • जन्मतिथि 
    • आधार नंबर
    • स्थायी पता
    • विभाग का नाम
    • जनपद
    • कोड 
    • पदनाम 
    • कार्यालय का नाम
  • सभी जानकारियों को दर्ज करने के बाद आपको पात्रता से सम्बंधित शर्तो को पढ़कर चेकबॉक्स पर क्लिक करके दिए गए स्थान में वेफिरिकेशन कोड भर देना है। 
  • इसके बाद आप Save & Next बटन पर क्लिक कर दे। अब आपको नए पेज पर कुछ अन्य जानकारिया और दस्तावेजो को निर्धारित स्थान पर अपलोड कर देना है। 
  • अपने द्वारा दर्ज सभी जानकारी और दस्तावेजों की जाँच के बाद आप सेव करे बटन पर क्लिक कर दे। 
  • इस प्रकार आपका ऑनलाइन मोड में पंडित दीनदयाल उपाध्याय कैशलेस चिकित्सा हेल्थ कार्ड योजना में आवेदन पूरा हो जायेगा।

आवेदन की स्थिति जांचने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “कर्मचारी/पैंशनभोगी आवेदन” के सेक्शन में से “आवेदन की स्थिति जांचे” के लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने नया पेज प्रदर्शित होगा। 
आवेदन की स्थिति
  • अब आपको इस पेज पर अपना आधार नंबर एवं कैप्चा कोड दर्ज करना है, और “सर्च” बटन पर क्लिक कर देना है।  
  • क्लिक करने के बाद आपके आवेदन की स्थिति आपके सामने प्रदर्शित हो जाएगी।   

संपर्क विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको “संपर्क करे” के लिंक पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके सामने नया पेज प्रदर्शित होगा। 
संपर्क विवरण
  • अब इस नए पेज पर आप इस योजना से सम्बंधित संपर्क विवरण अपनी सेक्रीन पर देख सकते है। 

संपर्क विवरण

इस आर्टिकल में पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2023 से जुडी हर प्रकार की जानकारी को शमिल किया गया है। अगर किसी नागरिक को इस योजना के अंतर्गत किसी समस्या का सामना करना पड़ता है, या अधिक जानकारी हासिल करनी है तो इसके लिए नीचे बताए संपर्क विवरण का उपयोग करना होगा:-

  • हेल्पलाइन नंबर : 1800-1800-4444 
  • ईमेल आईडी : [email protected] 
  • डाक भेजने के लिए एड्रेस : मुख्य कार्यकारी अधिकारी, आयुष्मान भारत (SACHIS), चौथी मंजिल, नवचेतना केंद्र, 10, अशोक मार्ग, हजरतगंज, लखनऊ, उत्तर प्रदेश – 226001।

Leave a Comment