उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान 2024 | UP Ganna Payment Kaise Dekhe, स्टेटस जांचे

UP Ganna Payment 2024 चेक करे, उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान कैसे देखें | यूपी गन्ना पेमेंट, e Ganna Payment Status कैसे देखे – गन्नो के दामों में बढ़ोत्तरी करने की घोषणा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा की गई है, इसके साथ ही इस पोर्टल का आरंभ गन्ना किसान और चीनी व्यापारियों के मध्य प्रदेश लाने हेतु किया गया है। उत्तर प्रदेश राज्य के किसानो की सबसे बड़ी परेशानी यह होती है कि उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान 2024 समय पर नहीं हो पाता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार द्वारा चीनी मिलों हेतु गन्ने की खरीद के 14 दिन बाद किसानो के खातों में पैसो का भुगतान करने के नियम को बनाया गया है। राज्य सरकार द्वारा गन्ना की खरीदारी और चीनी उद्योग की खरीदारी में पारदर्शिता लाने हेतु एक पोर्टल का आरंभ किया गया है। जिसके माध्यम से राज्य के किसी भी नागरिक को नुकसान ना हो और गन्ना खरीदारी में भी पारदर्शिता आये। आज के इस आर्टिकल में हम आपको UP Ganna Payment से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे है। [यह भी पढ़ें- दिल्ली वोटर लिस्ट- CEO Delhi Voter List Pdf Download, फोटोयुक्त मतदाता सूची]

UP Ganna Payment 2024

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा एक बैठक में भारतीय किसान यूनियन के नेताओं से बातचीत की गई है। इस बैठक में राज्य के किसानो का उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान 2024 को बढ़ाने के विषय में चर्चा की गई है इसके साथ ही मुख्यमंत्री जी के द्वारा  MSP को कानून बनाने के विषय में भी बात की गई है। इसके अतिरिक्त किसान प्रतिनिधि मंडल के द्वारा इस बैठक में अपनी सभी समस्याओ को रखा गया है। [यह भी पढ़ें- e-district Delhi: ई डिस्ट्रिक्ट पोर्टल ऑनलाइन पोर्टल रजिस्ट्रेशन, लॉगिन करें]

इसके अंतर्गत यूपी गन्ना पेमेंट को शीघ्र करने की बात कही गई है। सन 2019-20 में 112 चीनी मिलों का संचालन उत्तर प्रदेश राज्य में किया गया था। राज्य का कुल गन्ना क्षेत्रफल 26.80 लाख हेक्टेयर तथा 811 क्विंटल प्रति हेक्टेयर गन्ना उत्पादकता है गात वर्ष के मुकाबले यह  6 क्विंटल प्रति हेक्टेयर  होता है। इसके अतिरिक्त 126.37 लाख टन चीनी का उत्पादन 119 चीनी मिलों द्वारा राज्य में 1118.02 लाख टन गन्ने की पेराई करते हुए किया गया था। [यह भी पढ़ें- दिल्ली बेरोजगारी भत्ता: Berojgari Bhatta Delhi, ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म]

उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान

PM Modi Yojana

जिसके बाद वह अब तक की सबसे ज़्यादा गन्ना पेराई एवं चीनी उत्पादन का रिकॉर्ड साबित हुई है। लगभग 9000 सालों का परीक्षण करने की औसत उत्पादकता का गन्ना सर्वे के आधार पर इस रिकॉर्ड के आधार पर प्रतिवर्ष गन्ना कटाई के समय तैयार किया जाता है। राज्य के मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि राज्य की सभी किसानो का Uttar Pradesh Ganna Payment 2024 जल्द से जल्द किया जाएं। [यह भी पढ़ें-विकलांग पेंशन योजना लिस्ट: (State Wise Payment Status), पेंशन सूची में नाम देखें]

Overview of UP Ganna Payment

आर्टिकल का नामउत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान
आरम्भ की गईउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री 
वर्ष2024
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के गन्ना किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन 
उद्देश्यगन्ना पेराई, उत्पादन, चीनी की जानकारी और सूचनाओं को एकत्रित करना
लाभगन्ना पेराई, उत्पादन, चीनी की जानकारी और सूचनाओं को एकत्रित किया जाएगा 
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं 
आधिकारिक वेबसाइटhttps://caneup.in/

यूपी गन्ना पेमेंट का उद्देश्य

उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान 2024 का मुख्य उद्देश्य राज्य में चीनी मीलों द्वारा गन्ना पेराई, उत्पादन, चीनी की जानकारी व सभी प्रकार की सूचनाओं को इकठ्ठा करना है। इसके अतिरिक्त  चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग का लक्ष्य उपज का आकलन और स्थिति के अनुसार समय-समय पर दिशा निर्देश जारी करना भी है। इसके साथ ही इसके माध्यम से अवशेष गन्ना मूल्य की सूचना और मीलों द्वारा UP Ganna Payment 2024 को भी इकठ्ठा किया जाएगा। इसके तहत किसानों को गन्ना फसल तैयार करने हेतु बहुत मेहनत करनी होती है। इसी वजह से किसानो को उम्मीद होती है कि उनको फसल का दाम अच्छा प्राप्त हो सके। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा अधिकारिक पोर्टल का आरंभ किया गया है। [यह भी पढ़ें-छत्तीसगढ़ शक्ति स्वरूप योजना: CG Shakti Swarupa, ऑनलाइन आवेदन]

उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान के महत्वपूर्ण तथ्य

  • उत्तर प्रदेश राज्य में करीब 49 लाख गन्ना किसान पंजीकृत है, जिनमे से 33 लाख किसानो द्वारा गन्ने की फसल उगाई जाती है। 
  • गन्ना विकास विभाग के पास सिर्फ 169 सहकारी गन्ना विकास समिति एवं शुगर मिल शामिल है। इसके अतिरिक्त पारदर्शिता सेवाएं उत्तर प्रदेश के सभी किसानो को अधिकारिक पोर्टल के माध्यम से प्रदान की जाएगी। 
  • इसके अतिरिक्त इन समितियों का कार्य यह ही कि विभाग के क्षेत्र में आने वाले सभी गन्ना किसानों को कीटनाशक, कृषि निवेश उर्वरक एवं मशीनरी उपलब्ध कराई जाएं। 
  • इस प्रकार किसी भी किसान को किसी प्रकार का नुकसान नहीं होगा तथा उन्हें Uttar Pradesh Ganna Payment 2024 समय पर प्राप्त हो सकेगी। 
  • इसके माध्यम से किसानों के बैंक खाते में पैसे भेज दिए जाएंगे राज्य के सभी किसानो को सरकारी और निजी मिलों से लगभग 12,000 करोड़ रुपए का भुगतान प्राप्त हो सकेगा। 
  • इसके अंतर्गत करीब 50 लाख गन्ना किसानो द्वारा उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान का इंतजार किया जा रहा है जोकि गन्ना उत्पादन पर आधारित है। 
  • इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश राज्य में गन्ने का उत्पादन करीब 28 लाख हेक्टेयर के क्षेत्रफल में किया जाता है। 
  • राज्य में करीब 1119 लाख टन गन्ने का उपयोग 119 चीनी मिलों में लगभग 127 लाख टन चीनी के उत्पादन हेतु किया जाता है। 
  • राज्य के मुख्यमंत्री जी के द्वारा हाल ही में  चीनी मिलों द्वारा 2024 में खरीदे जाने वाले गन्ने के मूल्य को  350 रूपए प्रति क्विंटल किया गया है, जोकि पिछले गन्ना रेट में 25 रूपए क्विंटल पर बढ़ाया गया है।

उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान 2024 देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास विभाग उत्तर प्रदेश की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको पहली साइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा। 
  • अब आपको प्राप्त कोड दर्ज कर देना है इसके बाद आपको अगले के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपको अपने जिले का चुनाव, मिल का चुनाव और गांव का चुनाव कर लेना है। अब आपको गन्ना बेचते समय मिली पर्ची में लिखे फॉर्मर को कोड दर्ज कर देना है। 
  • फिर आपके सामने अपने द्वारा भेजी गई फसल का संपूर्ण विवरण प्रदर्शित हो जाएगा। इसमें आप भुगतान के स्टेटस को भी देख सकते है।

UP Ganna Payment ऑनलाइन कैसे देखे?

उत्तर प्रदेश गन्ना भुगतान से जुड़ी सभी जानकारी को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी के द्वारा ऑनलाइन कर दिया गया है। राज्य के सभी नागरिक अपने भुगतान से जुड़ी कोई भी जानकारी अपने मोबाईल के माध्यम से देख सकते है उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ऑनलाइन पोर्टल और मोबाइल ऐप का आरंभ किसानों की विभिन्न समस्याओं को दूर करने हेतु किया गया है। इसके माध्यम से राज्य के सभी किसान बहुत कम समय में घर बैठे ही अपना गन्ना का रिकॉर्ड प्राप्त कर सकते है, इससे उनके समय की भी बचत होगी।

Leave a Comment