PM Modi Yojana 2021: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्कीम्स लिस्ट | पीएम मोदी सरकारी योजना सूची

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी योजना 2021 | PM Modi Yojana List | प्रधानमंत्री सरकारी योजना सूची | PM Modi Yojana Apply Online | PM Modi Scheme

PM Modi Yojana 2021, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योजनाएं, प्रधानमंत्री योजना की सूची में विभिन्न योजनाएं, PM Modi Yojana के उद्देश्य, PM Modi Scheme के पात्रता मानदंड के बारे में जानकारी इस लेख में प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से भारत सरकार द्वारा सभी प्रकारी की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ देश के सभी पात्र लाभार्थियों तक पहुँचाया जा रहा है, जिससे देश के नागरिक इन योजनाओं का लाभ उठाकर उचित प्रकार से अपना जीवन व्यतीत कर सकते हैं। हम जानते हैं कि नरेंद्र मोदी जी के वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा देश के नागरिकों के हित में कई योजनाओं की शुरुआत की गयी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योजनाएं देश के नागरिकों के लिए बहुत फायदेमंद साबित हुई है, क्योंकि आर्थिक रूप से कमज़ोर नागरिकों को काफी आर्थिक सहायता मिली है, जिससे उनको अपने जीवन व्यतीत करने में ज्यादा परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ रहा है। [यह भी पढ़ें- प्रधान मंत्री ने आत्मनिर्भर अभियान क्या है?]

Table of Contents

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योजनाएं

हमारे देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा कई विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई हैं। प्रधानमंत्री योजना को चलाने का मुख्य उद्देश्य देश के विभिन्न वर्गों को सशक्त बनाना है, इसे आत्मनिर्भर बनाना है और देश के विभिन्न वर्गों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योजना का लाभ प्रदान करना है। आज, इस लेख में, हम आपको देश में मोदी योजना के तहत सभी कल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा कई ऐसी योजनाओं को शुरू किया गया है, जिसमे देश के आर्थिक रूप से कमज़ोर नागरिकों को मकान मुहैया कराया गया। हमारे देश में PM Modi Yojana के माध्यम से वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन के रूप में आर्थिक सहायता प्रदान की गयी है, जिससे कि वरिष्ठ नागरिकों को बाकि का जीवन व्यतीत करने में आर्थिक परेशानियों का सामना नहीं पड़ेगा। [यह भी पढ़ें- (Live) pmkisan.gov.in Status 2021: PM Kisan 9वी किस्त List, Payment Status]

Pm Modi Scheme

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना 2021

मोदी सरकार द्वारा शुरू की गयी योजनाएं

देश के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र जी मोदी द्वारा समय-समय पर विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को राष्ट्रहित में शुरू किया जाता रहा है। वर्ष 2014 मोदी सरकार द्वारा कई अलग-अलग प्रकार की PM Modi Scheme को निम्न वर्ग, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, पिछड़े वर्ग और मध्यम वर्ग की आवश्यक जरूरतों को ध्यान में रखते हुए वर्ष 2019 का शुभारंभ किया गया है, जिससे देश के किसी भी नागरिकों को किसी भी प्रकार की परेशानियों से जूझना न पड़े। [यह भी पढ़ें- (रजिस्ट्रेशन) प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2021: Kisan Tractor Yojana ऑनलाइन आवेदन]

Highlights of PM Modi Yojana

योजना का नामPM Modi Yojana
विभागDifferent Ministry
किसके द्वारा की गईप्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
योजना का प्रकारCentral Govt Scheme
लाभार्थीदेश के नागरिक
आवेदन का प्रकारOnline/Offline
उद्देश्यअच्छी सुविधा प्रदान करना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योजनाओं का मुख्य उद्देश्य

हम जानते हैं कि हमारे देश में फैले कोरोना वायरस के कारण देश की अर्थव्यवस्था को भारी नुक्सान पहुंचा है। ऐसी स्थिति में देश के कई नागरिक बेरोजगार घूम रहे हैं, जिससे उनको कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। देश में सबसे ज्यादा परेशानियां बेरोजगार नागरिकों को हो रही हैं, जिसके कारण उनकी आजीविका पर भरी प्रभाव पड़ा है। इसी समस्या को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी योजनाएं शुरू की जाती है। प्रधानमंत्री योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि देश के नागरिकों को हर समस्या से छुटकारा दिलाना है, जो देश की अर्थव्यवस्था को भी नुक्सान पहुंचा रही है। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की जाने वाली सभी PM Modi Scheme द्वारा अच्छी सुविधाएं, अच्छा रोजगार, आत्मनिर्भर जीवन के लिए अच्छे विकल्प प्रदान किये जायेंगे। इन सभी उद्देश्यों को प्राप्त करने के  लिए केंद्र सरकार द्वारा PM Modi Yojana लागू की गयी हैं। [यह भी पढ़ें- (PMJAY) आयुष्मान भारत योजना 2021: Ayushman Bharat Yojana ऑनलाइन आवेदन]

प्रधान मंत्री की अन्य सरकारी योजनाएँ :-

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

हमारे देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा 12 नवंबर 2020 को आत्मनिर्भर भारत योजना शुरू की गई है। कोविड-19 युग से भारत में रोजगार को बढ़ावा देने के लिए यह योजना शुरू की गई है। आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के तहत, सरकार उन सभी प्रतिष्ठानों को सब्सिडी प्रदान करेगी जो नई भर्तियां करेंगे। इस योजना का मुख्य उद्देश्य नए रोजगार को प्रोत्साहित करना है। आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के माध्यम से देश में रोजगार बढ़ेगा। इस योजना के माध्यम से, जो लोग कोरोना अवधि के कारण रोजगार के लिए गए थे, वे आसानी से रोजगार प्राप्त कर सकेंगे…. आगे पढ़ें

ऑपरेशन ग्रीन योजना

प्रधानमंत्री योजना के अंतर्गत ऑपरेशन ग्रीन योजना का दायरा भारत सरकार द्वारा कोरोना अवधि के कारण बढ़ाया गया है। ऑपरेशन ग्रीन योजना का संचालन केंद्र सरकार के खाद प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा स्व-विश्वसनीय भारत अभियान के तहत किया जा रहा है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा फलों और सब्जियों का उचित मूल्य प्रदान किया जाएगा। इसके लिए सरकार ने 500 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है। अब आलू, प्याज, टमाटर के साथ-साथ फलों और सब्जियों को भी ऑपरेशन ग्रीन योजना के तहत शामिल किया गया है। इस योजना के तहत, प्रौद्योगिकी से खेती करने वाले किसानों को नुकसान से बचाना है। [यह भी पढ़ें- (रजिस्ट्रेशन) विधवा पेंशन योजना 2021: Vidhwa Pension ऑनलाइन आवेदन, State Wise List]

मत्स्य सम्पदा योजना

हम जानते हैं कि सरकार ने 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य रखा है, इसे ध्यान में रखते हुए, सरकार ने मत्स्य सम्पदा योजना शुरू की है। मत्स्य सम्पदा योजना का उद्देश्य सरकार द्वारा मत्स्य क्षेत्र के निर्यात में वृद्धि करना है। इस योजना के माध्यम से मत्स्य और डेयरी से जुड़े किसानों की आय बढ़ाने के प्रयास किए जाएंगे। सरकार ने मत्स्य संपदा योजना के लिए 20000 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है। इस योजना के तहत, समुद्र और तालाबों की मछलियों पर भी जोर दिया जाएगा। [यह भी पढ़ें- (List) प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2021: PMAY-G संशोधित लिस्ट]

विवाद से विश्वास योजना

विभिन्न कर मामलों को हल करने के लिए सरकार द्वारा संघर्ष योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत आयकर विभाग और करदाताओं द्वारा सभी अपील वापस ले ली जाएंगी। विवाद-से-विश्वास योजना विशेष रूप से उन लोगों के लिए है जिनके खिलाफ आयकर विभाग द्वारा एक उच्च मंच पर अपील की गई है। अब तक 45855 मामलों को विवाद-दर-ट्रस्ट योजना के माध्यम से हल किया गया है। जिसके तहत सरकार द्वारा 72,780 करोड़ रुपये की कर की राशि हासिल की गई है….. आगे पढ़ें

पीएम वाणी योजना

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी PM Modi Scheme के अंतर्गत पीएम वाणी योजना 9 दिसंबर 2020 को  देश के प्रधान मंत्री द्वारा शुरू की गई है। इस योजना के तहत, सभी सार्वजनिक स्थानों पर वाई-फाई सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। यह सुविधा पूरी तरह से मुफ्त होगी। पीएम वाणी योजना के जरिए देश में वाईफाई क्रांति आएगी। जिससे कि व्यापार को भी बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। पीएम वाणी योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए देश भर में सार्वजनिक डेटा केंद्र खोले जाएंगे। जिसके माध्यम से देश के सभी नागरिकों को वाई-फाई सुविधा प्रदान की जाएगी….. आगे पढ़ें

उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना

भारत सरकार द्वारा उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना 11 नवंबर 2020 को शुरू की गई थी, जिसके तहत घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा। उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना में 10 अन्य प्रमुख क्षेत्र शामिल हैं जिनमें दवाइयां, ऑटोकंप्रेसर, ऑटोमोबाइल शामिल हैं।उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना के जरिए विनिर्माण को बढ़ाया जाएगा और देश में आयात पर निर्भरता कम होगी। इस योजना के माध्यम से निर्यात भी बढ़ेगा, जिससे कि देश की अर्थव्यवस्था सुधरेगी। सरकार द्वारा उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना के लिए 1,45,980 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। [यह भी पढ़ें- गोबर-धन योजना 2021: GOBAR-Dhan, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन स्टेटस]

प्रधानमंत्री कुसुम योजना

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के माध्यम से किसानों को सौर ऊर्जा संचालित सौर पंप प्रदान किए जाएंगे। संचालित सौर पंप के माध्यम से किसानों के लिए फसल की सिंचाई करना आसान हो जायेगा। सरकार द्वारा इस योजना को 2022 तक बढ़ाया गया है, जिसके तहत 30.8 GW की क्षमता प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। प्रधानमंत्री कुसुम योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 34,035 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। प्रधानमंत्री कुसुम योजना के माध्यम से सौर पंपों के अलावा, ग्रिड से जुड़े सौर ऊर्जा और अन्य निजीकृत बिजली प्रणाली भी किसानों को प्रदान की जाएगी, जिससे किसानों की आय बढ़ेगी….. आगे पढ़ें

आयुष्मान सहकार योजना

अस्पताल, स्वास्थ्य के लिए स्वास्थ्य देखभाल, बुनियादी ढांचे की स्थापना, आधुनिकीकरण, विस्तार, मरम्मत, नवीकरण आयुष्मान सहकारी योजना के माध्यम से स्वास्थ्य के क्षेत्र में किया जाएगा। इस योजना के तहत, सहकारी समितियों को 10 हजार करोड़ का ऋण वितरित किया जाएगा, जिससे कि सेहकारी समितियां स्वास्थ्य सुविधाएं स्थापित कर सके। आयुष्मान सहकारी योजना के माध्यम से सरकारी चिकित्सा क्षेत्र को मजबूत किया जाएगा और इस योजना के तहत मेडिकल कॉलेज और अस्पताल खोलने की अनुमति भी दी जाएगी। [यह भी पढ़ें- (PMFBY) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन स्टेटस]

प्रधान मंत्री की अन्य सरकारी योजनाएँ :-

स्वामित्व योजना

स्वामित्व योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में घरों के मालिकों को संपत्ति कार्ड प्रदान किया गया है। इस योजना के माध्यम से, अब सभी ग्रामीण क्षेत्रों के मालिकों के पास अपनी संपत्ति के दस्तावेज होंगे। यह योजना हमारे देश के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 11 अक्टूबर 2020 को शुरू की गई है। इस योजना के तहत लगभग 6.62 लाख गाँवों को कवर किया जाएगा। अब, सभी ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों के पास स्वामित्व योजना के माध्यम से संपत्ति का डिजिटल विवरण होगा, जिससे कि विवाद भी कम हो सकेगा। इस योजना के तहत राजस्व विभाग द्वारा गाँव की भूमि की आबादी का रिकॉर्ड एकत्र किया जाएगा….. आगे पढ़ें

पीएम मोदी हेल्थ आईडी कार्ड

देश के 74 वें स्वतंत्रता दिवस पर हमारे देश के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा पीएम मोदी हेल्थ आईडी कार्ड की घोषणा की गई थी। मरीज का पूरा मेडिकल रिकॉर्ड पीएम मोदी हेल्थ आईडी कार्ड के तहत दर्ज किया जाएगा। यह आधार कार्ड की तरह काम करेगा और इस कार्ड के माध्यम से, रोगियों को अब अपने भौतिक रिकॉर्ड को बनाए रखने की आवश्यकता नहीं होगी। इस हेल्थ आईडी कार्ड में मरीज का पूरा मेडिकल रिकॉर्ड स्टोर किया जाएगा। सरकार द्वारा राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के तहत कार्ड लॉन्च किया गया है…… आगे पढ़ें

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना

PM गरीब कल्याण अन्न योजना के माध्यम से, देश के लगभग 80 करोड़ गरीब लोगों को 5 करोड़ गेहूं या चावल मुफ्त उपलब्ध कराया गया है। यह हमारे देश के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 30 जून 2020 को घोषित किया गया था। कोरोनोवायरस लॉकडाउन को देखते हुए यह निर्णय लिया गया। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्ना योजना के माध्यम से देश के गरीब नागरिकों को राशन प्रदान किया गया है। इस योजना को सरकार ने नवंबर 2020 तक बढ़ा दिया था। इस योजना के माध्यम से देश के 80 करोड़ गरीब नागरिकों को हर महीने 5 किलो गेहूं या चावल बिल्कुल मुफ्त दिया गया है। [यह भी पढ़ें- (सच या झूठ) प्रधानमंत्री फ्री स्मार्टफोन योजना 2021: Modi Free Mobile Fake or Real]

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण तथा शहरी)

इस योजना के तहत, केंद्र सरकार देश के सभी निचले वर्गों, पिछड़े वर्गों, आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों और मध्यम वर्ग के लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है जिनके पास कच्चा घर है या जिनके पास अपना घर नहीं है और वर्ष 2022 तक सभी लाभार्थियों को इस योजना के तहत शामिल करना है। इस योजना को ग्रामीण क्षेत्रों के लिए प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के रूप में जाना जाता है और शहरी क्षेत्रों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना को शहरी के रूप में जाना जाता है। इस योजना के बारे में पूरी जानकारी के लिए आप आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं। आगे पढ़ें

आयुष्मान भारत योजना

आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से देश के नागरिकों को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जा रहा है और इस योजना साकार करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम भी चलाये गए हैं। इस योजना के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा लाभार्थियों के परिवार को 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जायेगा और इस योजना के माध्यम से लाभार्थी गंभीर बिमारियों का इलाज निशुल्क करा सकेंगे। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा कई अस्पतालों को शामिल किया गया है, साथ ही 1350 बिमारियों का इलाज इस स्वास्थ्य बीमा में शामिल किया गया है…… आगे पढ़ें

किसान सूर्योदय योजना

प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना

प्रधानमंत्री योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की पेंशन योजनाएं प्रदान की जाती है। प्रधानमंत्री अटल पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करके सभी लाभार्थी अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकते है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थी 60 वर्ष की आयु के बाद मासिक पेंशन प्राप्त कर सकते हैं। यह योजना लाभार्थियों को मजबूत, आत्मनिर्भर बनाती है और उनके भविष्य को सुरक्षित करती है। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी यह एक सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना है, जिसके माध्यम से सभी लाभार्थी अपने भविष्य को सुरक्षित रख सकते हैं…… आगे पढ़ें

मातृत्व वंदना योजना

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी मातृत्व वंदना योजना के माध्यम से सरकार द्वारा गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। सरकार द्वारा शुरू की गयी प्रधान मंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2019 के अनुसार, यह आर्थिक सहायता पहली बार गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को प्रदान की जाती है। इस योजना के अंतर्गत आर्थिक रूप से कमज़ोर गर्भवती महिलाओं के परिवार को राहत मिलेगी….. आगे पढ़ें

नेशनल एजुकेशन पालिसी योजना

केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति शुरू की है। इस योजना के तहत, स्कूलों और कॉलेजों में होने वाली शिक्षा की नीति तैयार की जाती है। राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत, 2030 तक स्कूली शिक्षा में 100% GER के साथ पूर्व-माध्यमिक विद्यालय से शिक्षा का सार्वभौमिकरण किया जाएगा। सरकार के तहत, शिक्षा नीति में कई बड़े बदलाव किए गए हैं, जिससे शिक्षा पद्धति आसान हो जाएगी और छात्रों को भी किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। हम जानते हैं कि पहले 10+2 के पैटर्न का पालन किया जाता था, परन्तु अब नई शिक्षा नीति के अनुसार 5+3+3+4 के पैटर्न का पालन किया जाएगा। जिसमें 12 साल की स्कूली शिक्षा और 3 साल की प्री स्कूलिंग होगी। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2021 का मुख्य उद्देश्य भारत में प्रदान की जाने वाली शिक्षा को वैश्विक स्तर पर लाना है। इस योजना के माध्यम से शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा और बच्चे अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे। [यह भी पढ़ें- (List) Free Ration Card Apply Online: फ्री राशन कार्ड एप्लीकेशन फॉर्म]

अन्‍त्‍योदय अन्‍न योजना

यह योजना केंद्र सरकार द्वारा देश के गरीब परिवारों को लाभान्वित करने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के तहत, सरकार द्वारा अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को हर माह 35 किलो राशन प्रदान किया जाएगा। केंद्र सरकार ने इस योजना के तहत एक और निर्णय लिया है कि गरीब परिवारों के साथ-साथ विकलांग परिवारों को भी योजना के तहत हर महीने 2 रुपये प्रति किलोग्राम और धान 3 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से 35 किलोग्राम गेहूं दिया जाएगा। अंत्योदय अन्न योजना मुख्य रूप से शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में गरीब परिवारों के लिए आरक्षित है, और इस योजना का लाभ इन्ही गरीब परिवारों को ही प्रदान किया जाएगा। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान जी का कहना है कि अंत्योदय अन्न योजना राशन कार्ड और प्राथमिकता परिवार राशन कार्ड की जवाबदेही राज्य सरकार पर होगी। इस योजना के माध्यम से गरीब परिवारों को किसी अन्य दुकान से महंगा अन्न खरीदने की आवश्यकता नहीं होगी…… आगे पढ़ें

स्वनिधि योजना

यह योजना केंद्र सरकार द्वारा स्ट्रीट स्ट्रीट वेंडर और छोटे स्ट्रीट वेंडर (छोटे स्ट्रीट वेंडर) से अपना काम शुरू करने के लिए शुरू की गई है। इस स्व-वित्तपोषण योजना के तहत, केंद्र सरकार अपने स्वयं के काम शुरू करने के लिए सड़क विक्रेताओं और छोटे सड़क विक्रेताओं (छोटे सड़क विक्रेताओं) को 10,000 रुपये तक का ऋण प्रदान करेगी। सरकार द्वारा लिया गया ऋण सड़क की पटरियों के एक वर्ष के भीतर किस्त में वापस करना होगा। वेंडर, सेल्फर्स, हैंडलर, हॉकर, हॉकर, कोल्ड फ्रूट्स आदि सहित 50 लाख से अधिक लोगों को स्ट्रीट वेंडर सेल्फ-रिलायंट फंड के तहत इस योजना से लाभ प्रदान किया जाएगा। देश के इच्छुक लाभार्थी जो स्वनिधि योजना का लाभ लेना चाहते हैं, वे योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। सरकार द्वारा दिए जा रहे इस ऋण के माध्यम से युवा अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर कर सकते हैं….. आगे पढ़ें

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

हमारे देश के युवाओं के लिए प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत देश के युवाओं को उद्योगों से संबंधित कौशल का प्रशिक्षण दिया जाता है ताकि उन्हें भविष्य में रोजगार पाने में मदद मिल सके। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत दिए जाने वाले प्रशिक्षण के लिए शुल्क का भुगतान सरकार द्वारा किया जाता है। इस योजना के तहत निर्माण, इलेक्ट्रॉनिक्स और हार्डवेयर, खाद्य प्रसंस्करण, फर्नीचर फिटिंग, हस्तशिल्प और आभूषण और चमड़ा प्रौद्योगिकी जैसे लगभग 40 तकनीकी क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है….. आगे पढ़ें

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

हमारे देश के छोटे और सीमांत किसानों के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना शुरू की गई है, इस योजना के तहत 2 हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि वाले देश के किसानों को सालाना 6000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। यह राशि सरकार द्वारा निदेशक बैंक हस्तांतरण मोड के माध्यम से तीन मोड में स्थानांतरित की जाएगी, और प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में संशोधन के बाद अब देश के वे सभी किसान जिनके पास एक हेक्टेयर 2 हेक्टेयर 3 हेक्टेयर 4 हेक्टेयर 5 हेक्टेयर आदि है, इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं….. आगे पढ़ें

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना

हमारे देश के छोटे कारोबारियों के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) शुरू की गई है। इस योजना के तहत जो व्यक्ति अपना खुद का व्यवसाय शुरू करना चाहता है या अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाना चाहता है, उसे मुद्रा ऋण योजना के तहत अपना व्यवसाय बढ़ाने के लिए न्यूनतम 50000 रुपये से अधिकतम 10 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाएगा। की जायेगी। प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना के तहत सरकार यह सुनिश्चित करना चाहती है कि व्यापारियों को उचित ऋण सुविधा दी जाए ताकि वे अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकें और आत्मनिर्भर बने….. आगे पढ़ें

प्रधानमंत्री रोजगार योजना

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री रोजगार योजना को हमारे देश के बेरोज़गारी युवाओं को खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए आरंभ किया गया है और केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत देश के बेरोज़गारी युवाओं को कम ब्याज दर पर सरकार की ओर से लोन परेड किया जाएगा, ताकि वह सभी अपने खुद का रोज़गार और व्यवसाय शुरू कर सके। प्रधानमंत्री रोज़गार योजना के तहत मिलने वाली धनराशि की लागत 2 लाख रुपए होनी चाहिए और लाभार्थी की आयु 18 से 35 वर्ष होनी चाहिए, तभी ‌ इस योजना के तहत आप खुद का रोज़गार तथा व्यवसाय शुरू करने में सक्षम रहेंगे…..आगे पढ़ें

जीवन ज्योति बीमा योजना

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई यह एक टर्म इंश्योरेंस प्लान स्कीम है। इस योजना के तहत यदि किसी पॉलिसीधारक की मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को 2 लाख रुपये प्रदान किए जाएंगे। इस योजना का मुख्य उद्देश्य लोगों को जोखिम से सुरक्षा प्रदान करना है। जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत यदि व्यक्ति पॉलिसी लेने की सीमा पूरी होने के बाद भी फिट रहता है तो उसे इस पॉलिसी के तहत कोई लाभ नहीं दिया जाएगा। इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए व्यक्ति की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 50 वर्ष है और इसकी परिपक्वता अवधि 55 वर्ष है…..आगे पढ़ें

प्रधानमंत्री धन लक्ष्मी योजना

हमारे देश की महिलाओं को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने के लिए प्रधानमंत्री धन लक्ष्मी योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत, जो महिलाएं अपना रोजगार और व्यवसाय शुरू करना चाहती हैं, उन्हें सरकार द्वारा 5 लाख रुपये का ऋण प्रदान किया जाएगा। और इस योजना का जो भी हित होगा वह सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। देश की सभी महिलाएं जो अपना घर चलाना चाहती हैं, उन्हें वित्तीय सहायता के रूप में 5 लाख रुपये तक का ऋण प्रदान किया जाएगा…..आगे पढ़ें

फ्री सोलर पैनल योजना

हमारे देश के किसानों के लिए सोलर पैनल योजना शुरू की गई है, इस योजना के तहत देश के किसानों को खेतों की सिंचाई के लिए सोलर पैनल संचालित सिंचाई पंप उपलब्ध कराए जाएंगे ताकि वे आसानी से खेती कर सकें और उनकी आय में वृद्धि हो। इस योजना के तहत मिले वाले मुफ्त सोलर पैनल की मदद से किसान खेत में बिजली पैदा कर 6000 रुपये प्रति माह की आय का भी इंतजाम कर सकते हैं, क्योंकि सोलर पैनल से बिजली पैदा करने के बाद किसान इस बिजली को अलग-अलग कंपनियों को बेच सकते हैं और प्रति माह आय का साधन प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के तहत सरकार ने 10 साल की अवधि के लिए 48000 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया है…..आगे पढ़ें

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना

हमारे देश में ड्राइवर, प्लंबर, मोची, दर्जी, रिक्शा चालक, धोबी और खेतिहर मजदूर को लाभ पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत ₹3000 न्यूनतम पेंशन के रूप में प्रदान किए जाएंगे। यदि प्रधानमंत्री श्रम योगी के तहत दी जाने वाली पेंशन के दौरान लाभार्थी की मृत्यु हो जाती है तो पेंशन राशि का 50 प्रतिशत उसके जीवन साथी को प्रदान किया जाएगा…..आगे पढ़ें

PM Modi Yojana 2021

किसानो के लिए शुरू की गयी योजनाए

देश के युवाओ के लिए शुरू की गयी योजनाए

पीएम पेंशन योजनाए

महिलाओ के लिए शुरू की गयी योजनाए

गरीबो के लिए शुरू की गयी योजनाएँ

Leave a Comment