राजीव गांधी स्वरोजगार योजना शुरू हुई, HP में युवाओं को मिलेंगे रोजगार के बहतर अवसर

Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana Apply Online, उद्देश्य व पात्रता जांचे | हिमाचल प्रदेश राजीव गांधी स्वरोजगार योजना एप्लीकेशन फॉर्म, लाभ जाने – राज्य में रोजगार के अवसर बढ़ाने तथा युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने हेतु हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा राजीव गांधी स्वरोजगार योजना को आरंभ करने की घोषणा कैबिनेट बैठक के दौरान की गई है। राज्य सरकार द्वारा राज्य के युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने हेतु इस योजना के तहत मशीनरी पर 25% से लेकर 35% तक का अनुदान व्यवसाय स्थापित करने हेतु प्रदान किया जाएगा, राज्य में इस योजना के माध्यम से बहुत हद तक बेरोजगारी दर को कम किया जाएगा। आज के इस आर्टिकल में हम आपको Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे है, जैसे इस योजना को किस उद्देश्य से आरंभ किया गया है तथा इसके लाभ और पात्रता क्या है आदि। [यह भी पढ़ें- हिमाचल प्रदेश नारी सम्बल योजना 2023: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, पात्रता व लाभ]

Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana 2023

राज्य के सभी युवा नागरिको को रोजगार से जोड़ने हेतु 17 मई 2023 को कैबिनेट बैठक के दौरान हुई अध्यक्षता में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू जी के द्वारा राजीव गांधी स्वरोजगार योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई है। हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा 2026 तक राज्य को हरित बनाने और देश में इलेक्ट्रिक वाहनों हेतु आदर्श राज्य के रूप में विकसित करने का लक्ष्य इस योजना के माध्यम से निर्धारित किया गया है। राज्य के सभी पात्र और योग्य युवाओ को ई बसें, इलेक्ट्रिक टैक्सियां, इलेक्ट्रिक ट्रक खरीदने हेतु राज्य सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा। इसके अतिरिक्त राज्य के पात्र युवाओ को प्रोत्साहन एवं सुविधाएं भी 1 मेगावाट तक वाणिज्यिक सौर ऊर्जा परियोजना, मत्स्य पालन की परियोजनाओं के लिए Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana के माध्यम से प्रदान की जाएगी। राज्य के अन्य युवाओ को भी इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा प्रोत्साहित किया जाएगा, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में भी बेहतरी होगी। [यह भी पढ़ें- महर्षि वाल्मीकि छात्रवृत्ति योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म]

Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana

Overview of Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana

योजना का नामराजीव गांधी स्वरोजगार योजना
आरम्भ की गईहिमाचल प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू जी के द्वारा
वर्ष2023
लाभार्थीहिमाचल प्रदेश राज्य के युवा नागरिक 
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन
उद्देश्यहिमाचल प्रदेश राज्य के युवाओं को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना और उनमे उद्यमशीलता को बढ़ावा
लाभहिमाचल प्रदेश राज्य के युवाओं को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान किया जाएगा और उनमे उद्यमशीलता को बढ़ाया जाएगा 
श्रेणीहिमाचल प्रदेश सरकारी योजनाएं 
आधिकारिक वेबसाइटजल्द आरंभ की जाएगी 

हिमाचल प्रदेश राजीव गांधी स्वरोजगार योजना का उद्देश्य

राजीव गांधी स्वरोजगार योजना 2023 का मुख्य उद्देश्य राज्य के बेरोजगार युवाओ को रोजगार से जोड़ना है, इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी स्थानीय युवाओं को राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता स्वरोजगार स्थापित करने हेतु प्रदान की जाएगी। इसके अतिरिक्त इस योजना के माध्यम से सभी पात्र युवाओ को आजीविका की सुविधा उद्यमशीलता को बढ़ावा देकर प्रदान की जाएगी, इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए हिमाचल प्रदेश राज्य को 2026 तक स्वरोजगार को प्रोत्साहन प्रदान कर देश का पहला हरित ऊर्जा राज्य और आदर्श राज्य के रूप में HP Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana के माध्यम से विकसित किया जाएगा। इसके साथ ही अन्य युवाओ को भी इस योजना के माध्यम से स्वरोजगार स्थापित करने हेतु प्रोत्साहन प्राप्त होगा, इसके माध्यम से राज्य में बहुत हद तक बेरोजगारी दर में कमी होगी तथा रोजगार के अवसरों में बढ़ोत्तरी होगी। [यह भी पढ़ें- (आवेदन फॉर्म) हिमाचल प्रदेश राशन कार्ड 2023: HP Ration Card अप्लाई ऑनलाइन एप्लीकेशन]

Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana 2023 के तहत मिलने वाला अनुदान

राज्य का अगर कोई युवा डेंटल क्लीनिक की स्थापना करना चाहता है या फिर मछली पालन से जुड़ी परियोजनाओं का विस्तार करना चाहता है, तो इस विषय में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि उन सभी युवा नागरिको को अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा 60 लाख रुपए तक के उपकरण के लिए अनुदान प्रदान किया जाएगा, इसके अंतर्गत प्रदान किए जाने वाले अनुदान की विस्तृत जानकारी निम्नलिखित है:- 

कैटेगरीअनुदान 
जनरल कैटेगरी25% 
अनुसूचित जाति/जनजाति30%
महिला/दिव्यांग35% 
इलेक्ट्रिक वाहनों की खरीद50%  
सौर ऊर्जा परियोजनाओं  के लिए40% (250 किलोवाट से 2 मेगावाट तक)

ई-व्हिकल के लिए उपदान 50 फीसदी रहेगा

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा आरंभ HP Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana के तहत सभी पात्र श्रेणियों के लिए निवेश उपदान की सीमा ई-टैक्सी, ई-ट्रक, ई-बस, ई-टेम्पो की खरीद हेतु 50 प्रतिशत निर्धारित की गई है। पात्र घटक विनिर्माण और सेवा क्षेत्रों में उपदान के लिए इसके अंतर्गत बांटे गए है, राज्य सरकार द्वारा बजट में 10 करोड़ रुपये के कार्पस फंड को प्रभावी क्रियान्वयन हेतु आवंटित किया गया है। राज्य एक परिवार से केवल एक व्यक्ति के द्वारा ही हिमाचल प्रदेश राजीव गांधी स्वरोजगार योजना के माध्यम से प्रदान किए जाने वाली आर्थिक सहायता का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।

HP Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana 2023 के लाभ और विशेषताएं 

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री श्री सुखविंदर सिंह सुक्खू जी के द्वारा Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana 2023 को आरंभ करने की घोषणा हिमाचल प्रदेश के युवाओं को रोजगार से जोड़ने हेतु की गई है। 
  • इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता का लाभ हिमाचल प्रदेश के युवाओं को रोजगार स्थापित करने हेतु प्रदान किया जाएगा। 
  • राज्य सरकार द्वारा इस योजना को मुख्य रूप से देश में हरित ऊर्जा राज्य बनाने और इलेक्ट्रिक वाहनों के रूप में राज्य को साल 2026 तक विकसित करना है। 
  • इसके अतिरिक्त राज्य के युवाओं को ई टैक्सियां, ई बसें, ई ट्रैक खरीदने हेतु इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा अनुदान प्रदान किया जाएगा।  
  • इसके विपरीत इस योजना के माध्यम से 1 मेगावाट तक वाणिज्यिक सौर ऊर्जा परियोजनाओं की स्थापना हेतु प्रोत्साहन, रियायते और सुविधाओं आदि का लाभ भी राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। 
  • करीब 10 करोड़ रुपए के बजट का निर्धारण इस योजना के भली भांति संचालन हेतु हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा किया गया है। 
  • डेंटल क्लीनिक के लिए सरकार द्वारा 60 लाख तक की मशीनें पर 25% से लेकर 35% तक का अनुदान राज्य के पात्र युवा नागरिको को इस योजना के माध्यम से प्रदान किया जाएगा। 
  • इसके साथ ही Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana के तहत 50% सब्सिडी जरूरी इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए तथा सौर ऊर्जा परियोजनाओं के लिए 40% सब्सिडी का लाभ राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। 
  • मशीनरी पर 35% सब्सिडी का लाभ राज्य की महिला और दिव्यांगजनों को इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। 
  • राज्य के सभी हितग्राही युवा नागरिक इस योजना का लाभ प्राप्त कर आत्मनिर्भर और सशक्त होंगे, तथा इस योजना के माध्यम से अन्य युवा नागरिको को भी स्वरोजगार स्थापित करने हेतु प्रोत्साहित किया जाएगा। 
  • भविष्य में हिमाचल प्रदेश को हरित राज्य इस  योजना के माध्यम से बनाया जा सकेगा, तथा राज्य के सभी बेरोजगार युवा नागरिको को अपने राज्य में ही रोजगार की प्राप्ति हो सकेगी। 
  • इसके अतिरिक्त हिमाचल प्रदेश राजीव गांधी स्वरोजगार योजना के माध्यम से राज्य के सभी पात्र युवा नागरिको की आर्थिक स्थिति में मजबूती आएगी।  

Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana 2023 की पात्रता 

  • राज्य के वह सभी नागरिक जो इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है, उन सभी नागरिको को हिमाचल प्रदेश राज्य का मूल निवासी होना अनिवार्य है। 
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी अनिवार्य है। 
  • आवेदक का बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना जरूरी है। 
  • हिमाचल प्रदेश के केवल वही युवा नागरिक इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है, जो स्वरोजगार से जुड़ना चाहते हैं। 

राजीव गांधी स्वरोजगार योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज 

  • आय प्रमाण पत्र
  • मशीनरी के बिल
  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पंजीकृत मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • दिव्यांग होने का प्रमाण पत्र(दिव्यांग की स्थिति में) आदि 

ई-व्हिकल के लिए उपदान 50 फीसदी रहेगा

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा आरंभ HP Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana के तहत सभी पात्र श्रेणियों के लिए निवेश उपदान की सीमा ई-टैक्सी, ई-ट्रक, ई-बस, ई-टेम्पो की खरीद हेतु 50 प्रतिशत निर्धारित की गई है। पात्र घटक विनिर्माण और सेवा क्षेत्रों में उपदान के लिए इसके अंतर्गत बांटे गए है, राज्य सरकार द्वारा बजट में 10 करोड़ रुपये के कार्पस फंड को प्रभावी क्रियान्वयन हेतु आवंटित किया गया है। राज्य एक परिवार से केवल एक व्यक्ति के द्वारा ही हिमाचल प्रदेश राजीव गांधी स्वरोजगार योजना के माध्यम से प्रदान किए जाने वाली आर्थिक सहायता का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।

Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana के तहत आवेदन कैसे करे? 

राज्य के वह सभी नागरिक जो HP Rajiv Gandhi Swarojgar Yojana का लाभ प्राप्त करने हेतु इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते है, उन सभी नागरिको को इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु अभी कुछ समय प्रतीक्षा करनी होगी। क्योकि राज्य सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ करने की अभी केवल घोषण की गई है, इस योजना को राज्य में अभी लागु नहीं किया गया है, इसके अतिरिक्त योजना के तहत आवेदन करने हेतु अभी आधिकारिक वेबसाइट को भी जारी नहीं किया गया है। जैसे ही राज्य सरकार द्वारा इस योजना से जुड़ी किसी भी प्रकार की जानकारी को सार्वजानिक किया जाएगा तो हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से सुचना प्रदान कर देंगे।

Leave a Comment