मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना: किसानो को मिल रहा फ्री बीज और अन्य सहायता

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan आवेदन करे, राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना फॉर्म भरे, पात्रता जांचे – राज्य के किसानो को लाभ प्रदान करने हेतु मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना का आरंभ राज्य के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा किया गया है। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से राज्य के सभी पात्र और योग्य किसानो को निशुल्क बीज प्रदान किए जाएंगे, इसके साथ ही राज्य के कमजोर वर्ग के किसानों को मिनीकिट के माध्यम से राजस्थान सरकार द्वारा लाभ भी प्रदान किया जीएगा। राज्य में बहुत से ऐसे किसान है, जो आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण बीज खरीदने में असमर्थ है, उन सभी किसानो को राज्य सरकार द्वारा आरएसएससी से निशुल्क बीज प्रदान किए जाएंगे। आज के इस आर्टिकल में हम आपको Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है। [यह भी पढ़े – राजस्थान वोटर लिस्ट 2023: CEO Rajasthan Voter List, मतदाता सूची PDF डाउनलोड]

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan 2023

राज्य के किसानो को लाभ प्रदान करने हेतु राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा अपने राज्य में मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना को आरंभ किया गया है। राज्य के किसानों को इस योजना के माध्यम से कृषि विभाग द्वारा लाभ प्रदान किया जाता है, इसके अंतर्गत राज्य के 30 से 50 किसानों का समूह कृषि विभाग द्वारा बनाया जाता है। इससे सभी किसान नागरिक आपसी सहयोग से कृषि करने में सक्षम होते है, इसके अंतर्गत किसान समूह का चयन कृषि विभाग द्वारा किया जाता है सभी चयनित किसानो के समूहों को इस योजना के तहत आरएसएससी से निशुल्क बीज प्रदान किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan के तहत समूहों के सभी किसानो को राज्य सरकार द्वारा बुवाई के बाद प्रशिक्षण भी दिया जाता है, सभी किसानो को प्रदान किया जाने वाला प्रशिक्षण 3 चरणो में दिया जाता है। सभी पात्र किसान इस योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त कर बीज उत्पादन करके विक्रय कर सकेंगे, इसके साथ ही राज्य सरकार द्वारा राजस्थान के लघु एवं सीमांत किसानों को अनुदान राशि बीज खरीदने हेतु प्रदान की जाती है। [यह भी पढ़े – अपना खाता राजस्थान: जमाबंदी नकल, भू नक्शा और खसरा मैप, ऑनलाइन e Dharti गिरधावरी रिपोर्ट]

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan

Overview of Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan

योजना का नामराजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा  
वर्ष2023
लाभार्थीराज्य के किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑफलाइन 
उद्देश्यकिसानों को बीज उपलब्ध कराने के लिए 50% तक अनुदान प्रदान करना 
लाभकिसानों को बीज उपलब्ध कराने के लिए 50% तक अनुदान प्रदान किया जाएगा 
श्रेणीराजस्थान सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट———

राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना का उद्देश्य 

राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना 2023 का मुख्य उद्देश्य राज्य के लघु एवं सीमांत सामान्य किसानों को बीज उपलब्ध कराना है, इस योजना के माध्यम से किसानो को बीज प्रदान करने हेतु कृषि विभाग द्वारा 50% तक अनुदान उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अतिरिक्त राज्य के ऐसे किसान जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे है, उन सभी किसानो को इस योजना के माध्यम से मिनी किट प्रदान की जाएगी। इस योजना का लाभ प्राप्त कर राज्य के सभी पात्र किसान अपने खेत में बीज का उत्पादन आसानी से कर सकेंगे तथा इससे उनमे आत्मनिर्भरता आएगी। इसके साथ ही राज्य के सभी पात्र किसान कम लागत में अच्छा उत्पादन Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan 2023 के माध्यम से कर सकेंगे, जिससे उनकी आय में बढ़ोत्तरी होगी। [यह भी पढ़े – (फॉर्म) राजस्थान जाति प्रमाण पत्र: ऑनलाइन आवेदन, Rajasthan Caste Certificate Form]

किसानों को 50% तक का अनुदान मिलता है 

राज्य के लघु एवं सीमांत किसानों को बीज उपलब्ध कराने हेतु कृषि विभाग द्वारा राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना के माध्यम से अनुदान प्रदान किया जाता है। राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत 50% तक अनुदान पर राज्य के लघु और सीमांत किसानों को बीज प्रदान किए जाएंगे, इसके साथ ही 25% अनुदान पर बीज राज्य के सामान्य किसानों को इस योजना के माध्यम से प्रदान किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त इस योजना के तहत सभी राज्य सरकारों के द्वारा खाद, दवा और कृषि यंत्र पर अनुदान दिया जाता है, अलग अलग राज्य सरकारो द्वारा अपने राज्यों में इस अनुदान को अलग अलग निर्धारित किया गया है। राज्य के 2 लाख से अधिक किसानों को अब तक इस योजना का लाभ प्रदान किया जा चुका है, जिसके तहत 46,326 क्विंटल बीज का निशुल्क वितरण इस योजना के माध्यम से हो चुका है।

राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना के तहत निशुल्क बीज कैसे मिलेंगे 

राज्य के किसानों को राष्ट्रीय तिलहन एवं ऑयल परमिशन तथा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा मिशन के अनुसार Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan के तहत राज्य सरकार द्वारा बीजों की निशुल्क मिनिकिट प्रदान की जाती है। राजस्थान के अलग-अलग इलाकों की मिट्टी और जलवायु के आधार पर सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली बीजों की मिनी किट के लिए फसल के बीजों का चयन किया जाता है, इसके माध्यम से कृषि विभाग द्वारा उन्नत किस्म के बीज राज्य के सभी किसानो को प्रदान किए जाएंगे। इसके माध्यम से राज्य के सभी किसान नागरिको को बीज उत्पादन करने हेतु प्रेरित किया जाएगा, इस योजना के माध्यम से प्रदान की जाने वाली मिनी किट एक किसान परिवार के केवल एक महिला सदस्य को ही प्रदान की जाएगी।

राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना 2023 के लाभ और विशेषताएं 

  • राजस्थान राज्य के लघु एवं सीमांत किसानों को Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan 2023 का लाभ प्रदान किया जाएगा। 
  • राज्य के ऐसे कमजोर वर्ग के किसान नागरिक जिनके द्वारा गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन किया जा रहा है, उन सभी किसानो को इस योजना के तहत प्राथमिकता दी जाती है।
  • राष्ट्रीय तिलहन एवं ऑयल परमिशन तथा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा मिशन के अनुसार इस योजना के तहत  राज्य के किसानों को निशुल्क मिनी किट का लाभ राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है। 
  • इसके अतिरिक्त राज्य के छोटे किसानों को 50% तक का अनुदान इस योजना के तहत बीज पर प्रदान किया जाएगा, इसके विपरीत 25% तक का अनुदान राज्य के सामान्य किसानों को प्रदान किया जाएगा। 
  • कृषि विभाग राजस्थान द्वारा राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना 2023 के तहत राज्य के किसानो को RSSC से निशुल्क बीज प्रदान किए जाएंगे। 
  • करीब 46,326 क्विंटल बीज का निशुल्क वितरण अब तक इस योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा किया जा चुका है। 
  • इसके अलावा राज्य के सभी हितग्राही किसानो को इस योजना के माध्यम से प्रशिक्षण भी दिया जाएगा, प्रशिक्षण प्राप्त कर सभी किसानो के द्वारा बीज उत्पादन करके बीजों का विक्रय किया जा सकेगा। 
  • राज्य में 2 लाख से अधिक किसानों को इस योजना के माध्यम से लाभ प्रदान किया जाएगा, सभी लाभार्थी किसान अपने खेत में बीज का उत्पादन कर आत्मनिर्भर और सशक्त बनेंगे। 
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर राज्य के सभी हितग्राही नागरिको के जीवन स्तर में बेहतरी होगी, इसके साथ ही सभी किसान अपने उपयोग के लिए बीज उत्पादन करने हेतु प्रेरित हो सकेंगे।  

मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना के लिए पात्रता मानदंड 

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के इच्छुक नागरिको को राजस्थान राज्य का मूल निवासी होंना अनिवार्य है। 
  • राज्य के अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति लघु एवं सीमांत किसानों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। 
  • निशुल्क मिनी किट प्राप्त करने के इच्छुक नागरिको के द्वारा पिछले 3 वर्ष में मिनी किट कार्यक्रम का लाभ नहीं प्राप्त किया गया हो। 
  • इसके अंतर्गत मिनी किट प्राप्त करने के लिए केवल महिला कृषक ही पात्र होंगी।  

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan आवश्यक दस्तावेज 

  • मोबाइल नंबर
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो आदि 

राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना 2023 के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

वह सभी नागरिक जो Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan के तहत आवेदन करना चाहते है, उन सभी नागरिको के द्वारा निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करके इस योजना के तहत आवेदन किया जा सकता है: – 

  • सबसे पहले आपको अपने जिले के कृषि विभाग के कार्यालय या कृषि विज्ञान केंद्र पर जाना है, वहां जाकर आपको इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु आवेदन फॉर्म प्राप्त कर लेना है। 
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को दर्ज कर देना है, सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ अटैच कर देना है। 
  • इसके बाद आपको यह आवेदन फॉर्म वापस वही जमा कर देना होगा जहां से आपने आवेदन फॉर्म प्राप्त किया है, इस प्रकार इस योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी। 
  • अधिकारियों के द्वारा आपके आवेदन फॉर्म का सत्यापन किया जाएगा, सत्यापन प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात आपको इस योजना का लाभ प्रदान कर दिया जाएगा।

Leave a Comment