(NEP) नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2024: New Education Policy PDF, नई शिक्षा नीति

National Education Policy 2023 PDF | नेशनल एजुकेशन पॉलिसी नई शिक्षा नीति | Modi New Education Policy | नेशनल एजुकेशन पॉलिसी क्या है? | National Education Policy in Hindi

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के तहत मानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय ने हाल ही में बदलाव किया है, और इसकी शुरुआत इसरो के प्रमुख डॉक्टर कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में की गई है। इस National Education Policy को कैबिनेट के माध्यम से मंजूरी मिल चुकी है, और इसी कारण आने समय में शिक्षा को लेकर स्कूल और कॉलेज में कई अन्य तरह के बदलाव नज़र आएंगे। दोस्तों हम आपको आज इस आर्टिकल के द्वारा नई National Education Policy से जुडी सभी जानकारी देने जा रहे हैं। हम आपको यह भी बताएंगे की National Education Policy का उद्देश्य क्या है, इसके लाभ क्या है, और साथ ही नेशनल एजुकेशन पॉलिसी में होने वाले बदलाव के बारे में भी जानकारी देंगे, तो आपसे निवेदन है की आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़े। [यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना 2023 – PM Karam Yogi Mandhan Yojana]

New National Education Policy 2023

हम सभी लोग जानते हैं कि National Education Policy के तहत स्कूलों और कॉलेजों में शिक्षा की नीति बनाई जाती है, इसी बात को देखते हुए हमारे देश की केंद्र सरकार द्वारा एक नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी शुरू की गई है। यह नीति इसरो के प्रधान चिकित्सक कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में तैयार की गई है। इस बदलाव के तहत 2030 तक स्कूली शिक्षा में 100% GIR के साथ प्री-स्कूल से सेकेंडरी स्कूल तक शिक्षा का सार्वभौमीकरण हो जाएगा। जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि पहले 10+2 के पैटर्न का पालन किया जाता था और नई शिक्षा नीति 2023 के तहत इसे बदल दिया जाएगा। नीति, अब 5+3+3+4 के पैटर्न का पालन किया जाएगा। [यह भी पढ़ें- (PMUY) प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना 2023 | Ujjwala 2.0 KYC Application Form]

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी

पीएम मोदी योजना

Overview of National Education Policy

योजना का नामनेशनल एजुकेशन पॉलिसी
आरम्भ की गईशिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल
विभागशिक्षा विभाग, भारत सरकार
वर्ष2023
लाभार्थीभारत के नागरिक
उद्देश्यशिक्षा का सार्वभौमीकरण करना है तथा भारत को वैश्विक ज्ञान महाशक्ति बनाना है।
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटwww.mhrd.gov.in/

नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी का उदेश्य

नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी का मुख्य उद्देश्य यह है की हमारे देश को विश्व स्तर पर शैक्षिक रूप से महाशक्ति बनाना और भारत में शिक्षा को सार्वभौमिक बनाकर शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाना है। इस नई National Education Policy से पुरानी शिक्षा नीति को बदला जाएगा, जिससे शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा और बच्चे भी अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे, और साथ ही अपने जीवन को उज्जवल बना सकेंगे। नई National Education Policy का मुख्य उद्देश्य बच्चों को तकनीकी और रचनात्मक के साथ-साथ शिक्षा के महत्व को समझाना और उन्हें अपने कल के लिए पूरी तरह से तैयार करना है, ताकि उनमें सशक्तिकरण और मनोबल बनाया जा सके। [यह भी पढ़ें- (APY) अटल पेंशन योजना 2023: Atal Pension Yojana प्रीमियम चार्ट, ऑनलाइन आवेदन]

4 साल की B.Ed

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2023 के तहत बीएड की अवधि को बढ़ाकर 4 साल कर दिया गया है। 2030 के अंत तक, एक शिक्षक के लिए न्यूनतम योग्यता 4 वर्षीय बी.एड कार्यक्रम होगी। निर्धारित मानकों का पालन नहीं करने वाले सभी शैक्षणिक संस्थानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। [यह भी पढ़ें- (100 लाख करोड़) प्रधानमंत्री गति शक्ति योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, लाभ व पात्रता जानकारी]

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2023 के कुछ मुख्य अंश

  • कई प्रविष्टियां और निकास बिंदु उच्च शिक्षा के लिए उपयुक्त प्रमाणीकरण के साथ होंगे।
  • ग्रेजुएट कोर्स 3 से 4 साल का हो सकता हैं, जिसमें कई निकास विकल्प होंगे। जो उचित प्रमाण पत्र के साथ होगा जैसे अगर आपने 1 साल के स्नातक पाठ्यक्रम में अध्ययन किया है, तो आपको एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा, 2 साल बाद अग्रिम डिप्लोमा दिया जाएगा, 3 साल के बाद डिग्री दी जाएगी और 4 साल के बाद रिसर्च के साथ बैचलर डिग्री दी जाएगी।
  • शैक्षणिक बैंक ऑफ क्रेडिट का गठन किया जाएगा, जिसमें छात्रों द्वारा अर्जित डिजिटल अकादमी क्रेडिट को विभिन्न उच्च शिक्षा संस्थानों के माध्यम से एकत्र किया जाएगा और अंतिम डिग्री के लिए स्थानांतरित किया और गिना जाएगा।
  • पाठ्य पुस्तकों पर निर्भरता को कम करते हुए, इस नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति का उद्देश्य ई-लर्निंग पर जोर देना भी है।
  • उच्च शिक्षा संस्थानों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी सामान्य प्रवेश परीक्षा की पेशकश करेगी।
  • 2030 तक, हर जिले में कम से कम एक बड़ा बहु-अनुशासनात्मक उच्च शिक्षा संस्थान बनाया जाएगा।
  • इस नई शिक्षा नीति में 2040 तक सभी उच्च शिक्षा संस्थानों को बहु-विषयक संस्थान बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
  • भारतीय उच्चतर शिक्षा आयोग समग्र उच्च शिक्षा के लिए एकमात्र निकाय होगा। (चिकित्सा और कानूनी शिक्षा को छोड़कर)
  • भारत के उच्च शिक्षा आयोग में चार वर्टिकल होंगे जो राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा नियामक परिषद, सामान्य शिक्षा परिषद, उच्च शिक्षा परिषद और राष्ट्रीय प्रत्यायन परिषद होंगे।
  • शिक्षा नीति के तहत, सरकारी और निजी शिक्षा समान होगी और विकलांग लोगों के लिए शिक्षा बदली जाएगी।

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के तहत सुविधाएं

  • बच्चों के बैग के वजन को कम करने के लिए स्कूलों में क्लास टाइम टेबल भी बनाए जाएंगे। स्कूलों में रखी गई सभी पुस्तकों का वजन प्रकाशकों द्वारा उन पर मुद्रित किया जाएगा। स्कूलों द्वारा पुस्तकों का चयन करते समय पुस्तकों के वजन पर भी ध्यान दिया जाएगा।
  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत बच्चों के होमवर्क पर भी ध्यान दिया गया है। इस योजना के तहत, दूसरी कक्षा तक बच्चों को कोई होमवर्क नहीं दिया जाएगा, क्योंकि पहली और दूसरी कक्षा के छात्र बहुत कम उम्र के हैं और उन्हें इतने लंबे समय तक बैठने की आदत नहीं होती है।
  • स्कूलों को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि मध्याह्न भोजन की गुणवत्ता अच्छी हो, ताकि बच्चों को लंच बॉक्स नहीं लाना पड़े। स्कूलों में पानी की सुविधा भी ठीक से उपलब्ध हो, ताकि बच्चों को पानी की बोतलें नहीं लानी पड़े। इन सुविधाओं के कारण, स्कूल बैग का आकार कम हो जाएगा।
  • कक्षा III, IV और V के बच्चों को हर हफ्ते केवल 2 घंटे का होमवर्क दिया जाएगा। छठी से आठवीं कक्षा के बच्चों को रोजाना 1 घंटे का होमवर्क दिया जाएगा। और 9 वीं से 12 वीं कक्षा के बच्चों को प्रति दिन 2 घंटे का होमवर्क दिया जाएगा।

National Education Policy 2023 के विशेषताएं

  • इस पालिसी के अनुसार मानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय अब शिक्षा मंत्रालय के नाम से जाना जाएगा।
  • National Education Policy 2023 के अनुसार शिक्षा का सार्वभौमीकरण किया जाएगा और इसमें मेडिकल और लॉ की पढ़ाई शामिल नहीं की जाएगी।
  • हम जानते हैं कि पहले 10+2 का पैटर्न फॉलो किया जा रहा था लेकिन अब नई शिक्षा नीति के अनुसार 5+3+3+4 का पैटर्न फॉलो किया जाएगा, जिसमें 12 साल की स्कूली शिक्षा होगी और 3 साल की प्री स्कूली शिक्षा प्रदान किया जाएगी।
  • इस नई शिक्षा नीति के अनुसार छठी कक्षा से व्यवसायिक परीक्षण इंटर्नशिप आरंभ कर दी जाएगी।
  • पालिसी के अनुसार पांचवी कक्षा तक शिक्षा मातृभाषा या फिर क्षेत्रीय भाषा में प्रदान की जाएगी।
  • पहले शिक्षा नीति में साइंस, कॉमर्स तथा आर्ट स्ट्रीम होती थी, लेकिन अब ऐसी कोई भी स्ट्रीम नहीं होगी, अब छात्र अपनी इच्छा के अनुसार विषय चुन सकते हैं।
  • शिक्षा नींति के अनुसार छात्र फिजिक्स के साथ अकाउंट या फिर आर्ट्स का कोई भी विषय पढ़ सकते हैं।
  • नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2023 के अनुसार छात्रों को छठी कक्षा से कोडिंग सिखाई जाएगी।
  • इस National Education Policy 2023 के अनुसार सभी स्कूल डिजिटल इक्विप्ड किए जाएंगे।
  • सभी प्रकार की इकॉन्टेंट को क्षेत्रीय भाषा में ट्रांसलेट किया जा सकेगा।
  • नई शिक्षा नीति के माध्यम से वर्चुअल लैब डिवेलप किया जायेगा।

नई शिक्षा नीति 2023 के लाभ

  • इस योजना के माध्यम से भारत की अन्य प्राचीन भाषाओं को पढ़ने का विकल्प रखा जाएगा।
  • नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के अनुसार बोर्ड परीक्षा का तनाव भी कम होगा, जिससे छात्राओं पर कोई बोझ न पड़े और साथ ही सीखने को आसान बनाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर का भी इस्तेमाल किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत एमफिल की डिग्री खत्म कर दी जाएगी, और एक्स्ट्रा करिकुलर एक्टिविटीज को मैन सिलेबस में रखा जाएगा।
  • इस National Education Policy के द्वारा छात्रों को तीन मुख्य भाषाएं सिखाई जाएंगी, जो उनके राज्य स्तर पर निर्धारित की जाएंगी।
  • नई National Education Policy को लागू करने पर जीडीपी का 6% खर्च किया जाएगा।
  • इस योजना के द्वारा स्कूली शिक्षा के लिए पाठ्यक्रम की रूपरेखा राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और परिषद परिषद द्वारा तैयार की जाएगी।
  • नई शिक्षा नीति को लागू करने के लिए कई संस्थान स्थापित किए जाएंगे।

भूमि जानकारी

(MyNEP2020) नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के लिए रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

यदि आप नई नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के लिए रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं तो आपको नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करना होगा :

  • सबसे पहले आपको नेशनल एजुकेशन पॉलिसी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक कर देना है, अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा यहां आपको निम्न जानकारियों को दर्ज करना है।
    • फर्स्ट नेम
    • मिडल नेम
    • लास्ट नेम
    • जेंडर
    • डेट ऑफ बर्थ
    • मोबाइल नंबर
    • ईमेल आईडी
नेशनल एजुकेशन पॉलिसी
  • आपके द्वारा सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपकी नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के लिए रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

MYNEP 2020 प्लेटफॉर्म में लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको MYNEP2020 प्लेटफार्म की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
नेशनल एजुकेशन पॉलिसी
  • अब आपको इस पेज में अपना यूजरनेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड को भर देना है, और लॉगिन के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस तरह आप MYNEP2020 प्लेटफार्म पर लॉगिन कर सकते है।

Contact Us

इस लेख के द्वारा हमने आपको नेशनल एजुकेशन पॉलिसी से जुड़ी सभी जानकारी दी है। अगर आपको किसी भी तरह की परेशानी का सामना करना पढ़ रहा हैं तो आपको नीचे दिए गए कांटेक्ट पर संपर्क कर सकते हैं।

Important Download

Leave a Comment