राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना 2022 | PM Rashtriya Gokul Mission Yojana

Rashtriya Gokul Mission Yojana | राष्ट्रीय गोकुल मिशन भर्ती | राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना 2022 पंजीकरण प्रक्रिया

हमारे देश में गरीब नागरिको के लिए और किसानो के लिए कई अन्य तरह की सरकारी योजनए आरम्भ की जाती है इसके साथ ही राष्ट्रीय गोकुल मिशन को वैज्ञानिक तरीके से दूध उत्पादन और उत्पादकता में सुधार के लिए स्वदेशी गोजातीय नस्लों के विकास और संरक्षण की पहल के रूप में दिसंबर 2014 में शुरू किया गया है जिसमें बेहतर पोषण और कृषि प्रबंधन शामिल है, कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के साथ राष्ट्रीय गोकुल मिशन के कार्यान्वयन की घोषणा की। यह मिशन 12वीं पंचवर्षीय योजना के दौरान राष्ट्रीय गोजातीय प्रजनन और डेयरी विकास कार्यक्रम के तहत शुरू किया गया था, दोस्तों यदि आप केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई Rashtriya Gokul Mission के तहत लाभ उठाना चाहते है या आवेदन करना चाहते है तो आपको हमारे इस आर्टिकल को पढ़ना होगा, क्योकि हमने अपने इस लेख में PM Rashtriya Gokul Mission 2022 से संबंधित सभी जानकारी प्रदान की है। [यह भी पढ़ें- सीएससी केंद्र क्या है? CSC Center कैसे खोले, सीएससी रजिस्ट्रेशन व लॉगिन करे]

Rashtriya Gokul Mission 2022

केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना के तहत देश की सभी पशु पालन के लिए काम किया जाएगा और हम सभी जानते हैं कि हमारे देश में गायों को काफी ज्यादा महत्व दिया जाता है जिसके लिए सरकार ने Rashtriya Gokul Mission Yojana को शुरू किया है इस योजना के माध्यम से पशु पालन वाले नागरिको को सहायता के लिए और उनके विकास के लिए लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा बहुत पैसे खर्च किए हैं ताकि देश में जहां पर भी गांव साला है वही पर पूरी सुविधाएं दी जा सके और गायों को रखने में आसानी होगी। इसके आलावा उन सभी को किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना होगा, तो दोस्तों यदि आप राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना 2022 से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आपको हमरे इस लेख को पूरा देखना होगा। [यह भी पढ़ें- कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन 2021 | Kusum Yojana Registration, एप्लीकेशन फॉर्म]

राष्ट्रीय गोकुल मिशन

नरेंद्र मोदी योजना लिस्ट

Overview of Rashtriya Gokul Mission Yojana

योजना का नामराष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना
आरम्भ की गईकेंद्र सरकार के माध्यम से
वर्ष2022
लाभार्थीदेश के किसान एवं पशुपालक
उद्देश्यवैज्ञानिक और समग्र तरीके से पशु पालन एवं उसका संरक्षण
लाभगरीब किसान एवं पशुपालक को
श्रेणीकेंद्र सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट ———-

राष्ट्रीय गोकुल मिशन का उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा Rashtriya Gokul Mission को निम्नलिखित उद्देश्यों के साथ लागू किया गया है।

  • इस योजना के वैज्ञानिक और समग्र के माध्यम से स्वदेशी पशु पालन और संरक्षण को बढ़ावा देने का मुख्य उदेश्य है।
  • केंद्र सरकार के माध्यम से इस योजना के तहत किसानों को पशु पालन के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत स्वदेशी नस्लो के उच्च आनुवंशिकता योग्यता वाले बैलों का प्रचार करने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है।
  • इस योजना के तहत स्वदेशी नस्ल के सर्वोत्तम प्रबंधन एवं रख-रखाव के लिए किसानों को गोपाल रत्न पुरस्कार दिया गया है।
  • राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना 2022 को शुरू करने का मुख्य उदेश्य यह बताया है की इसके द्वारा दुग्ध उत्पादन और उत्पादकता में वृद्धि की जाएगी।

Rashtriya Gokul Mission की विशेषताए

ये योजना एक आर्थिक संसथान के तर्ज पर निम्नलिखित है जिसके तहत बिक्री के आधार पर आर्थिक संसाधन पैदा किया जा सकता है।

  • दुग्ध
  • जैविक खाद
  • बायो गैस से बिजली उत्पादन (घरेलु उपयोग के लिए)
  • पशु उत्पादों की बिक्री
  • केचुआ खाद
  • मूत्र डिस्टिलेट

प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना

राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना के पात्रता मापदंड

देश के जो भी नागरिक राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना में आवेदन करना चाहते है तो  उन सभी को दिए गए पात्रता मानदंड को देखना होगा।

  • इस योजना के तहत आवेदक को भारत का मूल निवासी होना चाहिए उसके बाद ही आवेदक आवेदन कर सकता है।
  • राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
  • केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई PM Rashtriya Gokul Mission योजना के तहत आवेदन करने के लिए सरकारी कर्मचारी नहीं होना चाहिए। 

Rashtriya Gokul Mission Yojana के तहत दी गई सहायता

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना के तहत राज्य सरकार ने 2500 करोड़ रूपये का उदेश्य रखा गया था लेकिन इस योजना के माध्यम से सभी नागरिको को सहायता पहुचाने के उदेश्य से सरकार ने कहा की दिसम्बर 2020 तक 1841.75 करोड़ रूपये की राशि खर्च हो गई है, और इस इसके आलावा Rashtriya Gokul Mission Yojana के तहत संसद में पूछे गए सवाल के जवाब में कृषि और पशुपालन मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया की इस योजना को देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित राज्य में शुरू किया जाएगा, जिसके लिए 2025 करोड़ रुपए की रही खर्च करने की और घोषणा की है। [यह भी पढ़ें- (Registration) वोटर आईडी कार्ड: ऑनलाइन एप्लीकेशन, Voter ID Card Apply]

राष्ट्रीय गोकुल मिशन कार्यक्रम

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना को राज्यो के पशुधन विकास बोर्ड जैसे संस्थानों के द्वारा आरम्भ किया गया है। इस योजना के तहत फंड एकीकृत स्वदेशी पशु केंद्र, गोकुल धाम की स्थापना के लिए दिया जाता है। इसके आलावा, स्वदेशी पशु विभाग में सबसे पहले जर्म्प्लाज्म के साथ महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एजेंसियों जैसे सीसीबीएफ, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, कृषि या पशुपालन विश्वविद्यालय, कॉलेज, सहकारी समितियां और गौशालाएँ भी जुड़े है इसके आलावा इस योजना मुख्य उदेश्य यह ही है की देश के पशु पालन वाले नागरिको को सहायता प्रदान की जाए ताकि वह सभी गांव में डेरी जैसे कार्यो को पूरा कर सके। [यह भी पढ़ें- पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम 2021: डाकघर बचत योजना आवेदन फॉर्म (PPF, NSC, FD ब्याज दर)]

Leave a Comment