प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021: ऑनलाइन फॉर्म | Mudra Loan Yojana Registration

Pradhanmantri Mudra Loan Yojana | प्रधानमंत्री मुद्रा योजना ऑनलाइन आवेदन | Apply Online, Application Form Pdf & Registration | प्रधानमंत्री मुद्रा योजना

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 8 अप्रैल 2015 को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021 की शुरुआत की थी। जिसका उद्देश्य केंद्र सरकार दुवारा गारन्टी लोन दिया जायेगा। युवाओं और छोटे कारोबारियों को अपना कारोबार बढ़ाने के लिए योजना की शुरुआत की। इस लेख में हम आपको Pradhanmatri Mudra Loan Yojana 2021  से जुडी सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है। यदि आप इस योजना में आवेदन करना चाहते है, तब इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े। आर्टिकल में बताया जायगा कि प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना का आवेदन कहा से तथा कैसे करे? उद्देश्य क्या है? लाभ क्या -क्या मिलेंगे। आदि, की जानकारी दी जायगी। [यह भी पढ़ें- (सच या झूठ) प्रधानमंत्री रामबाण सुरक्षा योजना 2021: PM Ramban Suraksha Yojana]

Table of Contents

Pradhan Mantri Mudra Yojana

PM Mudra Loan Yojana के अंतर्गत देश के सभी उद्यमियों को स्वयं का उद्योग आरंभ करने के लिए या फिर उसे बढ़ाने के लिए लोन प्रदान कराया जाएगा। युवाओं और छोटे कारोबारियों को अपना कारोबार बढ़ाने के लिए नरेंद्र मोदी की सरकार ने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021 की शुरुआत की। ये योजना उन लोगों के लिए ज्‍यादा उपयोगी जिन्‍हें बैंकों के नियम पूरा न कर पाने के कारण कारोबार के लिए लोन नहीं मिल पाता। यह योजना उन लोगों के लिए ज्‍यादा उपयोगी है, जिन्‍हें बैंकों के नियम पूरा नहीं कर पाने की वजह से अपना कारोबार शुरू करने के लिए बैंक लोन नहीं मिल पाता है। प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना 2021 के तहत तीन चरणों में लोन दिया जाता है। अधिकतर इसके तहत लोन की इसकी न्यूनतम ब्याज दर 12 फीसदी है।आर्थिक तंगी होने के कारणयदि आप अपना रोज़गार नहीं बढ़ा पा रहे हैं उन्हें 50,000 से लेकर 10,00,000 रुपए  तक का मुद्रा लोन प्रदान कराया जाएगा। [यह भी पढ़ें- नाबार्ड योजना 2021: डेयरी फार्मिंग योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म]

Pradhanmantri Mudra Loan Yojana

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना 2021

Pradhanmantri Mudra Loan Yojana Key Highlights

योजना का नामPradhan Mantri Mudra Loan Yojana
द्वारा लॉन्च किया गयाश्री नरेंद्र मोदी
योजना की तिथि प्रारंभ करेंवर्ष 2015
नोडल एजेंसी माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी
लाभार्थीलघु और मध्यम उद्यमी स्टार्टअप
लक्ष्यसशक्त बनाने के लिए
ऋण की राशि अधिकतम 10 लाख रुपये
आवेदन का तरीकाऑफलाइन
आवेदन फॉर्म भरना शुरू करेंअब उपलब्ध है
Type of scheme Central Govt. Scheme  
द्वारा लॉन्च किया गयाhttps://www.mudra.org.in/

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के तहत लगभग 28 करोड लाभार्थियों को मिला का लाभ

प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 8 अप्रैल 2015 को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत, देश के सभी उद्यमियों को अपना उद्योग शुरू करने या विकसित करने के लिए ऋण प्रदान किया जाएगा। वित्त मंत्रालय के मुताबिक, इस योजना के शुरू होने से अब तक 28.81 करोड़ लाभार्थियों को इस योजना के तहत बैंकों और वित्तीय संस्थानों से 15.10 लाख करोड़ रुपये तक के ऋण वितरित किए जा चुके हैं। यह जानकारी वित्त मंत्रालय के तहत वित्तीय सेवा विभाग ने एक ट्वीट के जरिए दी है। इस योजना के तहत तीन श्रेणियों में 10 लाख रुपये तक का गारंटी मुक्त ऋण प्रदान किया जाता है। ये तीन श्रेणियां शिशु, किशोर और तरुण हैं। इस योजना के तहत विनिर्माण, व्यापार और सेवा क्षेत्र और कृषि क्षेत्र से संबंधित गतिविधियों के लिए ऋण दिया जाता है। [यह भी पढ़ें- उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन: ऑनलाइन आवेदन | Udyog Aadhaar MSME Registration]

शिशु श्रेणी के लाभार्थियों को 2% ब्याज सहायता

पिछले साल कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन लगाया गया था। अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान शुरू किया गया था। इस अभियान के तहत प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना के तहत आने वाले शिशु श्रेणी के कर्जदारों को 2% ब्याज सबवेंशन प्रदान करने का निर्णय लिया गया। वे सभी उधारकर्ता जिनका 31 मई 2020 तक बकाया है और वे एनपीए श्रेणी में नहीं आते हैं, उन्हें ब्याज सबवेंशन योजना का लाभ दिया जाएगा। पिछले साल रिजर्व बैंक की योजना के तहत कोरोना वायरस संक्रमण के चलते कर्ज की अदायगी रोकने की अनुमति दी गई थी। स्थगन अवधि पूरी होने के बाद इस योजना के तहत आने वाले सभी उधारकर्ताओं को ब्याज सहायता योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। यह लाभ 12 महीने के लिए दिया जाएगा। [यह भी पढ़ें- (Vivah Panjikaran) विवाह पंजीकरण 2021: शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन, स्टेटस चेक]

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के तहत 91% लोन अब तक किए गए वितरित

हम सभी नागरिक जानते है की प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना को आरम्भ हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने वर्ष 2015 में किया था, और इस योजना को शुरू करने का मुख्य उदेश्य यह है की देश के नागरिको को खुद का छोटा व्यवसाय शुरू करने के लिए 10 लाख रूपये तक का सहायता के रूप में लोन मिल सके, इसके आलावा पिछले साल कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडाउन लगाया गया था, और अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए सरकार के माध्यम से आत्मनिर्भर भारत अभियान को भी शुरू किया गया था। इस अभियान के तहत प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना के तहत आने वाले शिशु श्रेणी के कर्जदारों को 2% ब्याज सबवेंशन प्रदान करने का निर्णय लिया गया। वे सभी उधारकर्ता जो 31 मई 2020 तक बकाया हैं और एनपीए श्रेणी में नहीं आते हैं उन्हें ब्याज सबवेंशन योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। पिछले साल रिजर्व बैंक की योजना के तहत कोरोना वायरस संक्रमण के चलते कर्ज की अदायगी रोकने की अनुमति दी गई थी, स्थगन अवधि पूरी होने के बाद इस योजना के माध्यम से आने वाले सभी उधारकर्ताओं को ब्याज सबवेंशन योजना का लाभ दिया जाएगा, और यह लाभ 12 महीने के लिए दिया जाएगा। [यह भी पढ़ें- पीएम मोदी ट्रांसपेरेंट टैक्सेशन क्या है | Transparent Taxation Platform लाभ व कार्य प्रणाली]

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के 6 साल

कारोबार के लिए बिना गारंटी के ऋण उपलब्ध कराने के लिए Pradhan Mantri Mudra Yojana शुरू की गई है। इस योजना के तहत तीन प्रकार के ऋण प्रदान किए जाते हैं जो शिशु मुद्रा ऋण, किशोर मुद्रा ऋण और तरुण मुद्रा ऋण हैं। शिशु मुद्रा लोन के तहत 50 हज़ार रूपए तक का लोन दिया जाता है। किशोर मुद्रा लोन के तहत 50 हज़ार रूपए  से 5 लाख रूपए तक के लोन दिए जाते हैं और तरुण मुद्रा लोन के तहत 5 लाख रूपए से 10 लाख रूपए तक के मुद्रा लोन दिए जाते हैं। यह योजना 8 अप्रैल 2015 को शुरू की गई थी। इस योजना के तहत कोई निश्चित ब्याज दर नहीं है। प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के तहत अलग-अलग बैंक अलग-अलग ब्याज दर वसूलते हैं। [यह भी पढ़ें- एलआईसी आम आदमी बीमा योजना 2021 | ऑनलाइन आवेदन, क्लेम फॉर्म पीडीएफ]

  • प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना के माध्यम से अब तक पिछले 6 वर्षों में 28.68 लाभार्थियों को 14.96 लाख करोड़ रुपये का ऋण प्रदान किया गया है। इस योजना के माध्यम से 2015 से 2018 के बीच लगभग 1.12 करोड़ अतिरिक्त रोजगार सृजित किए गए हैं।
  • इस योजना के माध्यम से छोटे व्यवसाय को प्रोत्साहित किया गया है। सरकार द्वारा वर्ष 2020-21 में 4.20 करोड़ लाभार्थियों को ऋण प्रदान किया गया। वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए 19 मार्च 2021 तक लाभार्थियों को 2.66 लाख करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।
  • लगभग 88% शिशु ऋण प्रधान मंत्री मुद्रा ऋण योजना के तहत प्रदान किए गए थे। 24% नए उद्यमियों को ऋण प्रदान किया गया। 68% ऋण महिलाओं को उपलब्ध कराया गया और 51% ऋण अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़े वर्ग के नागरिकों को उपलब्ध कराया गया। इसके अलावा अल्पसंख्यक समुदाय के नागरिकों को करीब 11 फीसदी कर्ज दिया गया।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना का उद्देश्य

यह योजना उन लोगों के लिए ज्‍यादा उपयोगी है, जिन्‍हें बैंकों के नियम पूरा नहीं कर पाने की वजह से अपना कारोबार शुरू करने के लिए बैंक लोन नहीं मिल पाता है। PM Mudra Loan Yojana के तहत भारत सरकार द्वारा गारंटी फ्री लोन जो कि 50000 रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक का लोन प्रदान कराया जाएगा। इस योजना के जरिए लाभार्थी आत्मनिर्भर और सशक्त बनेंगे। मुद्रा लोन से कोई भी ब्यक्ति आसानी से लोन ले सकेगा| इस मुद्रा लोन से 10 लाख तक का लोन आसानी से लिया जा सकेगा, योजना दुवारा प्राप्त मुद्रा लोन स्कीम मैं किसी भी गारन्टी की जरूरत नई होगी। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021 के तहत, वित्तीय वर्ष 2020-21 की पहली तीन तिमाहियों में 91% लाभार्थियों को ऋण राशि वितरित की गई है। प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना के तहत कुल 2.68 करोड़ लाभार्थियों को मंजूरी दी गई है, जिसके तहत 1,62195.99 करोड़ रुपये लाभार्थियों को प्रदान किए जाएंगे। इस राशि में से 1,48,388.08 रुपये 8 जनवरी 2021 तक लाभार्थियों को प्रदान किए गए। वित्तीय वर्ष 2020 और वित्तीय वर्ष में बैंकों, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों, सूक्ष्म वित्त संस्थानों आदि के माध्यम से 97.6% और 97% ऋण वितरित किए गए हैं। 2019. है। जिसमें लगभग 329684.63 करोड़ रुपये और 311811.38 करोड़ रुपये लाभार्थियों के खाते में स्थानांतरित किए गए हैं। [यह भी पढ़ें- स्वामित्व योजना 2021: PM Swamitva Yojana ऑनलाइन पंजीकरण, लाभ, पात्रता]

  • इस योजना के तहत, नवंबर 2020 तक 1.54 ऋणों को मंजूरी दी गई थी, जिसके तहत 98,916.65 करोड़ रुपये की राशि लाभार्थियों के खाते में हस्तांतरित की जानी थी। 13 नवंबर 2020 तक, 91936.62 करोड़ की राशि लाभार्थियों के खाते में पहुंच गई थी।
  • मुद्रा लोन योजना के तहत 50000 से 1000000 तक के ऋण दिए जाते हैं। शिशु कवर के तहत 50000 रुपये तक के ऋण दिए जाते हैं। किशोर कवर के तहत 500000 तक के ऋण दिए जाते हैं और तरुण की श्रेणी में 1000000 तक के ऋण दिए जाते हैं।
  • 31 जनवरी 2020 तक, लगभग 22.53 करोड़ लोगों ने प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021 का लाभ उठाया है, जिनमें से 15.75 करोड़ ऋण महिलाओं को प्रदान किए गए हैं। यह संख्या कुल लाभार्थियों का 70% है। एमएलएमई को दोनों कॉल से उभरने में मदद करने के लिए सरकार द्वारा 80 मिलियन ऋण प्रदान किया जाएगा। जिस पर 2.05 लाख करोड़ रुपये खर्च होंगे। इस 2.05 लाख करोड़ रुपये में से 1.58 लाख करोड़ रुपये का ऋण 4 दिसंबर, 2020 तक इमरजेंसी क्रेडिट लाइन मेडियन स्कीम के तहत स्वीकृत किया गया है।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना कमर्शियल वाहन खरीद

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना को केंद्र सरकार ने देश के नागरिकों को लाभ पहुचाने और अपना व्यवसाय स्थापित के लिए लोन देने लिए शुरू किया था। केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना के द्वारा कई नागरिको ने लाभ उठाया है, अगर आपको सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना का लाभ उठाना हैं तो आप इसके लिए आने नजदीकी बैंक में जा कर आवेदन ककर सकते है। साकार के अनुसार इस योजना के द्वारा देश के नागरिको ₹1000000 तक का लोन प्रदान किया जाएगा। इस Pradhanmantri Mudra Loan Yojana के माध्यम से सरकार कमर्शियल वाहन खरीदने के लिए भी लोन दिया जाएगा, इस योजना के द्वारा सरकार के माध्यम से ट्रैक्टर, ऑटो रिक्शा, टैक्सी, ट्रॉली, माल परिवहन वाहन, तीन पहिया वाहन, ई-रिक्शा आदि खरीदने के लिए भी लोन लिया जा सकता है। इस योजना को शुरू करने के पीछे सरकार का यह मुख्य उदेश्य है की देश के नागरिको को उनका खुद का व्यवसाय करने में सहायता दी जाए। [यह भी पढ़ें- मिड डे मील योजना क्या है (मध्याह्न भोजन) | Mid Day Meal Scheme in Hindi]

Pradhanmatri Mudra Loan Yojana के लाभ

  • मुद्रा लोन से कोई भी ब्यक्ति आसानी से लोन ले सकेगा | इस मुद्रा लोन से 10 लाख तक का लोन आसानी से लिया जा सकेगा।
  • योजना दुवारा प्राप्त मुद्रा लोन स्कीम मैं किसी भी गारन्टी की जरूरत नई होगी।
  • मुद्रा लोन से छोटे दुकानदारो को भी लाभ मिलेगा जो अपने कारोबार को आगे बड़ा सकते हैं ।
  • बैंक ऋण देने वाली संस्थाओं को नई तकनीक उपलब्ध कराएगी जिससे ऋण लेने और देने में आसानी होगी।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के प्रकार

भारत सरकार प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना तीन प्रकार से प्रदान कर रही है। जिसमे पहला शिशु लोन है ,शिशु लोन के अंतर्गत बैंक द्वारा 50000 रुपए तक का लोन प्रदान कराया जाएगा। दूसरा किशोर लोनहै, जिसके अंतर्गत  50000 से लेकर 500000 रुपए तक का लोन किशोर लोन के अंतर्गत प्रदान कराया जाएगा। तीसरा  तरीका तरुण लोन 500000 से लेकर 1000000 रुपए  तक का लोन बैंक द्वारा तरुण लोन के अंतर्गत प्रदान कराया जाएगा। इस  मुद्रा योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा मार्च 2019 तक 18.87 लाभार्थियों को शामिल किया गया है और 9.27 लाख करोड़ रुपए इस योजना में इन्वेस्ट किए गए है। [यह भी पढ़ें- Mera Ration App: वन नेशन वन राशन कार्ड, लाभ व विशेषताएं, डाउनलोड लिंक]

SSPMIS Payment Status 2021

मुद्रा कार्ड के बारे में 

मुद्रा योजना के अंतर्गत सभी लोन आवेदनकर्ताओं को बैंक द्वारा प्रधान मंत्री मुद्रा लोन योजना में लोन देते समय मुद्रा कार्ड भी प्रदान किया जाता है। यह कार्ड ATM की तरह ही होता है। इस कार्ड के द्वारा आवेदनकर्ता 10% तक की धनराशि खर्च कर सकता है। मुद्रा कार्ड बिल्कुल ATM की तरह ही होता है। इससे आप कहीं भी किसी भी एटीएम से पैसे निकालने और भुगतान करने के लिए उपयोग कर सकते हैं। मुद्रा कार्ड का मुख्य उद्देश्य व्यापारियों की वर्किंग कैपिटल  की सभी जरूरतों को पूरा करना है। इस मुद्रा कार्ड के साथ आपको एक पासवर्ड दिया जाएगा इसे आपको गोपनीय रखना होगा। [यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना 2021: Saubhagya Yojana, ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म]

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना पात्रता मानदंड

  • इस छोटे उद्योग से लेकर लघु और कुटीर उद्योग तक के उद्योगी प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में शामिल है।
  • योजना के माध्यम से लोन लेते समय आवेदक के पास व्यवसाय की योजना होनी चाहिए।
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021

दिव्यांगजन शादी विवाह प्रोत्साहन योजना 2021

  • आवेदक को भारत देश का निवासी होना अनिवार्य है।
  • प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना हेतु आवेदक की उम्र 18 अधिक होनी चाहिए।

PM Mudra Loan Yojana महत्वपूर्ण दस्तावेज

यदि आप भी इस में आवेदन करना चाहते है, तब आपके पास नीचे लिखे हुए डाक्यूमेंट्स होने चाहिए यदि आपके पास इनमे से कोई एक डॉक्यूमेंट भी नहीं है तब आप Mudra Loan Yojana का लाभ नहीं उठा है।

  • मोबाइल नंबर 
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • पैन कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • सेल्स टैक्स रिटर्न
  • इनकम टैक्स रिटर्न
  • पिछले वर्ष की बैलेंस शीट
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता

कौनकौन प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का लाभ उठा सकता है?

  • सोल प्रोपराइटर
  • पार्टनरशिप
  • माइक्रो उद्योग
  • मरम्मत की दुकान
  • ट्रकों के मालिक
  • खाने से संबंधित व्यापार
  • विक्रेता (फल और सब्जियां)
  • माइक्रो मैन्युफैक्चरिंग फर्म
  • सर्विस सेक्टर की कंपनियां

मुद्रा योजना के तहत आने वाले बैंक

  • केनरा बैंक
  • फेडरल बैंक
  • इंडियन बैंक
  • कोटक महिंद्रा बैंक
  • सरस्वत बैंक
  • यूको बैंक
  • बइलाहाबाद बैंक
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • कॉरपोरेशन बैंक
  • आईसीआईसीआई बैंक
  • j&k बैंक
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • सिंडिकेट बैंक
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • आंध्र बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • देना बैंक
  • आईडीबीआई बैंक
  • कर्नाटक बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • तमिलनाडु मरसेटाइल बैंक
  • एक्सिस बैंक ऑफ़ बरोदा
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  • एचडीएफसी बैंक
  • इंडियन ओवरसीज बैंक
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021 में आवेदन की प्रक्रिया

ऑनलाइन  प्रक्रिया

भारत के जो इच्छुक नागरिक ऑनलाइन प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021 रजिस्ट्रेशन करना चाहते है। वे नीचे दिए गए चरणों का पालन कर आसानी से देख सकते है-

  • सबसे पहले की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जाएगा।
मुद्रा लोन योजना
  • होम पेज पर आपको मुद्रा योजना के प्रकार दिखाई देंगे जो कि कुछ इस प्रकार है।
  • फिर डाउनलोड एप्लीकेशन फॉर्म पर क्लिक करिए।
  • अब एप्लीकेशन फॉर्म  पूछी गई सभी जरूरी जानकारियां ध्यान से भर देनी है ।
  • उसके बाद सभी जरूरी दस्तावेजों को अटैच करना होगा ।
  •  अब आपको सबमिट पर क्लिक करना होगा।

ऑफलाइन प्रक्रिया

  • इसलिए सबसे पहले आपको इस योजना के अंतर्गत आने वाले संबंधित बैंक में जाना होगा। 
  • तब आपको आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा। 
  • अब इस आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जरूरी जानकारी जैसा नाम, पता, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड होगा भरना ।
  • फिर आपको सभी जरूरी दस्तावेजों को अटैच करना होगा ।
  • इसके बाद फॉर्म बैंक में जमा कर दीजिए।
  • यह फॉर्म जमा करने के 1 महीने के अंतर्गत बैंक अधिकारी द्वारा आपका आवेदन फॉर्म सत्यापित करने के बाद लोन की धनराशि आपके बैंक अकाउंट में भेज दी जाएगी।

मुद्रा पोर्टल पर लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुद्रा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर, आपको लॉगिन बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना यूजरनेम, पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • अब आपको लॉगिन बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप मुद्रा पोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

मुद्रा लोन योजना हेल्पलाइन नंबर 2021- Pradhan Mantri Mudra Yojana

राज्यफ़ोन नंबर
महाराष्ट्र18001022636
चंडीगढ़18001804383
अंडमान और निकोबार18003454545
अरुणाचल प्रदेश18003453988
बिहार18003456195
आंध्र प्रदेश18004251525
असम18003453988
दमन और दीव18002338944
दादरा नगर हवेली18002338944
गुजरात18002338944
गोवा18002333202
हिमाचल प्रदेश18001802222
हरियाणा18001802222
झारखंड18003456576
जम्मू और कश्मीर18001807087
केरल180042511222
कर्नाटक180042597777
लक्षद्वीप4842369090
मेघालय18003453988
मणिपुर18003453988
मिजोरम18003453988
छत्तीसगढ़18002334358
मध्य प्रदेश18002334035
नगालैंड18003453988
दिल्ली के एन.सी.टी.18001800124
ओडिशा18003456551
पंजाब18001802222
पुडुचेरी18004250016
राजस्थान18001806546
सिक्किम18004251646
त्रिपुरा18003453344
तमिलनाडु18004251646
तेलंगाना18004258933
उत्तराखंड18001804167
उत्तर प्रदेश18001027788
पश्चिम बंगाल18003453344

Important Download

Leave a Comment