राजस्थान मातृत्व पोषण योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना 2021 | Rajasthan Matritva Poshan Yojana Application Form | Online Registration Procedure | Check Beneficiary List & Status

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना को राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा जयपुर राज्य के चार जिलों की गर्भवती महिलाओं को आर्थिक रूप से सहायता देने के लिए 19 नवंबर 2020 शुरू की गयी है। Rajasthan Matritva Poshan Yojana के अंतगर्त गर्भवस्था महिलाओं को अपने भरण-पोषण के लिए सरकार द्वारा 6000 रुपये की धनराशि आर्थिक मदद के रूप में अलग-अलग किस्तों में दी जाएगी। हम आपको अपने इस आर्टिकल के द्वारा Rajasthan Matritva Poshan Yojana से जुड़ी पूरी जानकारी बतायगे। जैसे इस योजना लाभ क्या है और विशेषताएं क्या है, इस योजना के उद्श्य क्या है तथा आवेदन की प्रक्रिया क्या है। और पूरी जानकारी के लिए आपसे अनुरोध है की आप हमारे इस आर्टिकल को ध्यान से पूरा पढ़ें। [यह भी पढ़ें- (5000 रूपये) इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता व लाभ]

Rajasthan Matritva Poshan Yojana

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना के अंतगर्त  महिला के गर्भ अवस्था के दौरान 6000 रुपये की धनराशि आर्थिक मदद के रूप में अलग-अलग किस्तों में दी जाएगी। 1000 रुपये की पहली किस्त गर्भावस्था के दौरान पंजीकरण करवाने पर, 2000 रुपये की दूसरी किस्त गर्भावस्था के 6 महीने के बाद , 2000 रुपये धनराशि की तीसरी किस्त बच्चे के जन्म के बाद और 1000 रुपये की आखरी किस्त डिलीवरी जनरल सुरक्षा योजना के दौरान दी जाएगी। Rajasthan Matritva Poshan Yojana को अभी चार जिलों में ही शुरू किया गया है जिसमें उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा तथा प्रतापगढ़ शामिल है। इस योजना को शुरू करने का मुख्य उध्श्ये है कि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को सही भरण-पोषण दिया जाए ताकि उनका बच्चा ठीक रहे। [यह भी पढ़ें- (पंजीकरण) मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म]

मातृत्व पोषण योजना

राजस्थान रोजगार मेला 2021

मातृत्व पोषण योजना के मुख्य तथ्य

योजना का नामराजस्थान मातृत्व पोषण योजना 2021
किसके द्वारा शुरू की गईराजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा
आरम्भ तिथि19 नवंबर 2020
विभागमहिला एवं बाल विकास विभाग
योजना के लाभार्थीराज्य की गर्भवती महिलाएं
योजना का उद्देश्यगर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना
योजना का लाभ6000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करना
किन जिलों में शुरू की गईउदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा और प्रतापगढ़
आवेदन का प्रकारअभी घोषित नहीं की गई
Govt. Of RajasthanOfficial Website

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना का उद्देश्य

 हमारे देश के गर्भवती महिलाओं की गरीबी होने के कारण वह अपने गर्भावस्था के दौरान ठीक से भरण-पोषण नहीं कर सकती हैं। तथा ऐसी स्थिति में उनके शिष्यों की सेहत भी अच्छी नहीं बन पाती जिस वजह से उनके बच्चो की मृत्यु हो जाती है। इन बातो को ध्यान में रखते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा राजस्थान मातृत्व पोषण योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के द्वारा  4 जिलों की गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपये की धनराशि आर्थिक मदद के रूप दी जाएगी। जिसके द्वारा  गर्भ अवस्था में मैं होने वाले सभी काम आसानी से कर सके। और एक स्वास्थ्य शिशु को ठीक से जन्म दे पाए। [यह भी पढ़ें- (रजिस्ट्रेशन) मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, लाभ व पात्रता सूची]

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • Rajasthan Matritva Poshan Yojana का शुभारंभ 19 नवंबर 2020 को राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा किया गया।
  • इस योजना को चार टीएसपी जिलों जैसे उदयपुर बांसवाड़ा डूंगरपुर और प्रतापगढ़ में आरम्भ किया गया है।
  • इस योजना के अंतगर्त 6000 रुपये की धनराशि आर्थिक सहायता गर्भवती महिलाओं को दी जायगी।
  • Rajasthan Matritva Poshan Yojana के द्वारा दी जाने वाली धनराशि सीधे नागरिक के बैंक अकाउंट में भेज दी जाएगी।
  • इस योजना के द्वारा गर्भवती महिलाओं को उचित पोषण मिलेगा जिससे बच्चे का ठीक जन्म होगा।
  • Rajasthan Matritva Poshan Yojana के द्वारा महिलाएं सशक्त व आत्मनिर्भर बनेंगी।
  • के द्वारा दूसरे संतान पर भी आर्थिक सहायता के रूप में दी जाएगी।
  • राजस्थान मातृत्व पोषण योजना के द्वारा खर्च होने वाले सब पैसे राज्य सरकार द्वारा दिया जायेगा।

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत दी जाने वाली आर्थिक सहायता

क़िस्तआर्थिक सहायताकिस समय प्रदान की जाएगी सहायता?
पहली क़िस्त₹1000गर्भावस्था जाच और पंजीकरण होने पर
दूसरी क़िस्त₹1000दो प्रसव पूर्व जांच होने पर
तीसरी क़िस्त₹1000संस्थागत प्रसव होने पर
चौथी क़िस्त₹2000बच्चे की जन्म से 105 दिन तक सभी नियमित टीके लगने तथा बच्चे के जन्म का पंजीकरण होने की स्थिति में
पांचवी क़िस्त₹1000बच्चे के जन्म के 3 माह के भीतर परिवार नियोजन के साधन अपनाने पर

प्रधान मंत्री की अन्य सरकारी योजनाएँ :-

Rajasthan Matritva Poshan Yojana के लिए पात्रता

  • आवेदक को राजस्थान का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक एक महिला लाभार्थी होनी चाहिए।
  • केवल गर्भवती महिलाएं हैं इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • उम्मीदवार का बीपीएल परिवार से होना अनिवार्य है।

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट पासबुक

मातृत्व पोषण योजना स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

राजस्थान मातृत्व पोषण योजना 2021 के तहत अभी तक आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है। जैसे ही इसके आवेदन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी, हम आपको इस लेख के माध्यम से आवेदन की स्थिति की जांच करने की प्रक्रिया भी प्रदान करेंगे। यदि आप राजस्थान मातृत्व पोषण योजना से संबंधित किसी भी कठिनाई का सामना करते हैं, तो इस लेख के माध्यम से हम आपकी कठिनाई का समाधान प्रदान करेंगे। [यह भी पढ़ें- खाद्य सुरक्षा योजना राजस्थान: लाभार्थी सूची eMitra ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म]

मातृत्व पोषण योजना एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड Pdf

इसकी आधिकारिक वेबसाइट अभी तक मातृत्व पोषण योजना के तहत लॉन्च नहीं की गई है। और सरकार को आवेदन पत्र से संबंधित कोई जानकारी नहीं मिली है। जैसे ही सरकार द्वारा आधिकारिक वेबसाइट लॉन्च की जाएगी, इस लेख के माध्यम से, हम आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट से आवेदन पत्र डाउनलोड करने की प्रक्रिया के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे। अगर हमें इस योजना से संबंधित कोई भी जानकारी मिलती है तो हम इस लेख के माध्यम से सभी जानकारी साझा करेंगे। [यह भी पढ़ें- राजस्थान जन सूचना पोर्टल 2021: योजनाओं की सूची, jansoochna.rajasthan.gov.in]

Leave a Comment