राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY): ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, कार्यान्वयन व लाभ

Rashtriya Krishi Vikas Yojana Apply Online | राष्ट्रीय कृषि विकास योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | राष्ट्रीय कृषि विकास योजना क्या है | Rashtriya Krishi Vikas Yojana PDF in Hindi

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना का शुभारंभ भारत सरकार द्वारा किया गया है। इस योजना के माध्यम से कृषि फसल में सुधार किया जायेगा। इस योजना के माध्यम से किसानो को आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतगर्त कृषि एवं संबंधित क्षेत्रों में विकास किया जायेगा। इस योजना के अंतगर्त किसानो को अपने कृषि व्यवसाय को बढ़ाने का मौका मिलेगा। इस योजना के माध्यम से किसानों की हर प्रकार की आवश्यकताओं की पूर्ति की जाएगी। राज्य और केंद्र सरकार द्वारा समय–समय पर कई प्रकार की योजनाओं को शुरू किया जाता है। इस बार भी किसानों की कृषि संबंधी समस्याओं को देखते हुए राष्ट्रीय कृषि विकास योजना को शुरू किया गया है। Rashtriya Krishi Vikas Yojana की सम्पूर्ण जानकारी हमने आपको इस लेखन के माध्यम से प्रदर्शित कर दी है। इस योजना की पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारे इस लेखन को अंत तक पढ़ना होगा। [यह भी पढ़ें- (रजिस्ट्रेशन) Gram UJALA Scheme 2022: ग्राम उजाला प्रोग्राम लाभ व पात्रता]

Rashtriya Krishi Vikas Yojana 2022

केंद्र सरकार द्वारा साल 2007 में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना को शुरू किया गया था। इस योजना के माध्यम से किसानों की कृषि संबंधी परेशानियों को दूर किया जायेगा। इस योजना के अंतगर्त कृषि और संबंधित क्षेत्रों में विकास किया जायेगा। जिसके अंतगर्त राज्य एवं केंद्र राज्यों द्वारा  कृषि और संबंधित क्षेत्रों में विकास करने हेतू कार्यों का आसानीपूर्वक चयन किया जा सकता है। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) को सरकार द्वारा 11वी और 12वीं पंचवर्षीय योजना में लागू किया गया था। 11वीं पंचवर्षीय योजना के अंतगर्त राज्यों में 22408.76 करोड़ रूपए आवंटित करने का प्रावधान जारी किया गया था और साथ ही 5768 परियोजनाओं का शुभारंभ किया गया था। [यह भी पढ़ें- (रजिस्ट्रेशन) ई श्रमिक कार्ड क्या है | E-Shram Card Registration, CSC लॉगिन, eshram.gov.in]

  • राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतगर्त 12वीं पंचवर्षीय योजना में 3148.44 करोड़ रूपए आवंटित करने का प्रावधान जारी किया गया था।
  • फसल विकास, बागवानी, कृषि मशीनरीकरण क्षेत्रों में विकास करने हेतु 7600 योजनाओं को शुरू किया गया था।
  • Rashtriya Krishi Vikas Yojana को साल 2014-15 तक 100% केंद्रीय सहायता के साथ शुरू किया जा रह  था।
  • 2015-16 से राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) की गतिविधियों के पैमाने को केंद्र और राज्य सरकारों  के बीच 60:40 के अनुपात में बांट दिया गया था।
  • केंद्र शासित के लिए Rashtriya Krishi Vikas Yojana 2022 (RKVY) का पैमाना 100% मूल्यांकन ही है।
Rashtriya Krishi Vikas Yojana

नरेंद्र मोदी योजना लिस्ट

Overview of Rashtriya Krishi Vikas Yojana

योजना का नामराष्ट्रीय कृषि विकास योजना   
आरम्भ की गईभारत सरकार
वर्ष2022
लाभार्थीदेश के किसान
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यकृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों  में विकास सुनिश्चित करना
लाभकिसानों की आय में वृद्धि लाना
श्रेणीकेंद्र सरकार योजना
आधिकारिक वेबसाइटwww.rkvy.nic.in

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना (RKVY Scheme) का उद्देश्य

भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) को शुरू किया गया है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि किसानों को कृषि एवं संबंधित क्षेत्रों में विकास सुनिश्चित करवाया जाये। इस योजना के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि होगी। जिससे की वह अपने परिवार वालों के साथ एक सुखी जीवन यापन व्यतीत कर सके। RKVY Scheme के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि किसानों को सालाना वृद्धि दर प्राप्त हो रही है या फिर नहीं। इस योजना के माध्यम से किसानों को हर प्रकार की कृषी संबंधी परेशानियों से मुक्त किया जायेगा। RKVY Scheme के अंतगर्त किसानों की कृषि संबंधी आवश्यकताओं की पूरा करने के लिए कई योजनाओं को भी शुरू किया जायेगा। [यह भी पढ़ें- PM Modi Yojana 2022: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्कीम्स लिस्ट | पीएम मोदी सरकारी योजना सूची]

  • राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के माध्यम से कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों में सार्वजनिक विकास को बढ़ाने में वृद्धि की जाएगी।
  • किसानों को कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों  में अधिक मात्रा में लाभ प्रदान करवाने के उद्देश्य से  राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) को शुरू किया गया है।
  • Rashtriya Krishi Vikas Yojana  के माध्यम से उत्पादन में भी वृद्धि देखने को मिलेगी।
  • कृषि एवं संबंधित क्षेत्रों का विकास करने हेतु राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) बहुत ही ज्यादा फायदेमंद साबित होगी।

Benefits & Features of RKVY Scheme

  • साल 2007 में Rashtriya Krishi Vikas Yojana का शुभारंभ केंद्र सरकार द्वारा किया गया था।
  • राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) के अंतगर्त किसानों की कृषि और संबंधित क्षेत्रों में विकास को सुनिश्चित किया जाएगा।
  • जिसके माध्यम से  राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा कृषि और संबंधित क्षेत्रों के कार्य-भार का  चयन कर पाने का सुनहरा मौका मिल जायेगा।
  • 11वीं पंचवर्षीय योजना एवं 12वीं पंचवर्षीय योजना में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) को शुरू किया गया था।
  • इस योजना के माध्यम से महत्वपूर्ण फसलों के अंतर में कमी लाने के लिए प्रावधान जारी किया गया है।
  • घटकों का अच्छे तरीक़े से समाधान निकालकर Rashtriya Krishi Vikas Yojana के  माध्यम से उनके उत्पादन में भी वृद्धि की जाएगी।
  • देश के सभी किसानों को उनकी स्थानीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY) के माध्यम  से उत्पादन भी प्रदान किया जाएगा।
  • कृषि क्षेत्र में मशरूम की खेती,फूलों की खेती के आधार पर Rashtriya Krishi Vikas Yojana के अंतगर्त किसानों की आय में दोगुना बढ़ोतरी करने पर भी ध्यान दिया जायेगा।

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना प्रोजेक्ट रिपोर्ट

  • देश के सभी राज्यों को राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के कार्यान्वयन के लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार की जाएगी।
  • इस रिपोर्ट को केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए फॉर्मेट के आधार पर ही तैयार किया जायेगा।
  • जिन प्रोजेक्टों की कुल लागत का बजट 25 करोड़ रुपए से अधिक होगा। उन प्रोजेक्टों के लिए डीपीआर थर्ड पार्टी के जरिये किया जायेगा।
  • राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 के अंतगर्त शुरू की गई परियोजना राज्य और केंद्र सरकार द्वारा पहले से शुरू की गई किसी भी परियोजना से मिलती-जुलती नहीं होनी चाहिए।
  • योजना के अंतगर्त डीपीआर द्वारा वार्षिक फिजिकल एवं फाइनल टारगेट हर किसी प्रोजेक्ट में उपलब्ध करवाए जायेगे।
  • शुरू किये गए इन प्रोजेक्ट्स को कृषि विभाग द्वारा राज्य लेवल प्रोजेक्ट स्क्रीनिंग कमेटी को जमा करवा दिया जायेगा।
  • राज्य लेवल स्क्रीनिंग कमेटी द्वारा प्रोजेक्ट को निश्चित करने के बाद स्टेट लेवल सैंक्शनिंग कमेटी को अप्रूव होने के लिए जमा करवा दिया जायेगा।

Rashtriya Krishi Vikas Yojana का कार्यान्वयन

  • राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के संचालन की पूरी जिम्मेवारी कृषि विभाग नोडल एजेंसी की होगी।
  • इस योजना के अंतगर्त राज्य स्तर पर संचालन करने के लिए राज्य सरकार द्वारा राज्य स्तरीय कार्यान्वयन एजेंसी को शुरू किया जायेगा।
  • कार्यान्वयन एजेंसियो को संचालित करने के लिए राज्य को प्रदान किये गए कुल बजट में से 2% राशि को खर्चे के रूप में उपयोग किया जायेगा।
  • स्टेट एग्रीकल्चर प्लान एवं स्टेट एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट प्लान का शुभारंभ कार्यान्वयन एजेंसी द्वारा किया जायेगा।
  • योजना को संचालित कार्यान्वयन एजेंसी द्वारा किया जायेगा।
  • Rashtriya Krishi Vikas Yojana 2022 के संचालन और महत्वता की जिम्मेदारी भी कार्यान्वयन एजेंसी की ही होगी।
  • राज्य द्वारा प्रदान किये गए बजट का आयोजन भी कार्यान्वयन एजेंसी के अंतगर्त किया जायेगा।
  • यूटिलाइजेशन सर्टिफिकेट को जमा करवाने का प्रावधान भी कार्यान्वयन एजेंसी के माध्यम से ही किया जायेगा।

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 के तहत फंडिंग

  • राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतगर्त एसएलएससी द्वारा नई परियोजनाओं के संचालन की मंजूरी देने और चालू वित्तीय वर्ष के दौरान चालू परियोजनाओं को शुरू रखने के साथ-साथ समर्थन परियोजनाओं की सूची को तैयार करने के लिए सालाना आवंटन का 50% राज्यों को पहली किश्त के रूप में प्रदान किया जाएगा। 
  • यदि समर्थन परियोजनाओं की कुल लागत सालाना संपूर्ण व्यय से कम है, तो समर्थन परियोजना को लागत की 50% तक की राशि Rashtriya Krishi Vikas Yojana के अंतगर्त प्रदान करवा दी जाएगी।
  • सरकार द्वारा रखी गई कुछ शर्तों को पूरा करने के बाद ही 50% की दूसरी और अंतिम किश्त को लागु करने पर  विचार विमर्श किया जायेगा-
    • पहली किस्त का 100% यूटिलाइजेशन सर्टिफिकेट
    • पहली किस्त के अंतर्गत न्यूनतम 60% राशि के खर्च होने पर
    • परफॉर्मेंस रिपोर्ट जमा करने पर
  • राज्य सरकार द्वारा यदि Rashtriya Krishi Vikas Yojana 2022 के अंतगर्त समय पर सभी दस्तावेजों को जमा नहीं करवाया जाता, तो ऐसी स्थिति में  दूसरी किश्त की राशि अन्य राज्य को प्रदान कर दी जाएगी।
  • नोडल विभाग द्वारा Rashtriya Krishi Vikas Yojana के अंतगर्त यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सभी अकाउंट को बनाने का कार्य सही ढ़ंग से किया जा रहा है, या फिर नहीं।

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत पात्रता एवं इंटर स्टेट फंड एलोकेशन

  • केवल भारत का स्थायी निवासी ही RKVY Scheme के तहत आवेदन के लिए पात्र है।
  • राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतगर्त केंद्र सरकार द्वारा 60% राशि को और राज्य सरकार द्वारा 40% राशि को उपयोग में लाया जायेगा।
  • दक्षिण पूर्वी और पहाड़ी राज्यों की स्थिति के अनुसार Rashtriya Krishi Vikas Yojana केंद्र सरकार द्वारा 90% राशि और राज्य सरकार द्वारा 10% राशि को उपयोग में लाने का निर्णय लिया गया है।
  • केंद्र शासित राज्यों के कार्य हेतु RKVY Scheme के अंतगर्त 100% राशि केंद्र सरकार द्वारा ख़र्च की जाने का प्रावधान जारी किया गया है।

Documents of राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY)

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

आप दिए गए आसान से चरणों के द्वारा राष्ट्रीय कृषि विकास स्कीम के तहत आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज प्रदर्शित हो जायेगा।
Rashtriya Krishi Vikas Yojana
  • वेबसाइट के होम पर आपको “अप्लाई न्यू” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म प्रदर्शित हो जायेगा।
  • प्रदर्शित हुए एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई पूरी जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज कर देने के बाद आपको अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड कर देने कर के बाद “सबमिट” के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार आप (राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया) को आसानी से पूरा कर पाएंगे।

1 thought on “राष्ट्रीय कृषि विकास योजना 2022 (RKVY): ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, कार्यान्वयन व लाभ”

Leave a Comment