(पंजीकरण) हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन, स्टेटस चेक

Haryana Bhavantar Bharpayee Yojana रजिस्ट्रेशन फॉर्म, आवेदन की स्थिति | भावांतर भरपाई योजना हरियाणा एप्लीकेशन फॉर्म, पात्रता व विशेषताएं – हम सभी नागरिक जानते हैं की राज्य सरकार के मध्यम से किसानों को सुविधा और लाभ देने के कई प्रकार की सरकारी योजनाओं को शुरू किया जाता है| इसी बात को ध्यान में रखते हुए, हरयाणा के मुख्यमंत्री जी द्वारा किसानो को लाभ देने के मुख्य रूप से एक नई योजना हरियाणा भावांतर भरपाई योजना को आरम्भ किया है जिसका नाम भावांतर भरपाई योजना है। इस योजना के तहत हरयाणा के किसानो को अपनी फसल को मंडी में बेचने पर कम कीमत मिलती है और किसानो को काफी नुकसान का सामना करना पढता है उसकी भरपाई हरयाणा सरकार के माध्यम से होगी। सरकार द्वारा Haryana Bhavantar Bharpai Yojana को शुरू करने का मुख्य उदेश्य यह है की हरयाणा के किसानों को उनकी फसलों का अच्छा मूल्य मिल सके। तो दोस्तों यदि आप इस योजना का लाभ लेना चाहते है हमारे इस आर्टिकल को पढ़ना होगा। [यह भी पढ़ें- हरियाणा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म]

Haryana Bhavantar Bharpai Yojana 2024

इस योजना को हरियाणा सरकार के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के माध्यम से शुरू किया गया है और यह राज्य के लिए एक अनूठी योजना मानी जाती है। हरयाणा के जो भी किसान अपनी फसल जैसे सब्जिया ,फलो आदि को बाजार में बेचते है तो उन सभी को अपनी फसल के मुताबिक कम मूल्य मिल पाता है जिसके तहत सरकार द्वारा इस योजना के मध्य से उन सभी किसानो को फसल का या तो मुआवजा मिलेगा नहीं तो उचित भरपाई के रूप में प्रोत्साहन राशि दी जाएगी और इससे किसानो को उनकी फसल का अच्छा मूल्य मिल सके। हरियाणा के जो किसान इस हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2024 का लाभ लेना चाहते है उन सभी को आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन करना होगा। [यह भी पढ़ें- (रजिस्ट्रेशन) हरियाणा अंत्‍योदय परिवार उत्‍थान योजना: ऑनलाइन आवेदन फॉर्म]

Overview of Haryana Bhavantar Bharpai Yojana

योजना का नामहरियाणा भावांतर भरपाई योजना
वर्ष2024
आरम्भ की गयीमुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा
लाभार्थीराज्य के किसान
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यफसलों की उचित कीमत प्रदान करना
लाभकिसानों की फसलों की भरपाई
श्रेणीहरियाणा सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट———-

(फॉर्म) हरियाणा लेबर डिपार्टमेंट योजना

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना का उद्देश्य

सरकार द्वारा हरियाणा भावांतर भरपाई योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य यह है की किसानों को उनकी फसल का अच्छा मूल्य मिल सके| हम सबल लोग जानते हैं की हमारे देश में बहुत से ऐसे किसान है की उनकी फसलों का उचित मूल्य उनको नहीं मिल पाता हैं, जिसके कारण उन सभी को काफी कठनाईयो का सामना करना पढता है, इसी वजह से अब सरकार किसानों को उनकी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय करेगी जिसके जरिए उन सभी किसानो को फसल का मूल्य अच्छा मिलेगा और वह सभी अपने जीवन को अच्छे से यापन कर सके। [यह भी पढ़ें- हरियाणा महिला समृद्धि योजना: Mahila Samridhi Yojana Registration, एप्लीकेशन फॉर्म]

हरियाणा विकलांग पेंशन योजना

भावांतर भरपाई योजना पंजीकरण के लिए दिशा-निर्देश 

  • भावांतर भरपाई योजना के अंतर्गत किसानों को बुवाई काल के दौरान बागवानी एक्सपोजर(बीबीवाई) ई-पोर्टल के द्वारा मार्केटिंग बोर्ड की वेबसाइड पर पंजीकृत होना अनिवार्य है। 
  • इस योजना के अंतर्गत प्रमाणित क्षेत्र से असंतुष्टि होने की स्थिति में किसान द्वारा अपील दायर करने की भी व्यवस्था उपलब्ध की गई है। 
  • निर्माता का नि:शुल्क पंजीकरण का प्रावधान भी भावान्तर भरपाई योजना के अंतर्गत किया गया है। 
  • इसके आलावा इस योजना के लिए पंजीकरण केवल निर्धारित किये गए समय तक ही खुला रहेगा।इसलिए इच्छुक व्यक्ति जल्द ही इस योजना के अंतर्गत पंजीकरण करा लें।  
  • सर्व सेवा केंद्र, ई-दिशा केंद्र, विपणन बोर्ड, बागवानी विभाग, कृषि विभाग, इंटरनेट कियोस्क पर इस योजना के पंजीकरण की सुविधा मौजूद होगी। 
  • भावांतर भरपाई योजना के अंतर्गत पंजीकरण, सत्यापन,बिक्री अवधि, अपील जारी करना आदि इस योजना के लिए बताये गए तरीको के अंदर ही मान्य की जाएगी।

प्रोत्साहन प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • हरियाणा राज्य के कोई भी किसान जो प्रोत्साहन प्राप्त करना चाहते हैं उन सभी किसानों को प्रोत्साहन प्राप्त करने हेतु जे फॉर्म पर बिक्री करना जरूरी है। 
  • जब उन किसानों के द्वारा बिक्री पूर्ण कर ली जाती है तो उसके पश्चात किसानों को बिक्री का विवरण बी बी वाइ ई पोर्टल पर अपलोड करना होता है। 
  • इसके अतिरिक्त यदि सुनिश्चित मूल्य से  थोक मूल्य कम होता है तो इस योजना के अंतर्गत भावांतर की भरपाई लाभार्थी किसान को कर दी जाएगी। 
  • निर्धारित उत्पादन प्रति एकड़ का भाव और जे फॉर्म पर बिक्री के अंतर से गुणा करने के पश्चात ही प्रोत्साहन की राशि किसानो के लिए देय होगी। 
  • किसानो के द्वारा बिक्री करने के पश्चात 15 दिन के अंतराल में किसानो के बैंक खातों में प्रोत्साहन की राशि को भेज दिया जाएगा। 
  • मूल्य मंडी बोर्ड द्वारा  चयनित मंडियों के दैनिक भाव के अनुसार अधिकतर दैनिक थोक मूल्यों का निर्धारण किया जाता है।  

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना की विशेषताएं 

  • हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री जी के द्वारा आरम्भ हरियाणा भावांतर भरपाई योजना के माध्यम से सब्जी की बिक्री करने वाले कश्तकारों को जोखिम से मुक्ति प्राप्त होगी। 
  • उक्त चार फसलों पर 48000 रुपए से 56000 रुपए एकड़ आमदनी इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा सुनिश्चित की जाएगी। 
  • टमाटर, प्याज, आलू, फूलगोभी आदि इन चार सब्जियों के लिए संरक्षित मूल्य Haryana Bhavantar Bharpai Yojana के तहत निर्धारित किया जाएगा। 
  • इसके अतिरिक्त राज्य सरकार द्वारा मंडी में निर्धारित समय सीमा के भीतर यदि सब्जी कम मूल्य में बिकती है तो उस स्थिति में इसकी आधिकारिक वेबसाईट पर BBY ई-पोर्टल के जरिए से पंजीकृत किसानों को संरक्षित मूल्य तक मूल्य के अंतर की भरपाई की जाती है। 
  • भूमि मालिक, पट्टेदार किराये के कश्तकार आदि इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र होंगे यानी इस योजना का लाभ वह सभी आसानी से प्राप्त कर सकते है।     

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना का आंकलन 

  • हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा आरम्भ हरियाणा भावांतर भरपाई योजना के सफलतापूर्वक संचालन के लिए राज्य सरकार द्वारा पर्याप्त धनराशि की व्यवस्था की गई है। 
  • इस योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार समय समय पर किसान सम्मेलनों, अखबारों, डिजिटल सुविधाओं, गोष्ठिओं आदि के माध्यम से किया जाएगा। 
  • प्रभावी तौर पर इस योजना को आरम्भ करने हेतु उपायुक्त की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय समितियों तथा मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित राज्य स्तरीय समितियों के माध्यम से वक़्त वक़्त पर इस योजना का आंकलन किया जाता है। 

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2024 के लाभ

  • Haryana Bhavantar Bharpai Yojana 2024 के माध्यम से पंजीकृत किसानों को उनकी फसल का अच्छा मूल्य मिलेगा
  • इस योजना के माध्यम से योजना का लाभ लेने के लिए किसानो को पहले ई-पोर्टल पर अपना पंजीकरण करना होगा, यदि आप इस पोर्टल पर आवेदन नहीं करते है तो आपको योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • किसानो को पहले अपनी फसल बेचने का बहुत कम दाम मिलता था, जिसे देखत हुए सरकार ने हरियाणा भावांतर भरपाई योजना को आरम्भ किया और अब किसान उनकी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य प्राप्त कर सकेंगे।

Haryana BhavantarBharpai Yojana 2024 के दस्तावेज़

  • इस योजना के तहत केवल हरियाणा राज्य के किसानो को ही पात्र माना जायेगा।
  • आवेदक हरियाणा का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • फसलों का विवरण
  • बीज वाली फसल का वर्णन
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो   
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2024 में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया

हरयाणा के जो भी किसान इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो उन सभी को नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
हरियाणा भावान्तर भरपाई योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको किसान Portal का सेक्शन दिखाई देगा, आपको उस पर क्लिक देना है, अब आपको किसान पंजीकरण करे पर क्लिक कर देना है।
  • आपके द्वारा क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा, इस पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन दिखाई देगा।
  • इसके बाद आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे किसान का स्थान , किसान का विवरण , भूमि का विवरण ,बैंक का विवरण आदि को दर्ज कर देना है।
  • आपके द्वारा सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सेव के बटन पर क्लिक कर  देना है, और आपको अपने सभी दस्तावेज़ों को अटैच कर देना है।
  • सभी जानकारी का चयन करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • जैसे ही आप सबमिट के बटन पर क्लिक करेंगे तो हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2024 में ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पंजीकृत किसानो का विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट होम पेज पर आपको किसानो का विवरण का विकल्प दिखाई देगा, आपको इस विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • आपके द्वारा विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा, इस पेज पर आपको फॉर्म दिखाई देगा, आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे फार्मर क्रमांक या मोबाइल नंबर या आधार कार्ड नंबर आदि दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको Go के बटन पर क्लिक कर देना है, आपके द्वारा Go के बटन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने पंजीकृत किसानो का विवरण से सम्बन्धित सभी जानकारी खुल जाएगी।

Leave a Comment