पीएम किसान FPO योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

PM Kisan FPO Yojana Online Apply | पीएम किसान FPO योजना एप्लीकेशन फॉर्म | PM Kisan FPO Yojana In Hindi | पीएम किसान एफपीओ योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

केंद्र सरकार देश के किसानों की स्थिति को सुधारने के लिए समय-समय पर नई नई योजनाएं बनाती रहती है। ऐसी ही एक योजना PM Kisan FPO Yojana भी है। पीएम किसान FPO योजना की शुरुआत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने यूपी के चित्रकूट से की है। जिसके लिए सरकार ने अगले 5 साल में 5000 करोड रुपए खर्च करने का निर्णय लिया है। आज हम यहां आपको अपने इस लेख के माध्यम से PM Kisan FPO Yojana 2023 से संबंधित सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जैसे PM Kisan FPO Yojana 2023 क्या है? इसका उद्देश्य लाभ विशेषताएं पात्रता मानदंड आवश्यक दस्तावेज एवं आवेदन प्रक्रिया आते। तो यदि आप भी पीएम किसान एफपीओ योजना से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें। [यह भी पढ़ें- सुकन्या समृद्धि योजना 2023 | PM Kanya Yojana Form, इंटरेस्ट रेट कैलकुलेटर]

पीएम किसान FPO योजना क्या है?

FPO एक प्रकार का किसान उत्पादक संगठन है। यह संगठन कंपनी एक्ट के अंतर्गत रजिस्टर्ड होता है एवं किसानों के लिए कार्य करता है। पीएम किसान FPO योजना 2023 भी ऐसे ही संगठनों को बढ़ावा देने के लिए कार्य करेगी। पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा संगठनों को 1500000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। अब देश के किसान खेती के जैसे ही कारोबार में भी लाभ प्राप्त कर सकेंगे। कम से कम 11 किसान संगठित होकर PM Kisan FPO Yojana के अंतर्गत अपने कृषि कंपनी बना सकते हैं। सरकार इन एफपीओ संगठनों को वे सभी फायदे प्रदान करेगी जो एक कंपनी को प्रदान किए जाते हैं। इस योजना के तहत दी जाने वाली राशि को 3 वर्षों की अवधि में प्रदान किया जाएगा। पीएम किसान एफपीओ योजना 2023 के माध्यम से देश के 1000 नए किसान संगठनों का निर्माण किया जाएगा। [यह भी पढ़ें- (PMJAY) आयुष्मान भारत योजना 2023: Ayushman Bharat Yojana ऑनलाइन आवेदन]

पीएम किसान FPO योजना

पीएम मोदी योजनाएं

Overview of PM Kisan FPO Yojana

नामपीएम किसान FPO योजना
आरम्भ की गईकेंद्र सरकार द्वारा
वर्ष2023
लाभार्थीदेश के किसान उत्पादक संगठन
आवेदन की प्रक्रियाजल्द ही
उद्देश्यआर्थिक सहायता प्रदान करना
लाभकिसान उत्पादक संगठन  को आर्थिक सहायता
श्रेणीकेंद्र सरकार की योजना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://enam.gov.in/web/

पीएम किसान FPO योजना का उद्देश्य

भारत में बहुत से किसानों की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर है। ऐसे में उन्हें खेती करने पर ज्यादा लाभ नहीं मिल पा रहा है। केंद्र सरकार ने इन सभी किसानों को आर्थिक राहत पहुंचाने के लिए PM Kisan FPO Yojana का शुभ आरंभ किया है। इस योजना के माध्यम से केंद्र सरकार सभी किसान उत्पादक संगठनों यानी एपीओ को 15-15 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करती है। इस योजना को शुरू करने के पीछे केंद्र सरकार का मुख्य उद्देश्य कृषि सेक्टर को आगे बढ़ाकर किसानों की आय में वृद्धि करना है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार किसानों के हित में कार्य करती है। देश के सभी किसानों को PM Kisan FPO Yojana 2023 के तहत उसी प्रकार का फायदा मिलेगा जैसा कारोबार में होता है। [यह भी पढ़ें- (Vivah Panjikaran) विवाह पंजीकरण 2023: शादी प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन, स्टेटस चेक]

FPO  लोन में नहीं देना होगा अधिक ब्याज

यदि इच्छुक आवेदक FPO के माध्यम से आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको  बता दे की इस योजना से लोन प्राप्त करने पर आपको ब्याज की दर शून्य स्तर पर देनी होगी। इसके अतिरिक्त योजना संबंधित प्राप्त करने हेतु  आप टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। योजना हेतु टोल फ्री नंबर 1800 270 0224 है।भारत देश के सभी छोटे और सीमांत किसान योजना का लाभ उठा  सकते हैं। इस योजना के माध्यम से किसान को साहूकारों से संबंध स्थापित करने की आवश्यकता नहीं होगी, इच्छुक आवेदक स्वयं योजना हेतु आवेदन कर सकता है। किसान भाइयो को पात्रता मानदंड पूरा करने के साथ 11 किसानों का समूह बनाना होगा। यह 11 किसानों का समूह एफपीओ के रूप में कार्य करेगा। [यह भी पढ़ें- (आवेदन) फ्री सिलाई मशीन योजना 2023: रजिस्ट्रेशन फॉर्म, PM Free Silai Machine]

PM Modi Yojana 2023

पीएम किसान FPO योजना के लाभ विशेषताएं

  • इस योजना का लाभ केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानो को प्रदान किया जायेगा।
  • देश के किसान उत्पादक संगठनो को केंद्र सरकार द्वारा 15 लाख रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी, और सरकार द्वारा यह धनराशि तीन साल के भीतर प्रदान कर दी जाएगी।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना 2023 के अनुसार यदि संगठन मैदानी क्षेत्र में काम करता है, तो उसमें कम-से-कम 300 किसान जुड़े होने चाहिए। इसी प्रकार यह संगठन पहाड़ी क्षेत्र में काम करता है तो 100 किसानो को इससे जुड़े होने चाहिए, तभी वह इस योजना का लाभ उठा पायेंगे।
  • देश के किसानो को अन्य प्रकार के भी लाभ होंगे जैसे बने संगठनों से जुड़े किसानों को अपनी उपज के लिए बाजार मिलेगा। साथ ही उनके लिए खाद, बीज, दवाई और कृषि उपकरण जैसा जरूरी सामान खरीदना बेहद आसान हो जायेगा।
  • देश के वे  इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना आवश्यक है।

पीएम किसान FPO योजना हेतु मुख्य तथ्य

  • केंद्र सरकार माध्यम से किसानो हेतु पीएम किसान FPO योजना को  आरंभ किया गया है।
  • FPO के पूरे नाम को हम फॉर्म फार्मर प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन के नाम से जानते है।
  • एफपीओ एक संगठन होता है, जिस में  किसान भाई सदस्य होते हैं।
  • इस एसपीओ के द्वारा किसानों को , ऋण, प्रोसेसिंग, सिंचाई, तकनीकी, मार्केटिंग आदि सुविधाएं दी जाएगी।
  • इस संगठन का मुख्य लक्ष्य किसानों तक  हर संभव कार्य मदद पहुँचाना है।
  • पीएम किसान FPO के माध्यम से किसानों को उत्पादन बढ़ाने में भी सहायता दी जाएगी।
  • प्रत्येक जिले के ब्लॉक में इस योजना के संचालन हेतु, एक एफपीओ होगा ।
  • एफपीओ के माध्यम से पर्याप्त प्रशिक्षण और हैंडलिंग की जाएगी ,तथा सीबीओ के स्तर से प्राथमिक प्रशिक्षण भी प्रदान किया जायेगा ।
  • पीएम किसान FPO के द्वारा किसान 15 लाख रुपए तक का ऋण प्राप्त कर सकते हैं।
  • इंडियन कंपनीज एक्ट के अंतर्गत एफपीओ को रजिस्टर कराया जा सकता है।
  •  उन एस्पिरेशनल जिलों में प्राथमिकता पर यह संगठन ,संगठित किया जाएगा।
  • नॉर्थईस्ट एवं पहाड़ी इलाकों के एक एफपीओ में कम से कम 100 सदस्य होने चाहिए, इसके अतिरिक्त मैदानी इलाकों में एक एफपीओ में कम से कम 300 सदस्य का होना अनिवार्य है।
  • इस संगठन के द्वारा किसान भाइयो को ट्रेनिंग, नेटवर्किंग, बीज, खाद, मशीनरी, मार्केट लिंकेज, वित्तीय सहायता आदि  सुविधाएं भी दी जाएगी ।

PM Kisan FPO योजना के पात्रता मानदंड

  • किसान FPO योजना का लाभ किसानो के द्वारा कम से कम 11 किसानों को मिल कर एक ऑर्गेनाइजेशन के रूप में ही लिया जा सकता है।
  • केंद सरकार के द्वारा पीएम किसान FPO योजना 2023 किसानो की ऑर्गेनाइजेशन के कार्य का अवलोकन किया जायेगा और इसकी रिपोर्ट के आधार पर 3 साल में 1500000 रुपए इस ऑर्गेनाइजेशन को दिए जाएंगे।
  • किसानो की ऑर्गेनाइजेशन का मैदानी क्षेत्रों में कार्य किये जाने पर 300 किसानो का जुड़ा होना अनिवार्य है।
  • इसके साथ ही पहाड़ी क्षेत्रों में ऑर्गेनाइजेशन के काम करने पर 100 किसानो का जुड़ा होना अनिवार्य है।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना में मैदानी स्तर पर विभाग द्वारा कुछ अन्य पात्रता मानदंड जल्द स्वयं घोषित की जाएंगी।

पीएम किसान FPO योजना आवश्यक दस्तावेज

  • सभी किसानो के पास पहचान के प्रमाण के रूप में वोटर आईडी होनी आवश्यक है।
  • किसानो के पास कंपनी रजिस्ट्रेशन संबंधी सभी दस्तावेज होना जरुरी हैं।
  • बताते चले की इस योजना के तहत केंद्र सरकार  4496 करोड़ रुपए का निवेश करेगी जिसके अनुसार ऑर्गेनाइजेशन को 1500000 रुपए नगद सहायता सरकार के द्वारा दी जाएगी।

पीएम किसान FPO योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आ जाएगा।
पीएम किसान FPO योजना
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको एफपीओ के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
पीएम किसान FPO योजना
  • अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल कर आएगा।
  • आपको फॉर्म में निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी।
    • रजिस्ट्रेशन टाइप
    • रजिस्ट्रेशन लेवल
    • फुल नेम
    • जेंडर
    • एड्रेस
    • डेट ऑफ बर्थ
    • पिन कोड
    • डिस्ट्रिक्ट
    • फोटो आईडी टाइप
    • मोबाइल नंबर
    • ईमेल आईडी
    • कंपनी नेम
    • स्टेट
    • तहसील
    • फोटो आईडी नंबर
    • अल्टरनेट मोबाइल नंबर
    • लाइसेंस नंबर
    • कंपनी रजिस्ट्रेशन
    • बैंक नेम
    • अकाउंट होल्डर नेम
    • बैंक अकाउंट नंबर
    • आईएफएससी कोड
  • इसके बाद आपको पासबुक या फिर कैंसिल चेक एवं आईडी प्रूफ को स्कैन करके अपलोड कर देना है।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना है, और एफपीओ योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

लॉगिन कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको एफपीओ के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
लॉगिन
  • अब आपके सामने लॉगइन फॉर्म खुल कर आ जाएगा, इस फॉर्म में आपको यूजरनेम पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर देना है, जैसे ही आप विकल्प पर क्लिक करेंगे तो आपकी लॉगिन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • होम पेज पर आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद इफ यू हैव ग्रीवेंस क्लिक हियर के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
शिकायत दर्ज
  • अब आपको ओपन न्यू टिकट के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपको अपना यूजर नेम तथा पासवर्ड दर्ज करके साइन इन कर लेना है।
  • इसके बाद आपके सामने ग्रीवेंस फॉर्म खुलकर आएगा, आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज कर देनी है।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना है और आपकी शिकायत दर्ज हो जाएगी।

शिकायत स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपको इफ यू हैव ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपको चेक टिकट स्टेटस के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपको अपना ईमेल आईडी तथा टिकट नंबर दर्ज कर देना है।
शिकायत स्टेटस
  • इसके बाद आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक कर देना है और शिकायत स्टेटस आपके सामने खुल कर आ जाएगा।

Leave a Comment