पालनहार योजना राजस्थान 2022: ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म, लाभार्थी सूची

राजस्थान पालनहार योजना आवेदन | Rajasthan Palanhar Yojana Application Form | राजस्थान पालनहार योजना आवेदन प्रक्रिया | Palanhar Yojana | पालनहार योजना राजस्थान 2022

राजस्थान में अनाथ बच्चों को भोजन, वस्त्र, शिक्षा आदि मुफ्त लाभ पहुंचाने के लिए राजस्थान सरकार ने पालनहार योजना राजस्थान 2022 की शुरुआत की है। इस योजना के माध्यम से राजस्थान पालनहार में रहने वाले बच्चो तक बहुत सी सुविधाएं के Palanhaar Yojana Rajsthan 2022 माध्यम से दी जायगी। योजना के तहत हर अनाथ बच्चे एवं पात्र बच्चे को 5 वर्ष की आयु तक 500 रूपये धनराशि प्रतिमाह प्रदान की जाएगी। इस लेख में हम आपको राजस्थान पालनहार योजना से जुडी सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है। यदि आप इस योजना में आवेदन करना चाहते है तब इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े। आर्टिकल में बताया जायगा कि Palanhaar Rajsthan Scheme 2021 का आवेदन कहा से तथा कैसे करे ?उद्देश्य क्या है?, लाभ क्या -क्या मिलेंगे। आदि, की जानकारी दी जायगी। [यह भी पढ़ें- राजस्थान श्रमिक कार्ड 2021: ऑनलाइन पंजीकरण (स्टेटस) Majdur Card Download]

Palanhaar Yojana Rajsthan 2022

अनाथ बच्‍चों के भोजन, शिक्षा आदि की व्‍यवस्‍था को सुचारु रूप से व्यवस्थित नहीं की जाती जिस कारण  समाज के भीतर ही बालक-बालिकाओं के निकटतम रिश्‍तेदार/परिचित व्‍यक्ति के परिवार में करने के लिए इच्‍छुक व्‍यक्ति को पालनहार बनाकर राज्‍य की ओर से पारिवारिक माहौल में शिक्षा, भोजन, वस्‍त्र एवं अन्‍य आवश्‍यक सुविधाएं उपलब्‍ध कराना है। योजना के अंतर्गत पालनहार में रहने वाला बच्चे को स्कूल में दाखिला लेने के बाद से 18 वर्ष के होने तक 1,000 रूपये हर माह दिए जायेंगे। ऐसे अनाथ बच्‍चों को 2 वर्ष की आयु में आंगनबाड़ी केन्‍द्र पर तथा 6 वर्ष की आयु में स्‍कूल भेजना अनिवार्य है। [यह भी पढ़ें- राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2021 | rajudyogmitra.rajasthan.gov.in ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन]

पालनहार योजना राजस्थान 2021

पीएम मोदी योजनाएं

योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा किया जायेगा सितंबर 2021 तक भुगतान

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित पालनहार योजना राजस्थान के माध्यम से अनाथ बच्चों के पालन पोषण एवं शिक्षा के लिए आरंभ किया गया है। अब अनाथ बच्चों के पालन पोषण एवं शिक्षा के साथ साथ इस योजना के माध्यम से अनाथ बच्चों को  तय किया गया  भुगतान भी दिया जायेगा, 5 वर्ष तक की आयु के अनाथ बच्चों को ₹500 प्रति माह तथा बच्चों का स्कूल में प्रवेश होने के बाद 18 वर्ष की आयु तक ₹1000 प्रतिमाह दिए जायेगे। यह  अनुदान राशि राजस्थान सरकार द्वारा पालनहार योजना राजस्थान के माध्यम से दिए जायेगे। इसके साथ ही योजना के अंतर्गत सभी लाभवन्ती बच्चों को शैक्षणिक स्तर 2021-22 में वार्षिक निविकरण में छूट देने का भी प्रावधान रखा गया है। इस प्रावधान के माध्यम से सभी पालनहार योजना के पात्र बच्चो को सितंबर 2021 तक नियमित भुगतान किया जाएगा। [यह भी पढ़ें- राजस्थान कर्ज माफी लिस्ट 2022: ऑनलाइन जिलेवार सूची (Kisan Karj Mafi List)]

Highlights of the Palanhar Scheme Rajasthan

योजना का नामपालनहार योजना राजस्थान
वर्ष2022
आरम्भ की गईराजस्थान सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के बच्चे/ पालनहार
उद्देश्यबच्चो को शिक्षा के अवसर प्रदान करना
श्रेणीराजस्थान सरकारी योजनाएं
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://sje.rajasthan.gov.in/schemes/Palanhar.html

राजस्थान पालनहार योजनका उद्देश्य

राजस्थान के अनाथ बच्चों के बेहतर लालन पोषण, शिक्षा तथा अन्य संबंधित कार्यों की प्रणाली को बेहतर बनाने के उद्देश्य से इस योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से अनाथ बच्चों को पात्रता मानदंडों के अनुसार तय की गई आर्थिक सहायता दी जाएगी। इस योजना के माध्यम से अनाथ बच्चे सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनेगे तथा  उनको अपने खर्च हेतु  किसी अन्य व्यक्ति पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं होगी। इसके अलावा Palanhar Yojana 2022 के अंतर्गत ₹2000 की राशि प्रतिवर्ष सभी पात्र बच्चों को वस्त्र, स्वेटर, जूते आदि खरीदने हेतु प्रदान की जाती है। [यह भी पढ़ें- (पंजीकरण) मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म]

Palanhaar Yojana 2022 में दी जाने वाली अनुदान राशि

  • पालनहार में रहने वाला बच्चे को स्कूल में दाखिला लेने के बाद से 18 वर्ष के होने तक 1,000 रूपये हर माह दिए जायेंगे।
  • ऐसे अनाथ बच्‍चों को 2 वर्ष की आयु में आंगनबाड़ी केन्‍द्र पर तथा 6 वर्ष की आयु में स्‍कूल भेजना अनिवार्य है।
  • इस योजना के तहत हर अनाथ बच्चे एवं पात्र बच्चे को 5 वर्ष की आयु तक 500 रूपये धनराशि प्रतिमाह प्रदान की जाएगी।

पालनहार योजना राजस्थान 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

  • राजस्थान सरकार द्वारा पालनहार योजना का शुभारंभ किया गया है।
  • जिन बच्चों के माता-पिता नहीं है उन अनाथ बच्चों को इस योजना के माध्यम से आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से 5 वर्ष तक की आयु वाले बच्चों को 500 रूपए हर महीने और स्कूल में दाख़िला लेने के बाद 18 वर्ष की आयु तक के सभी बच्चों को 1000 रूपए हर महीने यह राशि उन्हें एक सहायता के रूप में  प्रदान की जाएगी।
  • बच्चों को कपड़े, स्वेटर, जूते इत्यादि खरीदने के लिए भी इस योजना के माध्यम से 2000 रूपए की राशि हर साल प्रदान की जाएगी।
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा इस योजना पर नियंत्रण रखने का कार्य किया जाता है।
  • आत्म निर्भरता की भावना भी इस योजना के माध्यम से बच्चों में पैदा होगी।
  • अपने खर्चों के लिए भी बच्चों को किसी से सहायता मांगने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदक अपना आवेदन ऑनलाइन खुद अपने मोबाइल  फ़ोन या लैपटॉप में इंटरनेट के माध्यम से घर बैठे ही कर सकता है।
  • इसके लिए उसे किसी भी सरकारी कार्यालयों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, इससे आपके समय और पैसे दोनों की बचत होगी और साथ ही प्रणाली में पारदर्शिता भी दिखाई देगी।

पालनहार योजना राजस्थान 2022 की पात्रता

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक राजस्थान का स्थायी निवासी होने चाहिए ।
  • पालनहार परिवार की वार्षिक आय 1.20 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। 
  • अनाथ बच्‍चों को 2 वर्ष की आयु में आंगनबाड़ी केन्‍द्र पर तथा 6 वर्ष की आयु में स्‍कूल भेजना अनिवार्य है।

राजस्थान पालनहार में पात्र बच्चो की लिस्ट

  • पुर्नविवाहित विधवा माता की संतान
  • एड्स पीडित माता/पिता की संतान
  • कुष्‍ठ रोग से पीडित माता/पिता की संतान
  • विकलांग माता/पिता की संतान
  • तलाकशुदा/परित्‍यक्‍ता महिला की संतान
  • अनाथ बच्‍चे
  • न्‍यायिक प्रक्रिया से मृत्‍यु दण्‍ड/ आजीवन कारावास प्राप्‍त माता-पिता की संतान
  • निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा माता की अधिकतम तीन संताने
  • नाता जाने वाली माता की अधिकतम तीन संताने

श्रेणीवार आवश्यक दस्तावेज

  • अनाथ बच्चे – माता पिता के मृत्यु प्रमाण पत्र की कॉपी
  • मृत्यु दंड/आजीवन कारावास प्राप्त माता पिता के बच्चे – दण्डादेश की प्रति
  • निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा महिला के तीन बच्चे – विधवा पेंशन भुगतान आदेश की प्रति
  • पुनर्विवाह विधवा माता के बच्चे  पुनर्विवाह के प्रमाण पत्र की प्रति

जन सूचना पोर्टल 2021

  • अच् आई वी/ एड्स पीड़ित माता /पिता के बच्चे – एआरटी सेंटर द्वारा जारी एआरडी डायरी /ग्रीन कार्ड की कॉपी
  • कुष्ठ रोग से पीड़ित माता /पिता के बच्चे – सक्षम बोर्ड द्वारा जारी किये गए चिकित्सा प्रमाण पत्र की प्रति
  • नाता जाने वाली माता के तीन बच्चे – नाता गए हुए एक वर्ष से अधिक समय होएं का प्रमाण पत्र
  • विशेष योग्यजन माता /पिता के बच्चे – 40% या अधिक निशक्तता के प्रमाण की प्रति
  • तलाकशुदा /परित्यक्ता महिला के बच्चे – तलाकशुदा परित्यक्ता पेंशन भुगतान आदेश की प्रति

पालनहार के दस्तावेज

यदि आप भी इस में आवेदन करना चाहते है, तब आपके पास नीचे लिखे हुए डाक्यूमेंट्स होने चाहिए यदि आपके पास इनमे से कोई एक डॉक्यूमेंट भी नहीं है तब आप इस योजना का लाभ नहीं उठा है।

  • मोबाइल नंबर 
  • आय प्रमाण पत्र  
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आधार से जुड़ा हुआ बैंक खाता
  • पासवर्ड साइज फोटो
  • भामाशाह कार्ड 
  • पालनहार का आधार कार्ड
  • बच्चे का  आंगनबाड़ी में पंजीकरण का प्रमाण पत्र / विद्यालय में अध्यनरत होने का प्रमाण-पत्र

पालनहार योजना राजस्थान 2022 में आवेदन कैसे करे?

राज्य के वे लोग जो ऑनलाइन पालनहार योजना 2022 में अपना आवेदन करना चाहते है, तो बहुत आसानी से कर सकते है उसके लिए नीचे लिखे स्टेप को फॉलो करे।

  • आवेदन के लिए सबसे पहले नजदीकी Social Justice Empowerment Department की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर Application Form PDF File डाउनलोड करना होगा। इसके बाद आपको आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा। 
पालनहार योजना राजस्थान
  • जिसमे आपको सभी पूछी गयी जानकारी भरनी होगी। 
  • उसके बाद आपको उस फॉर्म में मांगे गए सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज़ अटैच करने होंगे।
  • जानकारी को पुनः चेक कर नज़दीक में स्थित विभागीय जिला अधिकारी के पास ,ग्रामीण छेत्र के निवासी या जनसेवा केंद्र पर जा कर जमा करना होगा।
  • इस तरह आपका Palanhar Yojana Rajsthan 2022 के तहत आवेदन हो जायेगा।

राजस्थान पालनहार योजना में भुगतान की स्थिति

राजस्थान राज्य के जिन इच्छुक लाभार्थियों ने इस योजना के अंतर्गत अपना आवेदन किया है  और वह अपने आवेदन की स्थिति देखना चाहते है तो नीचे दिए गए निम्नलिखित नियमों का पालन करते हुए वह आवेदन की स्थिति के बारे में जान सकते है।

  • सबसे पहले आपको Social Justice and Empowerment Department की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज प्रदर्शित हो जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको Apply Online /E Services के सेक्शन में से “Palanhar Payment Status” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने नया पेज प्रदर्शित हो जायेगा।
राजस्थान पालनहार योजना में भुगतान की स्थिति
  • इस पेज पर पूछी गई पूरी जानकारी जैसे Academic Year, भामाशाह नंबर और एप्लीकेशन आईडी, कैप्चा कोड इत्यादि ध्यानपूर्वक दर्ज करने के बाद आपको “Get Status” के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने भुगतान की स्थिति से संबंधित जानकरी प्रदर्शित हो जाएगी।
  • इस प्रकार आप राजस्थान पालनहार योजना में भुगतान की स्थिति देखने की प्रक्रिया को आसानी से पूरा कर पाएंगे।

पालनहार योजना के विस्तार के संबंध में समय समय पर जारी आदेश

  • संशोधित नियम, 2007 दिनांक 25.04.2007 निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा महिला की संतान का समावेश
  • संशोधन आदेश क्रमांक 48595 दिनांक 07.08.2007 निराश्रित पेंशन की पात्र विधवा महिला की संतान के संबंध में संशोधित आदेश
  • संशोधन आदेश क्रमांक 3514 दिनांक 27.01.2010 पुनर्विवाहित विधवा माता की संतान का समावेश
  • संशोधन आदेश क्रमांक 25816 दिनांक 30.04.2010 कुष्ठव/ एड्स पीडितमाता/पिता की संतान का समावेश
  • संशोधन आदेश क्रमांक 16901 दिनांक 03.03.2011 नाते जाने वाली महिला की संतान का समावेश
  • संशोधन आदेश क्रमांक 49283 दिनांक 23.06.2011योजना का संशोधित आवेदन पत्र 01.07.2011 से लागू
  • संशोधन आदेश क्रमांक 433 दिनांक 26.04.2013 योजना की परिभाषा में संशोधन
  • संशोधन आदेश क्रमांक 1111 दिनांक 1.5.2013 परिभाषा में संशोधन
  • संशोधन आदेश क्रमांक 7951 दिनांक 29 मई, 2013 विधवा/नाते गई महिलाओं के बच्चों1 के सम्बान्ध, में आदेश
  • संशोधन आदेश क्रमांक 1336 दिनांक 16 मई, 2013 पालनहार को अधिकतम दो माह में राशि का भुगतान करने सम्बकन्धी3 आदेश

एप्लीकेशन स्टेटस देखने की प्रक्रिया

  • इसके बाद आपके सामने एक  नया  पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज  पर आप को एप्लीकेशन स्टेटस या पेमेंट स्टेटस में से किसी एक का का चयन कर भुगतान वर्ष और  आवेदन क्रमांक / SRDR नंबर दर्ज कर ना होगा।
  • सभी विवरण देने के बाद आप दिए गए खोजे  के विकल्प पर क्लिक कर दे।
  • इस प्रकार संबंधित जानकारियां आपकी स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगी।

एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको सामाजिक न्याय अधिकारिता की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा। 
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको स्कीम लिंक के विकल्प पर क्लिक करके पालनहार योजना का चुनाव करना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। 
  • इस पेज पर आपको आवेदन फॉर्म प्राप्त हो जायेगा। अब आपको इस फॉर्म को डाउनलोड करके इसका प्रिंट आउट निकाल लेना है।  
  • अब आपको आवेदन पत्र को सावधानीपूर्वक भर लेना है। इसके बाद पत्र में मांगे गए सभी ज़रूरी दस्तावेजों को भी फॉर्म से साथ अटैच कर देना है। 
  • इसके बाद आपको अपना फॉर्म  जिला अधिकारी के पास अथवा संबंधित विकास अधिकारी के पास जमा कर देना है।

बेनिफिशरी लिस्ट देखने की प्रक्रिया

बेनिफिशरी लिस्ट
  • इसके बाद आपके सामने एक  नया  पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज  पर आप को अपना क्षेत्र का प्रकार , जिला , भुगतान एवं वर्ष का चयन करना होगा ।
  • सभी विवरण देने के बाद आप दिए गए खोजे  के विकल्प पर क्लिक कर दे।
  • इस प्रकार संबंधित जानकारियां आपकी स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगी।

सोशल ऑडिट इंफॉर्मेशन देखने की प्रक्रिया

सोशल ऑडिट इंफॉर्मेशन
  • इस पेज  पर आप को अपना क्षेत्र का प्रकार, जिला, भुगतान एवं वर्ष का चयन करना होगा ।
  • सभी विवरण देने के बाद आप दिए गए खोजे  के विकल्प पर क्लिक कर दे।
  • इस प्रकार संबंधित जानकारियां आपकी स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगी।

Contact Number

हमने इस लेखन के माध्यम से पालनहार योजना राजस्थान से संबंधित हर प्रकार की जानकारी आपके सामने प्रदर्शित कर दी है  यदि फिर भी आपको किसी भी समस्या का सामना करना पड़े तो आप अपने प्रश्नों की पुष्टि हमारे द्वारा दिए गए कांटेक्ट नंबर के माध्यम से कर सकते है जो निम्न प्रकार है-

  • 01412226604

पूछे गए प्रश्नों के उत्तर

पालनहार योजना किस राज्य की योजना है?

यह योजना राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई है।

पालनहार राजस्थान योजना का लाभ किसे मिलेगा?

इस योजना का लाभ राजस्थान के अनाथ आश्रम रह रहे अनाथ बच्चो को ही दिया जाएगा।

Leave a Comment