UP Bhulekh 2021: यूपी भूलेख ऑनलाइन खसरा खतौनी नकल@upbhulekh.gov.in

Uttar Pradesh Bhulekh | भूलेख ऑनलाइन खसरा खतौनी नकल | Uttar Pradesh Bhulekh Online | upbhulekh.gov.in | UP Bhulekh 2021 | यूपी भूलेख ऑनलाइन

यूपी भूलेख खसरा नक़ल देखने की प्रक्रिया, UP Bhulekh के लाभ, Uttar Pradesh Bhulekh पोर्टल की अन्य जानकारी आपको इस लेख में प्रदान की जाएगी। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के सभी नागरिकों को उनकी जमीन से जुडी सभी जानकारी ऑनलाइन प्रदान की गयी है, जिसके माध्यम से राज्य के नागरिकों को कहीं जाने की आवश्यकता नहीं होगी, वे अपनी भूमि से जुडी सभी जानकारी वेबसाइट पर ही देख सकेंगे। हम जानते हैं कि हमारे देश में भूमि से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए, पटवारी के दफ्तर जाना पड़ता था, जिससे नागरिको को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता था। ऐसी स्थिति में उनको समय और दोनों खर्च करना पड़ता था, जिससे उनको नुकसान उठाना पड़ता था। इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा UP Bhulekh की जानकारी वेबसाइट पर प्रदान की जा रही है। उत्तर प्रदेश की नई सूची में अपना नाम कैसे देखे: Click Here

यूपी भूलेख खसरा खतौनी नकल

इस भूलेख को देश के अलग-अलग स्थानों में कई नाम दिए गए हैं, जिससे हम इसे सम्बोधित करते हैं- जैसे कि भूमि के रिकॉर्ड, खेत के कागजात, खेत का नक्शा, भूमि का विवरण, खाते आदि। उत्तर प्रदेश के लोगों की भूमि के रिकॉर्ड को कंप्यूटरीकृत करने के लिए UP Bhulekh की एक आधिकारिक वेबसाइट शुरू की गयी है, जिससे कि लोग घर बैठे ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से अपनी जमीन का सारा विवरण आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। यूपी भूलेख वेब पोर्टल को उत्तर प्रदेश के भूमि रिकॉर्ड को इस तरह से कम्प्यूटरीकृत करने के लिए बनाया गया है जिससे कि भूमि रिकॉर्ड की दैनिक गतिविधियों को सुव्यवस्थित किया जा सके। हम जानते हैं, राज्य के नागरिकों को भूमि का विवरण प्राप्त करने के लिए पटवारी के कार्यालय में जाना पड़ता, जिससे समय और धन दोनों का ही नुक्सान होता था। लेकिन इस वेबसाइट के माध्यम से किसी को कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है, अब आसानी ऑनलाइन भूमि का विवरण प्राप्त किया जा सकेगा।

UP Bhulekh Naksha

उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता 2021

UP Bhulekh Overviews

पोर्टल का नामUP Bhulekh Land Records, Khasra Khatauni
किस ने लांच कियाउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
उद्देश्यसभी भूमि से संबंधित रिकॉर्ड को ऑनलाइन उपलब्ध करवाना।
आधिकारिक वेबसाइटhttp://upbhulekh.gov.in/
भू-अभिलेखों का कंप्यूटरीकरण2 मई 2016 

यूपी भूलेख पोर्टल

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किये गए upbhulekh.gov.in पोर्टल के माध्यम से राज्य के नागरिक अपनी जमीन का विवरण देख सकते हैं, साथ आप अपने मालिकाना अधिकार की भी पुष्टि कर सकते हैं। हम जानते हैं, कि इस पोर्टल पर प्रदान की जाने वाली जमीन से जुडी सभी जानकारी बिलकुल सही होती है, जिससे राज्य के नागरिकों में इस ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से पारदर्शिता भी आयी है। हम जानते हैं कि उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल की सुविधा से पहले राज्य के नागरिकों को अपनी भूमि से सम्बंधित जैसे- जमाबंदी ,खसरा ,खतौनी ,भूमि का नक्शा तथा अन्य सभी जानकारी के लिए पटवारी के सरकारी कार्यालय में जाना पड़ता था, जिससे लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा है। लेकिन अब उत्तर प्रदेश के नागरिक घर बैठे ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से UP Bhulekh की आधिकारिक वेबसाइट से सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

उत्तर प्रदेश की कुछ महत्वपूर्ण योजनाएँ:-

उत्तर प्रदेश वरासत अभियान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के माध्यम से यूपी वरासत अभियान शुरू किया गया है, जिसके के तहत विवादित उत्तराधिकार खतौनी में दर्ज किया जाएगा। इस अभियान को 15 दिसंबर 2020 से 15 फरवरी 2021 तक चलाया जाएगा। उत्तर प्रदेश वरासत अभियान के सफल कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा एक हेल्पलाइन नंबर और ईमेल आईडी भी जारी की गयी है। इस अभियान के पूरा होने के बाद, सरकार से टीमों को जिलों में भेजा जाएगा, जिसके माध्यम से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि निर्विवाद उत्तराधिकार का कोई मामला खतौनी में दर्ज न हो।

यूपी वरासत अभियान का संपर्क केंद्र

उत्तर प्रदेश वरासत अभियान के लिए सरकार द्वारा हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है। आप नीचे दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। आप CM हेल्पलाइन से भी संपर्क कर सकते हैं, जिससे आपकी समस्या का समाधान हो सकेगा। इसके अलावा, आप अपनी सभी शिकायतें ईमेल के माध्यम से दर्ज कर सकते हैं-

  • Helpline Number – 0522-2620477
  • E-Mail ID – abhiyanvarasat@gmail.com
  • CM Helpline Number – 1076

UP Voter List 2021

उत्तर प्रदेश वरासत अभियान अनुसूची

राजस्व/तहसील अधिकारियों द्वारा वरासत हेतु प्रार्थना पत्र लेना तथा उसे ऑनलाइन करने की प्रक्रिया15 दिसंबर 2020 से 30 दिसंबर 2020
लेखपालों द्वारा ऑनलाइन जांच की प्रक्रिया31 दिसंबर 2020 से 15 जनवरी 2021
राजस्व निरीक्षक द्वारा जांच का आदेश पारित करने की प्रक्रिया16 जनवरी 2021 से 31 जनवरी 2021
यह सुनिश्चित करना कि यूपी में उत्तराधिकार विवाद का कोई भी प्रकरण दर्ज होने से शेष ना रहा हो1 फरवरी 2021 से 7 फरवरी 2021
जिला अधिकारियों तथा अन्य अफसरों द्वारा निर्विवाद उत्तराधिकार के समस्त लंबित प्रकरणों को पूर्ण करना8 फरवरी 2021 से 15 फरवरी 2021

उत्तर प्रदेश भूलेख का कंप्यूटरीकरण

भूमि के रिकॉर्ड की सभी जानकारी प्रदान करने के लिए डिजिटलीकरण की प्रक्रिया सरकार द्वारा जारी की जा रही है। इसी को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने upbhulekh.gov.in पोर्टल की शुरुआत की है। इस पोर्टल के तहत सभी भूमि रिकॉर्ड को कम्प्यूटरीकृत किया गया था। UP Bhulekh पोर्टल 2 मई 2016 को लॉन्च किया गया था, जिसे उत्तर प्रदेश की सभी तहसीलों में लागू किया गया है। उत्तर प्रदेश की सभी तहसीलों के भू-अभिलेखों की जानकारी इस पोर्टल पर उपलब्ध है।

पालनहार योजना 2021

इस पोर्टल के माध्यम से दैनिक भूमि रिकॉर्ड की गतिविधियों का आयोजन किया जा सकता है। इस पोर्टल पर लैंड रिकॉर्ड डेटा, लैंड रिकॉर्ड मालिक की जानकारी, लैंड रिकॉर्ड की जानकारी आदि देखी जा सकती है। इस पोर्टल के माध्यम से सिस्टम में पारदर्शिता भी आएगी और समय और धन दोनों की बचत होगी। इस पोर्टल के ज़रिये राज्य के नागरिक UP Bhulekh Map की भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

यूपी भूलेख का उद्देश्य

हम जानते हैं कि हमारे देश में भूमि के रिकॉर्ड रखने के लिए दस्तावेजों का उपयोग किया जाता है। सरकारी कार्यालय में कई बार इन दस्तावेजों में गड़बड़ी पायी जाती थी, जिससे देश के नागरिकों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता था। सरकारी कार्यालय के किसी भी कार्य में कोई पारदर्शिता नजर नहीं आती थी। इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा UP Bhulekh पोर्टल की शुरुआत की गयी है। यूपी भूलेख का मुख्य उद्देश्य यह है कि राज्य में रहने वाले नागरिकों की भूमि का विवरण ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से नागरिकों तक पहुँचाना है। इस कंप्यूटरीकरण प्रणाली के माध्यम से भूमि के रिकॉर्ड को सुव्यवस्थित रखा जाता है, जिससे रिकॉर्ड में किसी भी  प्रकार की गड़बड़ी न पायी जाये। इस ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से घर बैठे आधिकारिक वेबसाइट पर अपनी भूमि के विवरण की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, जिसके लिए नागरिकों की कहीं जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

Benefits of Uttar Pradesh Bhulekh

  • इस कंप्यूटरीकरण प्रणाली के माध्यम से राज्य के नागरिक अपना खसरा नंबर और जमाबंदी नंबर के ज़रिये अपना भू-नक्शा प्राप्त कर सकते हैं।
  • यदि राज्य के नागरिक अपनी भूमि की जानकारी प्राप्त करना कहते हैं, तो वे आधिकारिक वेबसाइट पर घर बैठे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस ऑनलाइन उप भूलेख पोर्टल के माध्यम से राज्य के नागरिकों का धन और समय दोनों की बचत होगी।
  • उत्तर प्रदेश के नागरिकों को उप भूलेख के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए पटवार खेनों में जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

उप भूलेख के मुख्य घटक

  • जमाबंदी/फर्द- जमाबंदी/फर्द के अंतर्गत मुख्य भूमि का विवरण शामिल किया जाता है जैसे – मालिक का नाम, खेती करने वाले का नाम, खसरा नंबर, जमीन, क्षेत्र, फसल का विवरण, पट्टे का विवरण आदि होता है।
  • खसरा संख्या- खसरा संख्या एक विशिष्ट भूखंड संख्या या सर्वेक्षण संख्या का प्रकार है, जो राज्य सरकार द्वारा कृषि भूमि को दिया जाता है।
  • खाता/खेवट संख्या- खाता या खेवट संख्या मालिकों के एक समूह को दी जाने वाली एक प्रकार की संख्या है, जिनके पास अलग-अलग खसरा संख्या की भूमि का एक हिस्सा होता है।
  • खतौनी संख्या- खतौनी संख्या एक प्रकार की संख्या है जो कृषकों के समूह को दी जाती है जो विभिन्न खसरा संख्याओं की भूमि के एक भाग की खेती करते हैं।

यूपी भूलेख जमाबंदी नक़ल खसरा खतौनी देखने की प्रक्रिया

उत्तर प्रदेश राज्य के जो नागरिक अपनी भूमि सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो उनको नीचे दिए गये चरणों का पालन करना होगा-

  • सबसे पहले आपको यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
यूपी भूलेख जमाबंदी नक़ल खसरा खतौनी
  • वेबसाइट के होम पेज आपको “खतौनी (अधिकार अभिलेख) की नक़ल देखें” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
यूपी भूलेख जमाबंदी नक़ल खसरा खतौनी
  • इस पेज पर आपको कैप्चा कोड दर्ज करके सब्मिट  के बटन पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
UP Bhulekh
  • अब आपको इस पेज पर पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- जिला, तहसील, ग्राम, खसरा /खतौनी नंबर या सर्वे नंबर या पट्टे की जानकारी आदि का चयन कर लेना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आप निम्न विकल्पों के माध्यम से अपनी जमीन की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं जैसे-
    • अपने खसरा /गाटा संख्या द्वारा खोजे
    • खाता संख्या द्वारा खोजे
    • खातेदार के नाम द्वारा खोजे
    • नामांतरण द्वारा खोजे
  • उपर्युक्त विकल्पों में किसी एक विकल्प पर क्लिक करके पूछी गयी जानकारी का विवरण दर्ज कर देना है।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपके सामने जमीन की जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी।

UP Bhulekh Map Online Viewing Process

  • सबसे पहले आपको यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- डिस्ट्रिक्ट, तहसील, विलेज आदि का चयन कर लेना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी का विवरण चयन करने के बाद आपके सामने चयनित क्षेत्र का नक्शा प्रदर्षित हो जायेगा।
  • इसके बाद आपको खाताधारक का नाम देखने के लिए अपने फार्म नंबर पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपको खाता संख्या प्रदर्शित हो जाएगी, इसके बाद आपको अपने अनुसार खाताधारक के नाम का चयन कर लेना है।
  • इसके बाद आप भूमि के नक़्शे का प्रिंट ले लेना है।

भू नक्शा कैसे डाउनलोड करें

  • सबसे पहले आपको यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- डिस्ट्रिक्ट, तहसील, विलेज आदि का चयन कर लेना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी का चयन करने के बाद नक्शे में अपने खेत/प्लॉट के खसरा नंबर पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने भू नक्शा प्रदर्शित हो जायेगा, जिसे आप डाउनलोड कर सकते हैं।

राजस्व ग्राम खतौनी का कोड कैसे जानें?

up bhulekh
  • इस पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- जिले, तहसील तथा गांव का चयन कर लेना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी का चयन करने के बाद आपके सामने राजस्व ग्राम खतौनी का कोड प्रदर्षित हो जायेगा।

भूखंड/गाटे का यूनिक कोड कैसे जानें?

  • सबसे पहले आपको यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज आपको “भूखंड/गाटे क्या यूनिकोड जाने” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- जिले, तहसील तथा गांव का चयन कर लेना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी का चयन करने के बाद आपके सामने भूखंड/गाटे का यूनिक कोड प्रदर्षित हो जायेगा।

भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होम पेज आपको “भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति” के विकल्प पर क्लिक कर देना है। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गयी जानकारी का विवरण जैसे- जिले, तहसील तथा गांव का चयन कर लेना है।
  • सभी आवश्यक जानकारी का चयन करने के बाद आपके सामने भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति से सम्बंधित जानकारी प्रदर्षित हो जाएगी।

Official Links

Check Khasra Khatauni OnlineClick Here
Check Land Record OnlineClick Here
Find Unique/ Gata CodeClick Here
Search Khasara Code WiseClick Here
Khatauni Nakal VerificationClick Here
Official WebsiteClick Here

Leave a Comment