यूपी विवाह पंजीकरण कैसे करे | UP Marriage Registration Online Form PDF

UP Marriage Registration Certificate Download, Rules, Fees & Form PDF | उत्तर प्रदेश विवाह पंजीकरण कैसे करे, पात्रता जांचे @ igrsup.gov.in – सभी विवाहित जोड़ों के लिए स्पेशल मैरिज एक्ट 1954 और हिंदू मैरिज एक्ट 1955 के अंतर्गत विवाह पंजीकरण कराना आवश्यक होता है। देश के नागरिको को कानूनी मान्यता शादी के बंधन में बनने पर धार्मिक एवं सामाजिक तौर पर प्राप्त होती है, विवाह एक धार्मिक संबंध होता है, इसके बावजूद विवाह को भी कानूनी तौर पर मान्यता प्राप्त होनी अनिवार्य है। इसी दिशा में उत्तर प्रदेश राज्य में यूपी विवाह पंजीकरण की प्रक्रिया को आरंभ किया गया है, इस पंजीकरण के माध्यम से बैंक में ज्वाइंट अकाउंट खुलवाने, ज्वाइंट प्रॉपर्टी लेने जैसे:- तमाम कार्य को सुविधाजनक रूप से किया जा सकता है। आज के इस आर्टिकल में हम आपको UP Marriage Registration से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है। [यह भी पढ़ें- यूपी राशन कार्ड लिस्ट: UP Ration Card List | APL/BPL New List, राशन कार्ड सूची

Uttar Pradesh Marriage Registration

हाल ही में उत्तर प्रदेश हिंदू विवाह पंजीकरण नियमावली को संशोधित करके उत्तर प्रदेश विवाह पंजीकरण नियमावली 2017 उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश राज्य के सभी वर्ग के नागरिको को विवाह पंजीकरण कराना आवश्यक होता है, वैसे तो विवाहित जोड़े को सामाजिक एवं धार्मिक तौर पर विवाह होने के बाद मान्यता मिल ही जाती है, लेकिन इसके विपरीत विवाहित जोड़े को कानूनी मान्यता प्राप्त करने हेतु विवाह अधिनियम 1955 के तहत यूपी विवाह पंजीकरण कराना आवश्यक होता है। इसके अंतर्गत विवाह के लिए बालक की उम्र 21 वर्ष तथा बालिका की उम्र 18 वर्ष होनी चाहिए, राज्य के विवाहित नागरिको के द्वारा UP Marriage Registration हेतु आवेदन स्वयं स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर कराया जा सकता है। [यह भी पढ़ें- (Registration) मानव सम्पदा पोर्टल: ehrms.upsdc.gov.in छुट्टी के लिए आवेदन

UP Marriage Registration

यूपी विवाह पंजीकरण का उद्देश्य

यूपी विवाह पंजीकरण का मुख्य उद्देश्य राज्य के सभी विवाहित जोड़ों का पंजीकरण कराना है। इस पंजीकरण के माध्यम से संपत्ति में जॉइंट रजिस्ट्री, बैंक में जॉइंट अकाउंट, पासपोर्ट एवं अन्य सुविधाओं का लाभ राज्य के विवाहित नागरिको को प्राप्त होता है। राज्य सरकार द्वारा राज्य के नागरिको को Uttar Pradesh Marriage Registration के लिए आवेदन करने हेतु ऑनलाइन सुविधा प्रदान की गई है। [यह भी पढ़ें- कन्या सुमंगला योजना: Kanya Sumangala Yojana, ऑनलाइन आवेदन, न्यू लिस्ट]

Overview of UP Marriage Registration

योजना का नामयूपी विवाह पंजीकरण
आरम्भ की गईउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
वर्ष2024
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक 
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन
उद्देश्यराज्य के सभी विवाहित जोड़ों का पंजीकरण कराना
लाभराज्य के सभी विवाहित जोड़ों का पंजीकरण कराया जाएगा 
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं 
आधिकारिक वेबसाइटhttps://igrsup.gov.in

यूपी विवाह पंजीकरण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश

  • दोनों पक्षकारों का आधार कार्ड Uttar Pradesh Marriage Registration करने हेतु होना चाहिए, इसके विपरीत यदि एक पक्ष विदेशी है तो इस स्थिति में उसका पासपोर्ट होना आवश्यक है। 
  • इसके अंतर्गत आवेदन करते समय आवेदकों को आवेदन फॉर्म को हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में भरना होगा। 
  • विवाहित जोड़ों के पते का स्थान एवं तिथि को यह पंजीकरण कराने हेतु दर्ज करना भी अनिवार्य होता है। 
  • जिसका प्रमाण पत्र अपलोड किया जाना है, वही निवास का पता दर्ज किया जाना चाहिए। मोबाइल से ओटीपी बेस पर विवाहित जोड़े का आधार प्रविष्ट करने हेतु पंजीकृत होना आवश्यक है। 
  • आवेदन पत्र संख्या एवं पासवर्ड आवेदकों को आवेदन फॉर्म सुरक्षित करने के बाद प्राप्त होगा, इसे आपको भविष्य के लिए सुरक्षित रखना होगा।
  • वर वधु के अलावा यूपी विवाह पंजीकरण करने हेतु आवेदकों को दो गवाहों के पहचान, निवास, आयु प्रमाण पत्र और शपथ पत्र की फोटो कॉपी अपलोड करनी होगी।
  • इसके अतिरिक्त पंजीकरण शुल्क का भुगतान प्रपत्र पूर्ण रूप से सुरक्षित होने के बाद ऑनलाइन माध्यम से करना होगा। 
  • आपको भुगतान रसीद का प्रिंट आउट निकाल कर, पंजीयन शुल्क का भुगतान करने के बाद अपने पास सुरक्षित रख लेना है। 
  • आवेदकों का विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र ऑनलाइन भुगतान करने के बाद तैयार हो जाएगा, इसके अतिरिक्त शपथ पत्र को नोटरी के द्वारा प्रमाणित करने के बाद अपलोड किया जाना चाहिए।  

UP Marriage Registration के लाभ व विशेषताएं

  • शादी के बंधन में बनने हेतु Uttar Pradesh Marriage Registration के आधार पर विवाहित जोड़े को कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त होती है। 
  • राज्य के सभी नागरिक बैंक में जॉइंट अकाउंट तथा पासपोर्ट बनवाने हेतु और संपत्ति में जॉइंट रजिस्ट्री हेतु विवाह प्रमाण पत्र का उपयोग कर सकते है। 
  • विवाह प्रमाण पत्र का उपयोग राज्य के सभी नागरिको के द्वारा अन्य दस्तावेजों को बनाने हेतु किया जा सकता है। 
  • राज्य के नागरिकों को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा विवाह प्रमाण पत्र के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान की जा रही है। 
  • उत्तर प्रदेश के सभी नागरिको के द्वारा UP विवाह पंजीकरण घर बैठे ही ऑनलाइन माध्यम से किया जा सकता है। 
  • इसके अलावा कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त होने पर नागरिको के द्वारा पति-पत्नी होने का प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया जा सकता है। 
  • इसके साथ ही विवाह प्रमाण पत्र की सहायता से नागरिको के द्वारा विभिन्न प्रकार की सरकारी सुविधाओं का लाभ प्राप्त किया जा सकता है। 

यूपी विवाह पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज 

  • पति पत्नी का आधार कार्ड
  • शादी का कार्ड
  • शादी की एक जॉइंट फोटो
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • एड्रेस प्रूफ हेतु राशन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट आदि
  • आयु प्रमाण पत्र के लिए 10वीं की मार्कशीट या जन्म प्रमाण पत्र

UP विवाह पंजीकरण के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया 

राज्य के वह सभी नागरिक जो Uttar Pradesh Marriage Registration के लिए आवेदन करना चाहते है, उनके द्वारा निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करके इसके लिए आवेदन किया जा सकता है:- 

  • सबसे पहले आपको स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन विभाग, उत्तर प्रदेश के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है, इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
UP Marriage Registration
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको नागरिक ऑनलाइन सेवाएं के अनुभाग में से विवाह पंजीकरण के तहत आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है। 
UP Marriage Registration
UP Marriage Registration
  • अब आपके सामने आवेदन पत्र प्रदर्शित हो जाएगा, अब आपको इस फॉर्म में मांगी गई अवश्य जानकारी को ध्यानपूर्वक दर्ज कर देना है। 
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सुरक्षित करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा। 
  • आपको इस पेज पर आवेदन पत्र के साथ मांगे गए फोटो एवं दस्तावेजों को अपलोड कर देना है, सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना है। 
  • फॉर्म सबमिट होने के बाद आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर रजिस्ट्रेशन नंबर एवं पासवर्ड प्राप्त होगा। जिसे आपको अपने पास सुरक्षित रखना होगा।
  • पंजीकरण संख्या प्राप्त होने के बाद आपकी यूपी विवाह पंजीकरण करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, इस प्रक्रिया का पालन करके आप UP Marriage Registration के लिए आवेदन कर सकते है।  

यूपी विवाह पंजीकरण सत्यापन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको स्टांप एवं रजिस्ट्रेशन विभाग, उत्तर प्रदेश के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना है, इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको नागरिक ऑनलाइन सेवाएं के अनुभाग में से विवाह पंजीकरण के तहत विवाह पंजीकरण सत्यापन के विकल्प पर क्लिक कर देना है। 
UP Marriage Registration
  • इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा, अब आपको इस पेज पर मांगी गई आवश्यक जानकारी को दर्ज कर देना है। 
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको देखें के विकल्प पर क्लिक कर देना है, इसके बाद आपके सामने आपके विवाह पंजीकरण के सत्यापन का फॉर्म प्रदर्शित हो जाएगा। 
  • इस प्रक्रिया  का पालन करके आप आसानी से यूपी विवाह पंजीकरण सत्यापन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

Leave a Comment