हरियाणा जमाबंदी नकल: अपना खाता ऑनलाइन, खसरा मैप Bhulekh Haryana

हरियाणा जमाबंदी नकल | Jamabandi nakal Haryana Online | हरियाणा अपना खाता /भूमि रिकॉर्ड ऑनलाइन | jamabandi.nic.in Haryana Portal | हरियाणा अपना खाता ऑनलाइन जमाबंदी नकल और खसरा नंबर

हरियाणा अपना खाता /भूमि रिकॉर्ड ऑनलाइन , हरियाणा अपना खाता ऑनलाइन जमाबंदी नक़ल और खसरा नंबर ,Jmabnadi Nakal Haryana  Online , jmabandi.nic.in आदि की जानकारी लेने के लिए हरियाणा सरकार ने ऑनलाइन पोर्टल पारित किया है। जिसके माध्यम से आप घर बैठे आसानी से हरियाणा भूलेख की जानकारी ले सकते है। हरियाणा भूलेख पोर्टल के माध्यम से हरियाणा भूलेख लाभार्थी आसानी से अपनी भूमि की सभी जानकारी जैसे – खसरा ,खतौनी , भूमि का मैप , जमाबंदी भूलेख ले सकते है। (Janiyen kaise avedan kare Haryana Berojgari Bhatta) राज्य सरकार हरियाणा द्वारा हरियाणा भूलेख हेतु डाटा सेफ रखने के लिए एक बहुत बेहतर पहल की गयी है। चुकी हरियाणा जमाबंदी नकल को हरियाणा सरकार दुवारा कम्प्यूटरनिकृत करा दिया गया है। जिसके द्वारा भूलेख की गतिविधियों को ऑनलाइन व्यवस्थित रखा जाएगा। भूलेख को अलग-अलग जगहों पर अलग अलग नाम से जाना जाता है। भूलेख का अर्थ है – भूमि से संबंधित जानकारी का  विवरण  लिखित रूप में। [यह भी पढ़ें- पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना क्या है | ऑनलाइन आवेदन, लाभ, पात्रता एवं आवेदन फॉर्म]

हरियाणा अपना खाता /भूमि रिकॉर्ड ऑनलाइन

आपको बता दे कि पोर्टल jmabandi.nic.in के माध्यम से लाभार्थी अपनी भूमि की जानकारी ले  सकता है। ये पोर्टल राजस्व सम्पति में रिकॉर्ड -ऑफ़ -राइट्स के हिस्से के रूप में तैयार किया गया दस्तावेज़ है। इस पोर्टल पर अपना खाता पंजीकृत करा कर उसमे अपनी सभी भूलेख जानकारी को सेफ रख सकते है। इस पोर्टल के माध्यम से लाभार्थी जमाबंदी नकल अपनी जानकारी का संशोधन भी करा सकते है। इस ऑनलाइन विवरण द्वारा आप ज़मीन पर अपना मालिकाना हक जता सकते है। हरियाणा भूलेख पोर्टल दुवारा अपनी ज़मीन का ब्योरा ऑनलाइन लिया जा सकता है। इस ऑनलाइन विवरण द्वारा आप ज़मीन पर अपना मालिकाना हक जता सकते है। राज्य के इच्छुक लाभार्थी  अपनी जमीन की जानकारी लेना चाहते है। वे डिजिटलीकरण प्रक्रिया के  माध्यम से  HR Bhulekh 2021 की आधिकारिक वेबसाइट से ले सकते है। [यह भी पढ़ें- हरियाणा सक्षम योजना 2021 | Saksham Yojana Registration, ऑनलाइन आवेदन]

Haryana Land Record का उद्देश्य

जब पटवारी दुवारा एक जमाबंदी पारित की जाती है , तब राजस्व विभाग दुवारा इसे सत्यापित किया जाता है। परन्तु अब हरियाणा का  इच्छुक व्यक्ति आसानी से घर बैठे दुवारा में अपना पंजीकरण करा सकता है। जिस से माध्यम से व्यक्ति का समय तथा ऊर्जा भी नई छेय होगी। राज्य सरकार ने इस उद्देश्य के साथ ही इस पोर्टल को आंरभ किया है।  जिससे  नागरिको  को समय दर समय कार्यालय के चक्कर न लगाना पड़े। हरियाणा सरकार दुवारा पारित की गयी प्रणाली पहले से अधिक पारदर्शी है। जिसका उपयोग हम आसान चरणों दुवारा कर सकते है। सभी हरियाणा जमाबंदी नक़ल ऑनलाइन करने पर त्रुटि होने की सम्भावना बहुत कम हो गयी है। पोर्टल के दुवारा हरियाणा भूमि मैप आसानी से  देखा तथा डाउनलोड  किया जा सकता है। हरियाणा के नागरिक बिना कही जाये आसानी से घर बैठे अपनी  ज़मीन की जानकारी केवल खसरा तथा खतौनी नंबर के माध्यम से ले सकते है। [यह भी पढ़ें- (पंजीकरण) हरियाणा कन्यादान योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन, मुख्यमंत्री शादी शगुन योजना]

हरियाणा जमाबंदी नकल /अपना खाता के लाभ

  • इस पोर्टल के माध्यम से लाभार्थी अपनी भूमि का ब्यौरा ,भूमि का नक्शा , खसरा , खतौनी तथा आदि अन्य जानकारी आप मात्र एक पोर्टल से ले सकते है।
  • जमाबंदी के रिकॉर्ड के द्वारा लाभार्थी क़ानून झंझटो से बचाव किया जा सकता है। तथा किसी और द्वारा  किये गए कब्ज़ा करने वाले कब्जेदारों से बचा जा सकता है।
  • इस ऑनलाइन पोर्टल का लाभ हरियाणा के सभी लोग आसानी से उठा सकते है।
  • हरियाणा के नागरिक बिना कही जाये आसानी से घर बैठे अपनी  ज़मीन की जानकारी केवल खसरा तथा खतौनी नंबर के माध्यम से ले सकते है।
  • राज्य सरकार ने इस उद्देश्य के साथ ही इस पोर्टल को आंरभ किया है।  जिससे  नागरिको  को समय दर समय कार्यालय के चक्कर न लगाना पड़े।
  • हरियाणा सरकार दुवारा पारित की गयी प्रणाली पहले से अधिक पारदर्शी है। जिसका उपयोग हम आसान चरणों दुवारा कर सकते है।

भूमि रिकॉर्ड दस्तावेजों के प्रकार

  • म्यूटेशन रजिस्टर – म्यूटेशन का अर्थ है स्वामित्व में बदलाव म्यूटेशन रजिस्टर में खेवत ,जमाबंदी से  जुडी  जानकारी होती है। 
  • जमाबंदी – जमाबंदी रिकॉर्ड और राइट्स का एक भाग है। जमाबंदी के अंतर्गत अधिकारों का स्वमितत्व खेती और उप टु डेट राइट्स ऑफ़ लैंड से संबंधित जानकारी।
  • खसरा गिरदावरी – इस का मतलब एक फसल निरीक्षण रजिस्टर होता है। खसरा गिरदावरी में पटवारी अक्टूबर से ले कर मार्च तक की फसल का कटाई डाटा होता है। इसके साथ ही मिट्टी का वर्गीकरण , खेती करने तथा खेती का निरिक्षण करने वाले की क्षमता की जानकारी दर्ज होती है। 

हरियाणा बेरोजगारी भत्ता योजना 2021

  • शाजरा नसब –  इस शाजरा नसब में समय – समय  भूमि के स्वमितत्व में  होने वाले उत्तराधिकारो की जानकारी होती है। 
  • लाथा – इस लाथा को हम शाजरा नाम से भी  जानते है।  पटवारी एक लट्ठे नामक कपड़े पर शजरा की एक कॉपी रखता है। लाथा में सर्वेक्षण तथा छेत्र  का आयाम होता है।
  • रोजनामचा waqiati – यह एक पटवारी द्वारा लिखने वाली  दैनिक  कार्यकारी निर्देशों के तहत रखी गयी डायरी  होती है। 
  • लाल किताब – इस लाल किताब में जमीन से सम्बंधित सभी जानकारी होती है। जैसे- फसलों के निचे का छेत्र , मिट्टी का वर्गीकरण , भूमि का उपयोग , भूमि का रूपांतरण आदि।
  • रेनफॉल रजिस्टर – इस रजिस्टर में छेत्र से संबंधित वर्षा की जानकारी होती है। 
  • करंट प्राइस रजिस्टर – इस करंट प्राइस रजिस्टर में फसलों से उत्पन्न खाद्य पदार्थो की कीमत लिखी जाती है।
  • शजरा किश्तवाड़ – ये गांव का वो मैप होता है जिसके साथ खसरा नंबर भी होते है। जिसमे सारे खेतो का विवरण होते है। 
  • मुंतखिब असमिविर – इसमें  सारे खेतो का विवरण होते है।इसके साथ किराये दके माध्यम से कितनी राशि ले या दी जा रही है।

हरियाणा जमाबंदी नकल | अपना खाता ऑनलाइन कैसे देखे ?

राज्य के जो इच्छुक आवेदक है वो नीचे  दिए गए आसान चरणों का पालन करते हुए आवेदन कर सकते है।

  • सबसे पहले हरियाणा जमाबंदी नकल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जाएगा।
हरियाणा जमाबंदी नकल
  • इस वेबसाइट के होमपेज पर आपको Jmabandi Nakal का ऑप्शन मिलेगा। जिस पर क्लिक करना होगा क्लिक करने के बाद नया पेज मिलेगा। 
Haryana Land Record का उद्देश्य
  • अगले पेज पर आपको के विकल्प by owner पर क्लिक करना होगा। इसी प्रकार आप बाकि ऑप्शन जैसे – by khasra /survey number , by date of mutation , by khewat आपके पास जो जानकारी आसानी से उपलब्ध हो सकती है उस ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • अगले पेज पर आपको के विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसी प्रकार आप बाकि ऑप्शन जैसे -आपके पास जो जानकारी आसानी से उपलब्ध हो सकती है उस ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • उसके बाद बाकि पहुंची गयी जानकरी जैसे – तहसील , जिला आदि की जानकारी भर देनी होगी। 
  • इसके बाद कुछ और जानकारी दिखाई जायगी वहां आपको select malik पर क्लिक करना है।  क्लिक करने के बाद आपसे कुछ जानकारी ली जायगी जैसे  ‘कि आपकी भूमि किसके नाम पर है ‘यदि आप निजी पर क्लिक करते है तो आपसे पूछा जायगा कि ‘वे किसके नाम नाम पर है ‘पर क्लिक कर देना।
  • इसके बाद आपके सामने आपकी भूमि की सभी जानकारी आ जायगी। जिसकी आप कॉपी भी ले सकते है।

Leave a Comment