(रजिस्ट्रेशन) किसान रेल योजना 2021: Kisan Rail Yojana, ऑनलाइन बुकिंग, ट्रैन लिस्ट

Kisan Rail Yojana 2021 Online Booking | किसान रेल योजना ऑनलाइन बुकिंग | किसान रेल योजना ट्रैन लिस्ट | Kisan Rail Yojana Registration Form | किसान रेल योजना रजिस्ट्रेशन

केंद्र सरकार द्वारा फरवरी में पेश होने वाले बजट में ही Kisan Rail Yojana 2021 शुरुआत कर दी गई थी। केंद्र सरकार और भारतीय रेलवे के द्वारा देश के किसानो को लाभ देने के लिए इस योजना को 7 अगस्त 2020 को आरम्भ कर दिया गया है। इस योजना के तहत किसानो के लिए रेलगाड़िया चलवाई जाएगी। जो फल या सब्जी अन्य कृषि उत्पाद जल्द ही बेकार हो जाते हैं उनको किसान रेल के द्वारा उनके गंतव्य जगह अथवा मंडियों तक भेजा जायेगा। जिससे फलो और सब्जियों को बेकार होने से बचाया जा सके। तो दोस्तों चलिए आज हम आपको अपने इस लेख के अंतगर्त किसान रेल योजना से जुड़ी सभी जानकारी जैसे की ट्रैन लिस्ट, ऑनलाइन बुकिंग,रजिस्ट्रेशन आदि आपके साथ साझा कर रहे है आप हमारे इस लेख को ध्यान से पूरा पढ़े और इस योजना का लाभ ले। [यह भी पढ़ें- प्रधानमंत्री मुद्रा योजना 2021: ऑनलाइन फॉर्म | Mudra Loan Yojana Registration]

Kisan Rail Yojana 2021

किसान रेल योजना 2021 के तहत भारतीय रेलवे ने 7 अगस्त को पहली ट्रैन शुरू की है। रेलवे ने बृहस्पतिवार को बोला कि ऐसी पहली रेलगाड़ी महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर के बीच चल रही है।यह रेलगाड़ी सुबह 11 बजे महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से निकलकर  और बिहार के दानापुर स्टेशन तक जाएगी। महाराष्ट्र के देवलाली और बिहार के दानापुर इन दोनो स्टेशनों में लगभग 1519 किमी का सफर करीब 32 घंटे का होगा।.इस सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) योजना के अंतगर्त  किसान रेलगाड़ी में शीत भंडारण के साथ किसान उपज के परिवहन की व्यवस्था भी रहेगी। जिससे किसानो का बहुत फायदा रहेगा। केंद्र सरकार ने किसानो के लिए बहुत अच्छा किया है। देश के जो भी नागरिक किसान रेल योजना 2021 का लाभ लेना चाहते है तो उन्हें Kisan Rail Yojana 2021 ऑनलाइन बुकिंग करने के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। [यह भी पढ़ें- (PMJAY) आयुष्मान भारत योजना 2021: Ayushman Bharat Yojana ऑनलाइन आवेदन]

किसान रेल योजना

PM Modi Yojana 2021

Kisan Rail Scheme 2021 Overview

योजना का नामकिसान रेल योजना
इनके द्वारा शुरू की गयीकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के किसान भाई
उद्देश्यकिसानो को फसलों को मंडी तक पहुंचाने के लिए ट्रैन की सुविधा प्रदान करना

किसान रेल योजना 100वी किसान रेल रवाना हुई

  • 7 अगस्त 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा Kisan Rail Yojana को शुरू किया गया था। इस योजना के तहत किसानों की फसलों को दूसरे राज्य की मंडी तक पहुंचाने के लिए रेलगाड़ी की सुविधा दी जा रही है। 28 दिसंबर 2020 को इस योजना के तहत 100वी रेल पश्चिम बंगाल के शालीमार के लिए महाराष्ट्र के संगोला से रवाना हुई। इस रेल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा हरी झंडी दिखाई गई। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल द्वारा ट्वीट कर दिया गया कि इस योजना के तहत किसानों की आय में वृद्धि होगी और खेती से जुड़ी अर्थव्यवस्था में बहुत परिवर्तन  आएगा।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2021

  • प्रधानमंत्री जी द्वारा किसान रेल को हरी झंडी दिखाते हुए सारे किसानों को शुभकामनाये दी गई।
  • किसान रेल योजना खेती के लिए पूरी तरह से समर्पित है। इस रेल के द्वारा पश्चिम बंगाल के किसानों, मछुआरों ,की पहुंच मुंबई, पुणे, नागपुर जैसे बड़े बड़े शहेरो तक जायगी। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि हमारे देश में भंडारण और कोल्ड स्टोरेज की कमी से किसानों को काफी नुकसान हुआ है। भंडारण और सप्लाई चैन के आधुनिकरण पर सरकार द्वारा काम किया जा रहा है और सरकार ने इस पर निवेश भी करा है।
  • अब इस योजना के तहत हमारे देश के किसान और राज्य में भी अपनी फसल भेज सकेंगे। जिससे किसानो की आय में बढ़ोतरी होगी। इस सहायता के तहत देश की सप्लाई चैन में भी वृद्धि होगी। किसान रेल एक कोल्ड स्टोरेज का भी काम कर रही है। इस ट्रैन में कोई भी जल्द बेकार होने वाला सामान भी ठीक रहेगा।

किसान रेल योजना 2021 का उद्देश्य

जैसे की हम सभी जानते है कि हमारे भारत देश में कोरोना वायरस बीमारी बहुत ज्यादा बढ़ती जा रही है जिसके कारण देश के सभी लाभारती को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है और ज्यादातर देश के किसानो को अपनी फसल को बाहर बेचने में बहुत दिकत हो रही है किसान टाइम से अपने फसलों को मंडी तक नहीं भेज पा रहे है इस सभी परेशानियों को देखते हुए केंद्र सरकार ने Kisan Rail Yojana 2021 शुरू किया है। इस रेल के द्वारा किसान अपने फलो,व सब्जी आदि को टाइम से सुरक्षित मंडी तक भेज सकते है। इस योजना के तहत  किसानों को उनकी फसल का ठीक फायदा मिल सके। जिससे किसानो की आय में वृद्धि होगी। इस तरह वह इन लॉक डाउन के समय भी  अपना ठीक से जीवन जी सकेंगे। [यह भी पढ़ें- किसान सम्मान निधि लिस्ट 2021-22 | pmkisan.gov.in 9th List, PM Kisan Status]

Kisan Rail Scheme

प्रधान मंत्री की अन्य सरकारी योजनाएँ :-

Kisan Train Scheme 2021 के मुख्य तथ्य

  • किसान रेल योजना के अंतगर्त किसानो की फसलों जैसे सब्जिया, फल, आनाज आदि को टाइम से सुरक्षित रेल के द्वारा मंडी ,बाजार तक भेज सकते है।
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस वर्ष फरवरी में पेश बजट में जल्द बेकार होने वाले सब्जियों व फल जैसे उत्पादों के मालवहन के लिए ‘किसान रेल’ शुरू की गयी है।
  • किसान रेल एक तरह की स्पेशल पार्सन ट्रेन होगी जिसमे अनाज, फल और सब्जियों को लाने ले जाने के लिए काम में आ सकेगी।
  • केंद्र सरकार ने साल 2022  तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य रखा है।
  • शीत भंडारण के साथ किसान उपज के परिवहन की भी ठीक व्यवस्था करी जाएगी।
  • पहली किसान रेल रूट पर पड़ने वाले चार राज्यों महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार को इस किसान रेल का फायदा होगा।

किसान रेल का प्रति टन किराया

  • खंडवा से दानापुर- Rs 3148/- प्रति टन
  • बुरहानपुर से दानापुर- Rs 3323/- प्रति टन
  • भुसावल से दानापुर-  Rs 3459/- प्रति टन
  • जलगांव से दानापुर-  Rs 3513/- प्रति टन
  • मनमाड से दानापुर- Rs 3849/- प्रति टन
  • नासिक रोड से दानापुर- Rs 4001/- प्रति टन
  • देवलाली से दानापुर- Rs 4001/- प्रति टन

किसान रेल योजना 2021 ऑनलाइन बुकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करे ?

देश के सभी नागरिक किसान इस किसान रेल योजना 2021 का लाभ लेना चाहते है तो उन सभी किसानो को कुछ समय का इंतज़ार करना होगा। क्योकि अभी Kisan Rail Yojana 2021 के तहत किसान रेल बुकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन की कुछ भी जानकारी अब तक उपलब्ध नहीं है। इस योजना के अंतगर्त जैसे की ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया को ऑनलाइन आरम्भ कर दिया जायेगा । और जैसे ही रेल सूचि को जारी किया जायेगा तो दोस्तों हम आपको अपने इस आर्टिकल के तहत बता देंगे उसके बाद आप किसान रेल के लिए ऑनलाइन आवेदन करके रेल की बुकिंग करवा सकते है। और इस योजना का लाभ ले सकते है।इस योजना से जुडी सभी जानकारी जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक कर सकते है। [यह भी पढ़ें- उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन (PLI Yojana), पात्रता व लाभ]

Leave a Comment