किसान सूर्योदय योजना: ऑनलाइन आवेदन, Gujarat Kisan Suryoday Yojana लाभ

किसान सूर्योदय योजना 2021 | Kisan Suryoday Yojana | किसान सूर्योदय योजना ऑनलाइन आवेदन | Gujarat Kisan Suryoday Yojana Application Form | गुजरात किसान सूर्योदय योजना लाभ व पात्रता

गुजरात में हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किसानो के लिए बिजली और पानी देने के लिए किसान सूर्योदय योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत भारत के किसानो को सिंचाई के लिए सुबह 5 बजे से रात 9 बजे तक बिजली तथा पानी दिया जायगा। इस लेख में हम आपको Gujarat Kisan Suryoday Yojana से जुडी सम्पूर्ण जानकारी देने वाले है। यदि आप इस योजना में आवेदन करना चाहते है तब इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े। आर्टिकल में बताया जायगा कि गुजरात किसान सूर्योदय स्कीम  का आवेदन कहा से तथा कैसे करे ? उद्देश्य क्या है?, लाभ क्या -क्या मिलेंगे। आदि, की जानकारी दी जायगी।

Kisan Suryoday Yojana 2021

किसानों को सिंचाई हेतु समय पर पानी न मिलने के कारण बहुत सी समस्याओ का सामना करना पड़ता था। किसान सूर्योदय योजना के माध्यम से सभी समस्याओ का निवारण किया जायगा। इसके साथ ही तीन फेस बिजली दी जायगी , जिसका उपयोग कर आसानी से पुरे दिन सिचाई की जा सकती है ,ये लाभ केवल आपको पीएम किसान सूर्योदय योजना के दुवारा ही मिल पाएगा। समय पर पानी तथा सिचाई करने पर फसल में भी बहुत अधिक लाभ प्राप्त होगा। योजना का विस्तार आने वाले 3 वर्षो में गुजरात के पुरे राज्य में तीन गुना कर दिया जायगा।

सूर्योदय योजना

Gujarat Deendayal Clinics Scheme

गुजरात किसान सूर्योदय योजना का उद्देश्य

गुजरात की जलवायु अधिक गर्म होने के कारण की उपज में कमी होने के साथ साथ- साथ फसलों के नष्ट होने का भी खतरा होता है। इस पर समय के साथ – साथ सिंचाई तथा पानी न मिलने के कारण फसलों का और अधिक आभाव हो जाता है। किन्तु ये कमी तो मानव दुवारा पूरी की जा सकती है इसलिए ही सरकार ने गुजरात किसान सूर्योदय 2021 की शुरुआत की है जिसके माध्यम से सुबह 5 बजे से रात 9 बजे तक बिजली मिलेगी। बिजली के दुवारा पंप चलाकर किसान आवश्यकतानुसार समय दर समय सिचाई हेतु पानी का इंतज़ाम कर सकता है। योजना में आवेदन कर लाभ ले तथा फसलों में होने वाले आभाव को पूरा कर आय में बढोत्तरी करे। गुजरात  किसान की आय में बढ़ोतरी करना ही इस योजना का मूल उद्देश्य है।  

पीएम दुवारा अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन

सूर्योदय किसान योजना के साथ साथ प्रधानमंत्री जी ने अन्य कई योजनाओं का उद्घाटन किया है। जिनकी जानकारी हम आपको विस्तार पूर्वक दे रहे है ,जो निम्लिखित इस प्रकार है –

80 फीसद घरों में नल से जल

कुछ वर्ष पहले गुजरात के 50 % से अधिक घरो में नल नहीं थे। जल लेने  लिए गुजरात के नागरिको को तरह -तरह की समस्याओ का सामना करना पड़ता था। जिन सबको ध्यान रखते हुए हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किसानो के  हित में पानी की कमी पूरी करने के साथ – साथ को भी शुरू किया है। गुजरात में अब तक 80 % घरो तक जल हेतु नल लगा दिए गए है। बहुत जल्द ये प्रतिशत दर 80 से बढ़कर 100 हो जायगी अर्थात बहुत जल्द गुजरात के हर घर में पाइप दुवारा जल मिलेगा।

सौर ऊर्जा के लिए व्यापक नीति

बिजली की बचत का ध्यान रखते हुए भी प्रधानमंत्री जी ने गुजरात को भारत का पहला वन वन ,वन वर्ल्ड, वन ग्रिड का पहला राज्य बनाया है। इस सम्मान के साथ साथ ही योजना के माध्यम से गुजरात के नागरिको ने सोलर प्लांट का उपयोग सीख ऊर्जा की बचत की है। योजना के तहत कई सोलर प्लांट गुजरात राज्य के घर घर पहुचाये गए है साथ ही कई सरकारी विभागों को भी इस योजना का लाभ दिया है।

गुजरात की भक्ति शक्ति और स्वास्थ्य के प्रतीक

गुजरात की भक्ति शक्ति और स्वास्थ्य के प्रतीक  इसलिए कहा गया है, क्योंकि कुछ योजनाओं के माध्यम से गुजरात की शक्ति को भक्ति को तथा स्वास्थ्य के प्रतीक को योजनाओ के माध्यम से बढ़ाया गया है। भारत में यूएन मेहता इंस्टिट्यूट ऑफ़ कार्डियोलॉजी एंड रिसर्च सेंटर के साथ बाल चिकित्सा अस्पतालों का उद्घाटन भी किया गया है। जैसे -प्रधानमंत्री जी के दुवारा चलाई गयी के किसान सूर्योदय योजना  दुवारा शक्ति, पीडियाट्रिक हार्ट अस्पताल के माध्यम से स्वास्थ्य के प्रीतिक को तथा गिरनार रोप वे योजना के माध्यम से बढ़ावा दिया गया है।

One Nation One Gas Grid Registration Form

पीडियाट्रिक हार्ट अस्पताल

भारत में यूएन मेहता इंस्टिट्यूट ऑफ़ कार्डियोलॉजी एंड रिसर्च सेंटर के साथ बाल चिकित्सा अस्पतालों का उद्घाटन भी किया गया है। जो दुनिया के सबसे बड़े एकल सुपर स्पेशिलिटी कार्डियोलॉजिस्ट अस्पतालों में से होगा। इस परियोजना के विस्तार को प्रधानमंत्री जी ने बढ़ा दिया है ,तथा योजना को चलित करने हेतु 470  करोड़ का बजट निर्धारित किया है। इन अस्पतालों में बेड की संख्या 450 से बढ़ाकर 1251 कर दी गयी है। योजना के दुवारा बनाये गए अस्पतालों में आने वाला खर्च बहुत कम होगा।

गिरनार रोप वे का किया उद्घाटन

इस परियोजना संचालन योजना कई वर्ष पहले की गयी थी ,योजना शत -प्रतिशत रूप से पूरी हो गयी है। योजना को पूरा करने के लिए 130 करोड़ का खर्च आया है। शुरुआत में बनाये गए कैबिन में 8 लोगो की कैपेसिटी होगी। कम से कम 2. 3 मीटर की दूरी तय  करने में योजना के माध्यम से बनाये गए रोप -वे की सहायता से केवल 7. 5 मिनट का समय लगेगा।

गुजरात किसान सूर्योदय योजना के प्रमुख तथ्य

  • गुजरात किसान सूर्योदय को शुरू कर विस्तार करने के लिए केंद्र सरकार ने 3 ,500 करोड़ का बजट पारित किया है। 
  • इस किसान सूर्योदय योजना के साथ – साथ अन्य तीन परियोजनाओं की शुरुआत की है। जिनको का गुजरात की भक्ति शक्ति और स्वास्थ्य के प्रतीक  नाम दिया गया है।
  • किसान सूर्योदय योजना के माध्यम से ही अगले 3 वर्षो में साढ़े तीन हज़ार किलोमीटर लम्बा सर्किट ट्रांसमिशन लाइन बिछाने का काम किया जायगा।
  • प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किसानो के लिए बिजली और पानी देने के लिए किसान सूर्योदय योजना की शुरुआत की है।

Benefits Of Gujarat Kisan Suryoday Yojana 

  • सरकार ने गुजरात किसान सूर्योदय 2021 की शुरुआत की है जिसके माध्यम से सुबह 5 बजे से रात 9 बजे तक बिजली मिलेगी।
  • PM Kisan Suryoday Yojana का लाभ केवल गुजरात का स्थायी निवासी ही ले सकता है।

One Nation One Mobility Card

  • इस योजना का विस्तार आने वाले 3 वर्षो में गुजरात के पुरे राज्य में तीन गुना कर दिया जायगा।
  • Gujarat Kisan Suryoday Yojana के तहत किसानो को सौर ऊर्जा की तकनीक से परिचित किया जायगा।

महत्वपूर्ण दस्तावेज़ 

यदि आप भी इस में आवेदन करना चाहते है, तब आपके पास नीचे लिखे हुए डाक्यूमेंट्स होने चाहिए यदि आपके पास इनमे से कोई एक डॉक्यूमेंट भी नहीं है तब आप इस योजना का लाभ नहीं उठा है।

  • आधार कार्ड 
  • पासपोर्ट साइज फोटो 
  • मोबाइल नंबर 
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • भूमि की खसरा खतौनी

किसान सूर्योदय योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

यदि आप भारत में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी दुवारा चलित योजना तथा परियोजनाओं का लाभ लेने के लिए आवेदन करना चाहते है। तब इस योजना में आवेदन हेतु कोई भी जानकारी नहीं दी गयी है। केंद्र इस संबंध में दी गयी कोई भी जानकारी गलत है। भारत सरकार के माधयम से योजना में ऑनलाइन या ऑफलाइन या अन्य किसी भी प्रकार से आवेदन करने की कोई ऑफिशियली जानकारी नहीं दी गयी है। इस प्रकार का किसी भी योजना में पंजीकरण ना कराये। चुकी इस प्रकार की फैलाई गयी सभी अफ्फाह है, जिनमे किसी भी प्रकार की सच्चाई नहीं है। सरकार द्वारा भविष्य में योजना हेतु कोई भी जानकारी मिलने पर हम इस लेख के माध्यम से आप तक पहुंचा देंगे।

Leave a Comment