(पंजीकरण) यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता और लाभ

UP COVID Emergency Funding Scheme Apply | यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना पंजीकरण करे, पात्रता जाने – कोविड-19 महामारी के प्रकोप को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार की एक कैबिनेट बैठक में UP COVID Emergency Financing Scheme को स्वीकार कर लिया गया है। देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के कारण केंद्र सरकार ने सभी राज्य सरकारों को अपने राज्य के नागरिकों की सहायता हेतु निश्चित कदम उठाने के निर्देश दिए थे। इसी दिशा में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना 2024 का आरम्भ किया गया है, जिसके अंतर्गत संक्रमण से जूझ रहे लोगों तक आवश्यक मेडिकल उपकरणों को पहुँचाने हेतु इन मेडिकल उपकरणों की नई इकाइयों को स्थापित किया जाएगा। [यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश शासनादेश: UP Shasanadesh ऑनलाइन देखें और डाउनलोड करे]

यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना 2024

योगी सरकार ने प्रदेश में कोविड के बेहतर इलाज में ऑक्सीजन एवं अन्य मेडिकल उपकरणों की कमी को पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना को मंजूरी दी है। यह योजना प्रदेश में कोविड के इलाज हेतु ऑक्सीजन एवं अन्य मेडिकल उपकरणों की कमी को पूरा करने के लिए राज्य सरकार द्वारा किया गया एक प्रयास है। इस योजना के तहत सरकार कोविड के इलाज से संबंधित जरूरी मेडिकल सामग्री के निर्माण की चालू इकाइयों के क्षमता विस्तार एवं निकाय की स्थापना के लिए लागत का 25 फ़ीसदी तक अधिकतम 10 करोड़ रुपए तक की सब्सिडी प्रदान करेगी। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के चलते UP Covid Emergency Funding Scheme तत्कालिक आवश्यकता की पूर्ति के लिए सहायता उपलब्ध करेगी। इसके साथ ही राज्य सरकार द्वारा अधिसूचना जारी होने के पश्चात यह योजना 1 वर्ष तक प्रभावी रहेगी। [यह भी पढ़ें- UP Kisan Karj Rahat Lis: उत्तर प्रदेश कर्ज माफ़ी लिस्ट, ऋण मोचन योजना सूची]

यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना

पीएम मोदी योजनाएं

Overview of UP COVID Emergency Financing Scheme

योजना का नामयूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना
आरम्भ की गईयोगी सरकार द्वारा
वर्ष2024
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के नागरिक
आवेदन की प्रक्रियाऑफलाइन
उद्देश्यतात्कालिक आवश्यक्ताओं की पूर्ति
लाभऑक्सीजन तथा अन्य मेडिकल उपकरणों की कमी को पूरा करना
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइटhttps://rahat.up.nic.in/upcovidcarefund.ASPX

उत्तर प्रदेश कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्य नाथ जी द्वारा शुरू की गयी यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना का मुख्य उद्देश्य कोविड-19 के उपचार में तात्कालिक आवश्यक्ताओं की पूर्ति करना है। इस योजना के अंतर्गत ऑक्सीजन तथा अन्य मेडिकल उपकरणों की कमी को पूरा करने के लिए इन मेडिकल उपकरणों की नई इकाइयों की स्थापना की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत प्लांट, मशीनरी, उपकरण आदि में पूंजी निवेश की न्यूनतम सीमा 20 लाख रुपए निर्धारित की गई है। राज्य सरकार की इस योजना के तहत पात्र इकाइयों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए रिवीलिंग फंड बनाए जायेंगे। इन इकाइयों को सभी एनओसी 72 घंटे के अंदर प्रदान कर दी जाएगी तथा सरकार फास्ट्रेक मोड पर केंद्र अधिनियम के तहत आपूर्तियाँ दिलाएगी। [यह भी पढ़ें- e Sadhana AP & TG: NHTS Data Entry Status, Report Download]

इसके साथ ही पात्र UP Covid Emergency Funding Scheme के तहत इकाई को प्लांट, मशीनरी, इक्विपमेंट आदि की स्थापना के लागत का 25% वित्तीय सहायता पूंजी उत्पादन राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। यह वित्तीय सहायता पूंजी उत्पादन अर्थात कैपिटल सब्सिडी 10 करोड़ रुपए से अधिक प्रदान नहीं की जाएगी। इसके अलावा राज्य सरकार द्वारा सीजीएसटी, एमएसजी के लिए दी गई फीस की प्रतिपूर्ति भी की जाएगी। [यह भी पढ़ें- यूपी मिशन रोजगार | ऑनलाइन आवेदन, UP Mission Rojgar रजिस्ट्रेशन]

UP Covid Emergency Funding Scheme के लाभ

  • यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना का शुभारंभ उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा किया गया है, जिसके अंतर्गत प्रदेश में कोरोना संक्रमण के उपचार हेतु तात्कालिक आवश्यक्ताओं की पूर्ति की जाती है।
  • इस योजना के सफल कार्यान्वयन से महामारी के इस मुश्किल समय में मेडिकल उपकरणों की नई इकाइयों को स्थापित करने में मदद मिलेगी।
  • राज्य सरकार की इस योजना के माध्यम से कोवीड-19 महामारी के उपचार प्रयोग होने वाले ऑक्सीजन तथा अन्य मेडिकल उपकरणों की कमी को पूरा किया जाता है।
  • इसके साथ ही इस योजना के माध्यम से महामारी के बढ़ते स्तर के कारण होने वाली मृत्यु की दर में भी गिरावट आएगी।
  • योगी सरकार द्वारा शुरू की गयी UP COVID Emergency Financing Scheme के तहत प्रदेश के नागरिकों को रोजगार के अवसर भी जायेंगे।
  • उत्तर प्रदेश के ऐसे नागरिक जिन्होंने कोरोना संक्रमण की वजह से अपने रोजगार खों दिए हैं, उनमें से कुछ नागरिक इस योजना के तहत चल रही इकाइयों में रोजगार प्राप्त कर सकेंगे।

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना

यूपी कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना हेतु आवेदन प्रक्रिया

यदि आप भी उत्तर प्रदेश राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई UP Covid Emergency Funding Scheme का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी भी शेड्यूल्ड कमर्शियल बैंक एवं सीडीपी में जाकर आवेदन करना होगा। आपके आवेदन से संबंधित सभी फैसले मुख्य सचिव एमएसएमई निर्यात प्रोत्साहन विभाग की अध्यक्षता में शासन स्तर पर गठित कमेटी द्वारा लिए जाएंगे। [यह भी पढ़ें- (edistrict.up.nic.in) ई डिस्ट्रिक्ट यूपी: UP e District आय/जाति/निवास सर्टिफिकेट]

Conclusion

उत्तर प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण के समय में मेडिकल उपकरणों की नई इकाइयों को स्थापित करने के लिए कोविड इमरजेंसी वित्त पोषण योजना के तहत अनुदान देगी। आप भी इस योजना के तहत आवेदन करके कोरोना संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में अपना योगदान दे सकते हैं।

Leave a Comment